ताज़ा खबर
 

व्हीलचेयर पर घूम रहा था इंदौर का शख्स, पैर में फ्रैक्चर बता बांध रखा था प्लास्टर; पुलिस ने पट्टी खोली तो निकला..

इंदौर के रामघाट नदी क्षेत्र के चौकी पर कुछ लोगों ने शिकायत की कि दो युवक पैर में पट्टा बांधकर लोगों को इमोशनल ब्लैकमेल कर रहे हैं।

प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

शहरों में जगह-जगह भीख मांगने वाले लोगों पर तरस खाकर अक्सर लोग कुछ पैसे और सामान दे देते हैं। लेकिन कई लोगों ने इसको धंधा बना लिया है। इसकी आड़ में वे दिन भर में लंबी कमाई कर रहे हैं। मध्यप्रदेश के इंदौर में ऐसा ही एक मामला सामने आया है। इसमें एक युवक पैर में लकड़ी बांधकर ऊपर से पट्टी बांध व्हील चेयर पर घूम-घूम भिक्षा मांग रहा था। पुलिस ने पट्टी खुलवाई तो सच सामने आया। गरीबी का बहाना बनाकर लोगों को ठगने के लिए शातिर दिमाग कई तरह की चाल चलते हैं।

लोगों की शिकायत पर पुलिस ने पकड़ा इंदौर के रामघाट नदी क्षेत्र के चौकी पर कुछ लोगों ने शिकायत की कि दो युवक पैर में पट्टा बांधकर लोगों को इमोशनल ब्लैकमेल कर रहे हैं। शिकायत करने वालों ने बताया कि दोनों युवक ठीक हैं, लेकिन अपने को दिव्यांग और असहाय बताकर पैसे वसूल रहे हैं। सूचना पर रामघाट नदी क्षेत्र की चौकी पर तैनात सिपाही मोहन सिंह परमार पहुंचे और दोनों को रोका।

Hindi News Today, 27 December 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की तमाम बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करे

खड़े होने को बोला तो बहाना करने लगा उन्होंने उनके पैरों के बारे में पूछताछ की तो दोनों ने बताया कि फ्रैक्चर हो गया है। पुलिस ने सख्ती बरती और पट्टी खुलवाई तो सभी लोग देखकर दंग रह गए। उसके पैस बिल्कुल ठीक थे। सिपाही ने उन्हें खड़े होने के लिए कहा तो वे पहले आनाकानी की, फटकार लगाने पर वे उठे। सिपाही ने उनसे दौड़ने को कहा तो वे दौड़कर भी दिखाए।

हिदायत देकर छोड़ा यह देखकर वहां लोगों का मजमा लग गया। लोगों ने उनकी पिटाई करने की बात कही, लेकिन दोनों कथित भिखारियों ने सिपाही के सामने माफी मांगकर छोड़ने की गुहार लगाई। पुलिस ने उन्हें दोबारा ऐसी हरकत नहीं करने की हिदायत देकर छोड़ दिया। लोगों का कहना है कि शहर में ऐसे कई लोग हैं, जो इस तरह की हरकत कर लोगों को इमोशनल ब्लैकमेल कर रहे हैं।

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X