ताज़ा खबर
 

IRS अफसर के घर मिला 2.25 करोड़ कैश, 82 प्लॉट और 25 दुकानों के कागजात, फिर भी ले रहा था रिश्वत

चितौड़गढ़ के एक शख्स से अफीम पट्टे का मुखिया बनाने के लिए मीणा ने पांच लाख रुपए मांगे थे। इसके बाद शिकायत पर शनिवार को उन्हें एक लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा गया था।

Author Published on: January 27, 2019 1:32 PM
जब्त कैश, इनसेट-अधिकारी सहीराम मीणा

राजस्थान में एंटी करप्शन ब्यूरो ने शनिवार को कोटा के नारकोटिक्स विभाग के एडिशनल कमिश्नर सहीराम मीणा को रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा था। इसके बाद जब सहीराम के घर और दफ्तर समेत कई अन्य ठिकानों पर छापेमारी की गई तो करोड़ों रुपए की संपत्तियां जब्त की गईं। जांच टीम के मुताबिक उनकी आय से काफी ज्यादा संपत्ति होने की बात सामने आई है। चितौड़गढ़ के एक शख्स की शिकायत पर यह कार्रवाई शुरू हुई थी।

करोड़ों की जमीनें, पेट्रोल पंप भी मिलेः एएसपी ठाकुर चंद्रशील के नेतृत्व में कार्रवाई कर रही पुलिस टीम को जयपुर के जगतपुर स्थित शंकर विहार इलाके में उनके घर से छापेमारी शुरू हुई थी। सर्च ऑपरेशन के दौरान 82 प्लॉट्स और जयपुर में 25 दुकानों के दस्तावेज मिले। इसके अलावा 2.26 करोड़ रुपए नकदी औऱ करीब 6.22 लाख रुपए की ज्वेलरी भी जब्त की गई। इसके साथ ही मुंबई में एक फ्लैट, जयपुर के सांगानेर में 1.2 हेक्टेयर की कृषि भूमि, राजधानी जयपुर के बीचो बीच एक पेट्रोल पंप और एक मैरिज गार्डन होने की भी जानकारी मिली है।

यूं शुरू हुई थी कार्रवाईः मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मीणा पर लगातार रिश्वत लेकर नियमों का उल्लंघन करने के भी आरोप लगते रहे हैं। दरअसल चितौड़गढ़ के एक शख्स से अफीम पट्टे का मुखिया बनाने के लिए मीणा ने पांच लाख रुपए मांगे थे। इसके बाद शिकायत पर शनिवार को उन्हें एक लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा गया था। इस दौरान उनके घर से पांच लाख रुपए बरामद किए गए। फिलहाल उनके कोटा और जयपुर स्थित आवासों की छापेमारी जारी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 गणतंत्र दिवस पर राजद कार्यालय पहुंचे थे तेजप्रताप, दरवाजे बंद मिले तो भड़के
2 सुब्रमण्यम स्वामी का प्रियंका गांधी पर हमला, कहा- करती है लोगों की पिटाई, पता नहीं कब खो बैठे संतुलन?
3 जयललिता की मौत के दो साल बाद भी एक्टिव हैं बैंक खाते, लगातार आ रहे पैसे