scorecardresearch

Independence Day: सीएम जयराम ठाकुर ने सरकारी कर्मचारियों के नए वेतनमान का एरियर देने का किया ऐलान, ये सात बड़ी घोषणाएं कीं

Independence Day: हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जिला परिषद कार्यालयों के 4 हजार से अधिक कर्मचारियों के लिए संशोधित वेतनमान और पंचायत चौकीदार को वेतनभागी बनाए जाने का ऐलान किया है। वहीं, एपीएल और बीपीएल परिवारों के लिए खास घोषणाएं की गई हैं।

Independence Day: सीएम जयराम ठाकुर ने सरकारी कर्मचारियों के नए वेतनमान का एरियर देने का किया ऐलान, ये सात बड़ी घोषणाएं कीं
हिमाचल प्रदेश सीएम जयराम ठाकुर (Photo- Twitter/Jairam Thakur)

Independence Day: हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर सरकारी कर्मचारियों के लिए कई बड़े ऐलान किया हैं। प्रदेश के सिरमौर के सराहां में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर समारोह आयेजित किया गया था। मुख्यमंत्री भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए और ये घोषणाएं कीं। उन्होंने छठे वेतन आयोग के एरियर की पहली किस्त के भुगतान की घोषणा की है।

इसके अलावा, जिला परिषद कार्यालयों के 4 हजार से अधिर कर्मचारियों के लिए संशोधित वेतनमान और पंचायत चौकीदार को वेतनभागी बनाए जाने का भी ऐलान किया गया है। वहीं, एपीएल और बीपीएल परिवारों के लिए खास घोषणाएं की गई हैं।

2 लाख कर्मचारियों को होगा लाभ

छठे वेतन आयोग के एरियर की पहली किस्त के भुगतान की घोषणा से राज्य के 2 लाख कर्मचारियों और 90 हजार पेंशनर बेहद खुश हैं। इसके लिए सरकार एक हजार करोड़ रुपए खर्च करेगी। एरियर से कर्मचारियों को 50 से 60 हजार रुपये तक का लाभ होगा।

जिला परिषद कार्यलायों में काम करने वालों के लिए भी की घोषणा

जिला परिषद के कार्यालयों में काम करने वाले 4 हजार से ज्यादा कर्मचारियों को संशोधित वेतनमान दिया जाएगा। इसके साथ ही 12 साल तक काम करने वाले पंचायत चौकीदारों को दैनिक वेतनभागी बनाए जाने का भी मुख्यमंत्री ने ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि उनके वेतनमान में 900 रुपए के इजाफे की घोषणा की गई है। इसके अलावा, खाद्य तेल पर एपीएल परिवारों को 10 रुपए और बीपीएल परिवारों को बीस रुपए अनुदान दिया जाएगा।

प्री प्राइमरी शिक्षा नीति बनाने की भी घोषणा

मुख्यमंत्री ने राज्य में प्री प्राइमरी शिक्षा नीति बनाने की भी घोषणा की है। इसके साथ ही प्री प्राइमरी शिक्षा शिक्षकों की भर्ती भी की जाएगी। सरकार भूमि पर लगाए गए खैर के पेड़ों के कटान की प्रक्रिया को आसान बनाने पर भी काम करेगी।

इन्हें किया गया सम्मानित

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने कुछ हस्तियों को भी सम्मानित किया, जिन्होंने आपदाओं में लोगों की मदद कर उनकी जान बचाई है। 31 जुलाई को बाढ़ में फंसे 6 लोगों की जान बचाने वाले मंडी के करसोग के प्रेम कुमार को सम्मानित किया गया। वहीं, राष्ट्रीय पैरा धावक वीरेंद्र सिंह को भी सम्मानित किया गया। वीरेंद्र आयुर्वेदिक फार्मासिस्ट हैं। दिव्यांग होने के बावजूद उन्होंने किडनी रोग से ग्रसित लोगों की सहायता के लिए कई प्रतियोगिताओं में चैरिटी रन की थी।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.