ताज़ा खबर
 

बनिहाल में SSB पार्टी पर हमले में शामिल तीसरा आतंकी गिरफ्तार, पूरे मॉड्यूल का सफाया

जम्मू कश्मीर के बनिहाल में एसएसबी दल पर पिछले हफ्ते हुए जानलेवा आतंकी हमले में शामिल तीसरे आतंकी को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
Author बनिहाल/जम्मू | September 25, 2017 16:52 pm
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

जम्मू कश्मीर के बनिहाल में एसएसबी दल पर पिछले हफ्ते हुए जानलेवा आतंकी हमले में शामिल तीसरे आतंकी को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने कहा कि इस गिरफ्तारी के साथ ही रामबन जिले में एसएसबी दल पर हुए हमले के तीन सदस्यीय आतंकी मॉड्यूल का सफाया हो गया है।  22 सितंबर को घातक आतंकी हमले में शामिल मॉड्यूल के दो आतंकवादियों को गिरफ्तार किया गया था। रामबन के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) मोहन लाल ने आज बताया, ‘‘हमने हमले में शामिल तीसरे आतंकी को कल गिरफ्तार कर लिया और एक पिस्तौल जब्त की है।’’ उन्होंने कहा कि गिरफ्तार किए गए आतंकी की पहचान आकीब वाहिद के तौर पर हुई है। वह अनंतनाग के डिग्री कॉलेज में बीएससी का छात्र है।

शुरुआती पूछताछ में आतंकी ने पुलिस को बताया कि दक्षिण कश्मीर के ओवर ग्राउंड वर्कर (ओजीडब्ल्यू) ने उसे पिस्तौल दी थी और अन्य के साथ मिलकर एक मॉड्यूल बनाने का काम सौंपा था। पुलिस इस ओजीडब्ल्यू का पता लगाने में जुट गई है जिसका संपर्क दक्षिण कश्मीर में आतंकी समूहों से है। 22 सितंबर को पुलिस ने हमले के बाबत गफ्फार और आरिफ को गिरफ्तार किया था। एसएसपी ने कहा, ‘‘पुलिस ने उन्हें हमले के 24 घंटे के अंदर बनिहाल में व्यापक खोज अभियान के दौरान गिरफ्तार कर लिया था। उन्होंने कहा कि उनके कब्जे से एक एके 47 राइफल और एक इनसास राइफल बरामद की गई थी। हमले के दौरान आतंकवादियों ने पुलिसर्किमयों की र्सिवस राइफल छीन ली थीं।

20 सितंबर को तीनों ने बनिहाल में एक निर्माणाधीन रेलवे सुरंग के पास एसएसबी दल पर हमला किया था। हमले में एसएसबी के एक जवान की मौत हो गई थी जबकि अन्य जख्मी हो गया था। अधिकारियों ने कहा कि गजÞनफार, आरिफ और आकीब की भर्ती चेनाब घाटी क्षेत्र में आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए की गई थी। एसएसपी ने कहा कि पुलिस ने एक आतंकी मॉड्यूल को खत्म कर दिया जो जम्मू क्षेत्र में आतंकवाद को और फैलाने की कोशिश में था और एसएसबी जवान की हत्या में शामिल तीन हमलावरों को गिरफ्तार कर लिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.