ताज़ा खबर
 

‘शादी के लिए तो उसे रिहा कर दो’ कश्मीरी युवक के ससुर ने अखबारों के जरिए लगाई गुहार, निकाहनामा लेकर भटक रहे

Jammu Kashmir: भट ने कहा, 'अगर दामाद को सिर्फ कुछ दिनों के लिए छोड़ दिया जाता है तो उनकी बेटी की शादी हो जाएगी और वह अपने ससुराल चली जाएगी। उसके बाद यदि उसे गिरफ्तार भी कर लिया जाए तो उनकी बेटी तनवीर के पैरेंट्स की देखभाल कर लेगी।'

प्रतीकात्मक तस्वीर (इंडियन एक्सप्रेस)

अपनी बेटी का निकाहनामा हाथ में लेकर दर-दर भटक रहे नजीर अहमद भट अधिकारियों से गुजारिश कर रहे हैं कि उसके शादी समारोह के लिए दामाद को छोड़ दिया जाए। उत्तरी कश्मीर के बारामूला स्थित रफियाबाद इलाके के रहने वाले भट श्रीनगर जाने के लिए निकले थे लेकिन एक रिश्तेदार ने उनसे कहा कि उन्हें अखबार के जरिये अपील करनी चाहिए। न्यूज-18 की रिपोर्ट के मुताबिक भट की बेटी की शादी 8 सितंबर को होनी थी, इस्लामिक परंपराओं के मुताबिक निकाहनामा (मैरिज सर्टिफिकेट) भी बन चुका था। परिवार शादी की तैयारियों में लगा था लेकिन उनका उत्साह ऐन मौके पर खत्म हो गया।

4 दिन बाद मिली दामाद की गिरफ्तारी की खबरः दरअसल भट के दामाद तनवीर अहमद बिजनेस ग्रैजुएट और गांव का सरपंच है। अगस्त में मोदी सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर पर लिए गए फैसले के दूसरे दिन तनवीर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। रिश्तेदारों का कहना है कि घाटी के अन्य राजनेताओं और अलगाववादियों की तरह उसे भी हिरासत में ले लिया गया। प्रशासन का कहना है कि शांति व्यवस्था बनाए रखने के मद्देनजर इन नेताओं को हिरासत में लिया गया। तनवीर की गिरफ्तारी के बारे में भट को करीब 4 दिन बाद पता चला। उसे लखनऊ जेल में शिफ्ट कर दिया गया।

‘ससुर बोले- शादी के बाद भले गिरफ्तार हो जाए’: मकबूल आबाद गांव के रहने वाले तनवीर अपने पैरेंट्स का इकलौता बेटा है। भट ने तनवीर को उसकी शादी के लिए छोड़ने की अपील की है। भट की लाचारी को उनके बयान से समझा जा सकता है। उन्होंने कहा, ‘अगर उसे सिर्फ कुछ दिनों के लिए छोड़ दिया जाता है तो उनकी बेटी की शादी हो जाएगी और वह अपने ससुराल चली जाएगी। उसके बाद यदि उसे गिरफ्तार भी कर लिया जाए तो उनकी बेटी तनवीर के पैरेंट्स की देखभाल कर लेगी।’

National Hindi Khabar, 18 September 2019 LIVE News Updates: देश-दुनिया की तमाम अहम खबरों के लिए क्लिक करें

पति-पत्नी घोषित करने के लिए रस्म जरूरीः भट की बेटी सुराया नजीर कथित तौर पर तनवीर की पत्नी है लेकिन परिजनों के मुताबिक रीति-रिवाजों के मुताबिक दोनों को विवाहित घोषित करने के लिए शादी समारोह होना जरूरी है। भट का कहना है कि शादी के लिए निर्धारित तारीख पहले ही बीत चुकी है ऐसे में उन्हें कोई उम्मीद नजर नहीं आ रही थी। कई पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के पास वो पहले ही जा चुके हैं। उनका कहना है कि इस शादी की तैयारियों में वो अपनी सारी जमा पूंजी खत्म कर चुके हैं। जो बचा था वो जेल में उससे मिलने में खत्म हो गया। भट का कहना है उन्हें यह भी नहीं पता कि उनके दामाद को पब्लिक सेफ्टी एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया है या यह सिर्फ प्रिवेंटिव कस्टडी है।

Next Stories
1 अमित शाह की ‘एक देश, एक भाषा’ का Rajinikanth ने जताया विरोध, कहा- कोई स्वीकार नहीं करेगा थोपी गई हिंदी
2 खाद्य मंत्री रामविलास पासवान को खान मार्केट के दुकानदार ने बेचे मोम चढ़े सेब, हरकत में एजेंसियां
3 बड़े सिर के चलते नहीं मिल रहा सही साइज का हेलमेट, गुजरात के इस शख्स की समस्या से पुलिस भी बेबस, नहीं वसूल पाई जुर्माना
Ramayan Live:
X