ताज़ा खबर
 

आइटीओ-कश्मीरी गेट लाइन शुरु करने की तैयारी

दिल्ली मेट्रो की आइटीओ-कश्मीरी गेट रूट को शुरू करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। शुक्रवार को यात्रियों की सुरक्षा संबंधी फाइल दिल्ली मेट्रो की सुरक्षा संबंधी जांच करने वाली संस्था के कमिश्नर को सौंपा गया।

Author नई दिल्ली | Updated: March 18, 2017 12:56 AM
badarpur to gurgaon, badarpur to gurgaon metro Route, badarpur to gurgaon News, badarpur to gurgaon metro, Interchange Metro Stationप्रतीकात्मक चित्र

दिल्ली मेट्रो की आइटीओ-कश्मीरी गेट रूट को शुरू करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। शुक्रवार को यात्रियों की सुरक्षा संबंधी फाइल दिल्ली मेट्रो की सुरक्षा संबंधी जांच करने वाली संस्था के कमिश्नर को सौंपा गया। मेट्रो अधिकारियों का कहना है कि फाइल में 5:17 किलोमीटर लंबे इस मेट्रो रूट के सभी इंतजाम को दर्शाया गया है। इसमें सिग्नलिंग अहम हिस्सा होता है। अब सुरक्षा संस्था को आइटीओ-कश्मीरी गेट के रूट पर अपनी जांच पूरी कर सर्टिफिकेट जारी करने का काम बचा है। यदि सुरक्षा के प्रमाण सकारात्मक रहते हैं तो जल्द ही मेट्रो दौड़ाने की हरी झंडी मिल सकती है।  नए रूट पर मेट्रो चलाने के लिए स्वतंत्र सुरक्षा निर्धारक संस्था को सौंपे रिपोर्ट में दिल्ली मेट्रो ने आइटीओ-कश्मीरी गेट मार्ग की अपनी तैयारियों को पेश किया है। जिसका जायजा लेने के लिए संस्था अपने अधिकारियों के सामने मेट्रो का परीक्षण करेगी और इस दौरान संस्था का मुख्य ध्यान मेट्रो की सिग्नलिंग प्रणाली पर रहेगा। यदि संस्था सिग्नलिंग व्यवस्था को पुख्ता प्रमाणित करती है तो इस रूट पर जल्द ही मेट्रो का सफर शुरू हो जाएगा।

कल वायलेट लाइन पर पहली मेट्रो सुबह 6:07 से
दिल्ली मेट्रो की आइटीओ-बदरपुर वायलेट लाइन पर सिग्नल को दुरुस्त करने का काम होने के कारण रविवार को सुबह की पहली मेट्रो देरी से मिलेगी। इससे आइटीओ से केंद्रीय सचिवालय तक मेट्रो के चलने के समय को बदला गया है। मेट्रो के अधिकारियों ने बताया कि सिग्नलिंग काम होने के कारण आइटीओ से 5:45 के बजाय मेट्रो 6:07 बजे खुलेगी। वहीं मंडी हाउस से 5:47 बजे की जगह पहली मेट्रो 6:12 बजे चलनी शुरू होगी। वायलेट लाइन के जनपथ से 5:50 बजे खुलने वाली मेट्रो दोबारा तय होकर 6:04 बजे चलाई जाएगी। ऐसे ही केंद्रीय सचिवालय से भी मेट्रो 5:53 बजे की जगह 6:01 बजे तय की गई है। वहीं मेट्रो ने वायलेट लाइन के सभी आइटीओ से केंद्रीय सचिवालय के बीच मेट्रो के चलने में फेरबदल करने के दौरान मेट्रो फीडर बसों की फ्रिक्वेंसी बेहतर रखने को कहा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 क्योंकि सवाल दिल्ली की सत्ता का है
2 एमसीडी चुनाव 2017: हाई-प्रोफाइल होगा इस बार का चुनाव, फोगाट बहनों, रवि किशन के साथ शिखर धवन करेंगे बीजेपी का प्रचार
3 राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने की पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ, कहा- वो बहुत अच्छे श्रोता हैं, हासिल कर चुके हैं हर विषय की गहरी जानकारी
ये पढ़ा क्या?
X