ताज़ा खबर
 

तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री के ठिकानों पर छापे

आयकर अधिकारियों ने शुक्रवार को कर चोरी की जांच के सिलसिले में तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री सी विजयभास्कर और एक विधायक के परिसरों पर एक साथ छापे मारे।

Author चेन्नई | April 8, 2017 3:13 AM
तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री सी विजयभास्कर और एक विधायक के परिसरों पर एक साथ छापे मारे।

आयकर अधिकारियों ने शुक्रवार को कर चोरी की जांच के सिलसिले में तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री सी विजयभास्कर और एक विधायक के परिसरों पर एक साथ छापे मारे। अधिकारियों ने बताया कि राज्य में 30 से अधिक ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है। ये छापे चिकित्सा पेशेवरों, दवा कंपनियों और उनके अधिकारियों सहित कई लोगों के खिलाफ मारे जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि 100 से अधिक आयकर अधिकारी और सुरक्षाकर्मी इस अभियान का हिस्सा हैं। अधिकारियों ने कहा कि एक विधायक के खिलाफ भी छापेमारी की जा रही है। हालांकि, उन्होंने विस्तृत जानकारी नहीं दी। सूत्रों ने बताया कि ये छापे कथित कर चोरी की सूचना मिलने के बाद चेन्नई और पुडुकोट्टई समेत विभिन्न स्थानों पर मारे जा रहे हैं। अधिकारियों ने कहा कि इस बात की जानकारी मिली थी कि आरके नगर विधानसभा उपचुनाव के लिए कथित तौर पर कालेधन का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसके अलावा अन्नाद्रमुक के अम्मा धड़े द्वारा कथित तौर पर धन बांटे जाने की शिकायतें मिली थीं।

HOT DEALS
  • Honor 7X 64GB Blue
    ₹ 15398 MRP ₹ 17999 -14%
    ₹0 Cashback
  • I Kall K3 Golden 4G Android Mobile Smartphone Free accessories
    ₹ 3999 MRP ₹ 5999 -33%
    ₹0 Cashback

उपचुनाव 12 अप्रैल को है। यह सीट जयललिता के निधन के बाद खाली हो गई थी और इसे अन्नाद्रमुक के दोनों धड़ों के बीच प्रतिष्ठा की लड़ाई के तौर पर देखा जा रहा है। जयभास्कर अन्नाद्रमुक के अन्ना धड़े के उम्मीदवार टीटीवी दिनाकरन के प्रमुख वफादार हैं। वे इन उपचुनावों में प्रमुख प्रचारक भी हैं। अधिकारियों ने कहा कि इस हालिया कार्रवाई के पीछे नोटबंदी के बाद कथित वित्तीय अनियमितताओं के लिए गिरफ्तार खनन कारोबारी शेखर रेड्डी के मामले में हुई कुछ प्रगति भी है।

विजयभास्कर के परिसरों की आयकर विभाग द्वारा तलाशी लिए जाने की अन्नाद्रमुक (अम्मा) ने आलोचना की, जबकि भाजपा का कहना है कि इसके पीछे कोई राजनीतिक मंशा नहीं है। अन्नाद्रमुक (अम्मा) का आरोप है कि यह कार्रवाई भाजपा के इशारों पर की गई है, जो विरोधी ओ पन्नीरसेल्वम धड़े को निर्देश दे रही है। पार्टी का आरोप है कि यह छापेमारी डराने के लिए की जा रही है। विजयभास्कर का कहना है कि आयकर विभाग मुझे काम नहीं करने दे रहा है, क्योंकि टीटीवी दिनाकरन जीतने वाले हैं। उन्होंने कहा कि वे हर जगह देख रहे हैं, मेरा शौचालय तक देख रहे हैंं, लेकिन कुछ नहीं मिला। प्रताड़ना चल रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App