कश्मीर में बिहारी मजदूरों की हत्या के बाद पंजाब में कश्मीरी छात्रों से हाथापाई का मामला आया सामने, भारत-पाक मैच को लेकर हुई मारपीट

कश्मीर में आतंकियों द्वारा प्रवासी मजदूरों पर हमलों की खबर से भड़के हुए छात्रों से इस हार के बाद कहासुनी हो गई। जिसके बाद मामला मारपीट तक पहुंच गया।

kashmiri student, punjab, india vs pakistan
पंजाब में कश्मीरी छात्रों के साथ मारपीट (प्रतीकात्मक फोटो)

कश्मीर में बिहारी मजदूरों की हत्या के बाद पंजाब में कश्मीरी छात्रों के साथ मारपीट का मामला सामने आया है। रविवार को टी-20 विश्वकप में भारत को, पाकिस्तान के हाथों मिली हार के बाद कश्मीरों छात्रों के साथ मारपीट की गई है। इस घटना का एक वीडियो भी सामने आया है।

भारत और पाकिस्तान के बीच टी-20 विश्वकप मैच के बाद पंजाब के संगरूर जिले में स्थित एक इंजीनियरिंग संस्थान में कुछ कश्मीरी छात्रों और उत्तर प्रदेश-बिहार के कुछ छात्रों के बीच कथित तौर पर हाथापाई हो गई। इस मामले में पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई गई।

पुलिस ने सोमवार को इस मामले की जानकारी देते हुए कहा कि रविवार रात को मैच के बाद कुछ छात्रों ने नारेबाजी की, जिसके बाद कुछ छात्रों के बीच हाथापाई भी हुई है। कश्मीर के कुछ छात्र अपने कमरों में मैच देख रहे थे। दूसरी ओर उत्तर प्रदेश और बिहार के अन्य छात्र भी कॉलेज में अपने-अपने कमरों में मैच देख रहे थे। मैच में भारत की हार के बाद छात्रों के बीच कहासुनी भी हुई।

आरोप लगाया गया है कि कहासुनी बाद में हाथापाई में तब्दील हो गई। जिसके बाद कॉलेज में हंगामा हो गया। सूचना मिलने के बाद पुलिस इस मामले को लेकर कार्रवाई कर रही है। इस दौरान कश्मीरी छात्रों ने आरोप लगाया है कि उन्हें पाकिस्तानी भी कहा गया है।

बताया जा रहा है कि पहले से ही कश्मीर में आतंकियों द्वारा प्रवासी मजदूरों पर हमलों की खबर से भड़के हुए छात्रों से इस हार के बाद कहासुनी हो गई। जिसके बाद मामला मारपीट तक पहुंच गया। कश्मीर में आतंकी हमलों में पिछले दिनों में कई लोगों की मौत हो चुकी है।

मिली जानकारी के अनुसार स्थानीय छात्र इन दोनों गुटों के बीच बचाव में आए। तब जाकर मामला शांत हुआ। इस मामले में कुछ छात्र घायल भी हुए हैं। कॉलेज प्रशासन ने दोषी छात्रों के खिलाफ कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। वहीं पुलिस ने बताया कि वह मामले की जांच कर रही है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट