ताज़ा खबर
 

जवान का दर्द- देश के लिए गोली खाने को तैयार हूं, दबंगों से मेरे बीवी-बच्चों और मां को नहीं बचा रहे DM-SP

दीपक चौधरी की शिकायत का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें वह अपनी पीड़ा बताते हुए दिख रहे हैं। जवान का कहना है कि अगर वह देश के लिए सीने पर गोली खाने को तैयार हैं तो जिला प्रशासन उनके परिवार की रक्षा क्यों नहीं कर रहा।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीक के तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

जिन जवानों के कारण देश की जनता चैन की नींद सोती है, जिन जवानों की बहादुरी के कारण देश विकास कर रहा है, प्रगति कर रहा है, उसी जवान का परिवार आज दबंगों के डर के साय में जीने को मजबूर है, आए दिन धमकियों का सामना करने पर मजबूर है। जवान की लाख शिकायत के बाद भी उसके परिवार को वो सुरक्षा नहीं मिल पा रही है जिसके वे लोग हकदार हैं। हम बात कर रहे हैं बिहार के छपरा जिले के भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के जवान दीपक चौधरी की। रिपोर्ट्स के मुताबिक इस जवान का परिवार पिछले करीब डेढ़ सालों से जमीन विवाद में दबंगों की धमकियों का सामना कर रहा है, लेकिन जिला प्रशासन जवान के परिवार की इस मुश्किल की तरफ जरा भी ध्यान नहीं दे रहा।

एबीपी न्यूज़ की रिपोर्ट के मुताबिक जवान दीपक चौधरी और उनका परिवार जमीनी विवाद में पिस रहा है। दबंगों ने करीब डेढ़ साल पहले छपरा के कोपा थाना क्षेत्र के तहत आने वाली जवान की जमीन हड़प ली। उसके बाद आईटीबीपी के इस जवान ने पुलिस, जिला प्रशासन, कमिश्नर, डीआईजी हर किसी से शिकायत की, लेकिन उसकी शिकायत पर किसी तरह का कोई एक्शन नहीं लिया गया। जवान का कहना है कि उसके परिवार को दबंग लोग मारने की धमकी भी दे रहे हैं।

दीपक चौधरी की शिकायत का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें वह अपनी पीड़ा बताते हुए दिख रहे हैं। जवान का कहना है कि अगर वह देश के लिए सीने पर गोली खाने को तैयार हैं तो जिला प्रशासन उनके परिवार की रक्षा क्यों नहीं कर रहा। उन्होंने वीडियो में कहा, ‘मैं देश का एक सिपाही होकर, बॉर्डर की समस्या से पहले ही परेशान रहता हूं, दूसरा मानसिक तनाव और तीसरा परिवार की समस्या है। रोज हमें जान से मारने की धमकियां मिल रही हैं। मेरी मां को रोज कहा जा रहा है कि उनको बुलाओ, उनके साथ मारपीट करेंगे, जबरदस्ती खेत रजिस्ट्री करने को कह रहे हैं। डेढ़ साल से इनका चक्कर काट रहा हूं, लेकिन कोई समाधान नहीं हो रहा। हम देश के लिए सीने पर गोली खाने को तैयार हैं, लेकिन हमारे परिवार की सुरक्षा के लिए यहां का जिला प्रशासन डेढ़ साल से कुछ नहीं कर रहा।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 असम सरकार के बैन लगाने के वाबजूद भी मुंह पर काली पट्टी बांध गुवाहाटी पहुंचे प्रवीण तोगड़िया
2 स्वामी अग्निवेश बोले- हमलों से नहीं डरेंगे, सरकार कराए मामले की न्यायिक जांच
3 सुप्रीम कोर्ट में बोली ‘आप सरकार’- आपके आदेश के बावजूद ठप्प है दिल्ली में कामकाज, हस्तक्षेप करें हुजूर!
यह पढ़ा क्या?
X