scorecardresearch

जिन बच्चों को मां दूध नहीं पिलाती, वो पगला जाते हैं, राहुल गांधी पर बिफरे परमहंस आचार्य

राहुल गांधी ने ब्रिटेन में देश की घरेलू राजनीति का जिक्र कर कहा था कि बीजेपी का काम आवाजें दबाना है। उन्होंने पूरे देश में केरोसीन फैला दिया है, बस आग लगाने के लिए चिंगारी की जरूरत है।

paramhans acharya| rahul gandhi|
जगतगुरु परमहंस आचार्य (Photo Source- ANI)

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के ब्रिटेन दौरे पर दिए गए बयान को लेकर भारत में तमाम नेता और संत भड़क गए हैं। राहुल गांधी ने अपने ब्रिटेन दौरे के दौरान भारत की तुलना पाकिस्तान से की थी। कांग्रेस नेता के इस बयान पर तपस्वी छावनी के पीठाधीश्वर जगतगुरु परमहंस आचार्य ने कहा कि राहुल गांधी एक मानसिक रोगी हैं, जिसकी जिम्मेदारी खुद सोनिया गांधी की है। इतना ही नहीं परमहंस आचार्य ने कहा कि जिन बच्चों को बचपन में माताएं दूध नहीं पिलातीं वह कुपोषण का शिकार हो जाते हैं। उनके अंदर दिमाग की कमी और पागलपन देखा जा सकता है।

जगतगुरु परमहंस आचार्य ने कहा कि राहुल गांधी ऐसे अनाप-शनाप बयान देते रहते हैं। कभी आलू से सोना बनाने की बात करते हैं तो कभी देश विरोधी गतिविधियों का समर्थन करते हैं। राहुल मूर्खतापूर्ण बात कही है। ऐसी बात बोल कर राहुल गांधी ने भारत और भारतीयता दोनों का मजाक उड़ाया है, जिसके लिए उन पर कठोर कार्रवाई होनी चाहिए और राष्ट्रद्रोह का केस लगना चाहिए।

देश को कमजोर करने वाले बयान देते हैं: परमहंस आचार्य ने कहा कि विपक्ष के नेता को सरकार को सुझाव देने और गलत होने पर विरोध करने का अधिकार तो होता है। लेकिन, राहुल गांधी कभी नेपाल के पब में चीन के राजूदत के साथ दिखाई पड़ते हैं तो कभी देश को कमजोर करने वाले बयान देते हैं। जगतगुरु ने कहा कि वह पीएम मोदी के खिलाफ भी कई बार गैर-मर्यादित टिप्पणी करते रहते हैं।

वहीं, अयोध्या के संतों ने भी कांग्रेस नेता के बयान की निंदा करते हुए कहा कि राहुल गांधी ने ब्रिटेन के दौरे पर भारत को कमजोर दिखाने की कोशिश की है, यह शर्मनाक है। उनका दिमाग बहुत कमजोर है और सोनियां गांधी को उन्हें संभालना चाहिए।

ब्रिटेन दौरे पर क्या बोले राहुल गांधी: ब्रिटेन दौरे पर गए राहुल गांधी ने थिंकटैंक ‘ब्रिज इंडिया’ की ओर से आयोजित ‘आइडियाज फॉर इंडिया’ सम्मेलन में कहा था कि भारत राष्‍ट्र नहीं बल्कि यूनियन ऑफ स्‍टेट है। इसके अलावा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भारत की तुलना पाकिस्तान से की थी। राहुल ने ये भी कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसी की सुनते नहीं हैं। भारत का लोकतंत्र खतरे में हैं और संवैधानिक संस्थाओं पर हमले किए जा रहे हैं। राहुल के बयान के एक-एक हिस्‍से पर लोगों ने उन्‍हें निशाने पर लिया।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.