यूपी: करणी सेना ने रोका अंतरधार्मिक विवाह, महिला को अदालत से जाने को किया मजबूर

यूपी के बलिया की एक स्थानीय अदालत में करणी सेना के कार्यकर्ताओं द्वारा कथित तौर पर एक अंतरधार्मिक विवाह को “जबरन धर्मांतरण और लव जिहाद” का मामला बताते हुए रोक दिया गया।

bjp, love jihad
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (एक्सप्रेस फोटो)।

गुरुवार को यूपी के बलिया जिले की एक स्थानीय अदालत में करणी सेना के कार्यकर्ताओं द्वारा कथित तौर पर एक अंतरधार्मिक विवाह को “जबरन धर्मांतरण और लव जिहाद” का मामला बताते हुए रोक दिया गया। यह जानकारी यूपी पुलिस ने दी। हिंदुत्ववादी संगठन के कार्यकर्ताओं ने कथित तौर पर महिला को कोतवाली पुलिस स्टेशन जाने के लिए मजबूर किया, जहां पुलिस अधिकारियों ने हस्तक्षेप किया और 18 वर्षीय महिला को उसके माता-पिता को सौंप दिया।

बलिया के पुलिस अधीक्षक विपिन टाडा ने कहा, “हमने लड़की के पिता की शिकायत पर मामला दर्ज किया है कि उसकी बेटी का अपहरण कर लिया गया है। हम उसे जल्द ही एक अदालत में पेश करेंगे, जहां वह अपना बयान दर्ज कराएगी। महिला के वयस्क होने के कारण उसके बयान के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।” टाडा ने यह भी कहा, ”कुछ लोगों ने आरोप लगाया कि अवैध धर्मांतरण हो रहा था लेकिन ऐसा कुछ नहीं मिला। कुछ लोग धर्म परिवर्तन का आरोप लगाते हुए उसे स्थानीय थाने ले आए थे।” एसपी ने कहा कि महिला को “उसके परिवार को सौंप दिया गया है और जल्द ही वह अदालत में अपना बयान दर्ज कराएगी”।

सोशल मीडिया पर शेयर किए गए एक वीडियो में महिला को कथित तौर पर करणी सेना से संबंधित कुछ पुरुषों द्वारा परेशान किया जा रहा है, जबकि वह बताती है कि वह 24 वर्षीय दिलशाद सिद्दीकी से खुद की मर्जी से शादी कर रही है।वीडियो में, एक आदमी, जो खुद को करणी सेना के कार्यकर्ता के रूप में बता रहा है, महिला से पूछता है: “आपका नाम क्या है … आप किस जाति से हैं? लड़का किस जाति का है? क्या वह मुसलमान है? तुम उससे शादी क्यों कर रहे हो?”

इस पर महिला ने साफ कहा कि वह एक दलित समुदाय से आती है, वयस्क है, और खुद की मर्जी से उस आदमी से शादी कर रही है। वीडियो के मुताबिक, सिद्दीकी, जो उभान थाना क्षेत्र के पदरी गांव से आता है, से भी पूछताछ की गई और उसे धमकाया गया। कथित तौर पर हंगामे के बाद वह अदालत परिसर से फरार हो गया था।

एक अन्य वीडियो में, जो बाद में पुलिस स्टेशन में शूट किया गया प्रतीत होता है, लोगों के एक समूह को महिला से बात करते हुए सुना जा सकता है। लोग कह रहे हैं, “आप अपने माता-पिता के साथ ऐसा कैसे कर सकते हैं जिन्होंने आपको पाला, आपको शिक्षा दी।”

ज्ञानेश्वर मिश्रा, एसएचओ, उभान पुलिस स्टेशन, जहां सिद्दीकी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था, ने कहा कि महिला के पिता जय प्रकाश ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि उनकी बेटी दो दिनों से घर नहीं लौटी है और उन्होंने लोगों से सुना है कि दानिश उनकी बेटी के साथ जबरदस्ती करता था और उससे जबरन शादी कर रहा था। एसएचओ मिश्रा ने कहा, ‘दोपहर में कोर्ट में हंगामे के बाद लड़की के पिता ने बुधवार शाम को शिकायत दर्ज कराई।’

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट