ताज़ा खबर
 

जम्मू-कश्मीर: बडगाम जिले में आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़, दो लोगों की मौत, 17 घायल

मध्य कश्मीर के बडगाम जिले के चदूरा इलाके में आज आतंकवादियों एवं सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई।

Author Updated: July 12, 2017 12:42 PM
jammu and kashmir, local public threw stone on army, commander of lashkar e taiba escape, indian army, terrorist,तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

मध्य कश्मीर के बडगाम जिले के चदूरा इलाके में आज आतंकवादियों एवं सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ हुई। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा बलों ने आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना के बाद चदूरा क्षेत्र के दरबाग इलाके को घेर लिया और तलाशी अभियान शुरू किया। अधिकारी ने कहा, ‘‘तलाशी अभियान के दौरान आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी की जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई।’’ उन्होंने बताया कि ताजा रिपोर्ट आने तक मुठभेड़ जारी थी। वहीं एनकाउंटर के दौरान दो लोगों की मौत होने की भी खबर सामने आ रही है। दरअसल एनकाउंटर साइट पर मुठभेड़ के दौरान क्षेत्रियों लोगों की सुरक्षा बलों से झड़प होने की भी जानकारी सामने आ रही है।

समाचार एजंसी एएनआई के मुताबिक मुठभेड़ की जगह पर मौजूद लोगों ने सुरक्षा बलों पर पत्थरबाजी करना शुरू कर दिया। इसी के जवाब में सुरक्षा बलों को मजबूरन पत्थरबाजी कर रहे लोगों पर फायरिंग करनी पड़ी जिसमें दो लोगों की मौत हो गई और लगभग 17 घायल हो गए। वहीं रिपोर्ट्स के मुताबिक यह जानकारी भी सामने आ रही है कि मारा गए एक शख्स की उम्र लगभग 22 साल थी और फायरिंग के दौरान उसकी मौत हो गई। बता दें कि सेनाध्यक्ष बिपिन रावत ने कुछ समय पहले कहा था कि सुरक्षा बलों के ऑपरेशन्स में जो कोई बाधा डालेगा तो सेना उससे सख्ती से निपटेगी।

अंग्रेजी अखबार मेल टुडे ने अपनी रिपोर्ट में सूत्रों के हवालों से लिखा था कि सेना के जवानों को कहा गया है कि वे पत्थरबाजी होने पर लाठियां छोड़कर, राइफल उठाएं। रावत ने यह भी कहा था कि जम्मू कश्मीर में स्थानीय लोग जिस तरह से सुरक्षा बलों को अभियान संचालित करने में रोक रहे हैं उससे अधिक संख्या में जवान हताहत हो रहे हैं, ऐसे लोगों के साथ सख्ती से पेश आया जाएगा। इसके अलावा सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा था कि जो लोग आतंकियों के एंकाउंटर में बाधा खड़ी करते हैं और सेना का मनोबल नहीं बढ़ाते वह भी एक तरह से आतंकियों के कार्यकर्ता ही हैं।

देखें वीडियो

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सुप्रीम कोर्ट ने सरकार से पूछा, क्या जम्मू-कश्मीर में हिंदुओं को दे दें अल्पसंख्यक का दर्जा?
2 श्रद्धालुओं से भरी बस पलटी, 30 घायल
3 एक दिन में अलग-अलग हुए सड़क हादसों में 19 की मौत और 44 लोग घायल
अयोध्या से LIVE
X