ताज़ा खबर
 

दलित महिला से ग्राम प्रधान ने कहा- PMAY के तहत दिला दूंगा मकान, आरोप- ग्राम विकास अधिकारी के सामने ‘परोस’ दिया

कानपुर में एक दलित महिला के साथ रेप का मामला सामने आया है। महिला का आरोप है कि PMAY ( Pradhan Mantri Awas Yojana) योजना के तहत मकान दिलाने के नाम पर अधिकारी ने उसके साथ रेप किया।

पीड़ित महिला, फोटो सोर्स- स्थानीय

कानपुर में एक दलित महिला ने प्रधानमंत्री आवास योजना (Pradhan Mantri Awas Yojana) के तहत मकान दिलाने के नाम पर ग्राम विकास अधिकारी पर रेप का आरोप लगाया है। महिला का आरोप है कि ग्राम प्रधान उसे बहला फुसलाकर ग्राम विकास अधिकारी के कमरे तक ले गया था। जिसके बाद उसने बाहर से गेट बंद करवा दिया था। इसके बाद अधिकारी ने जबरन रेप किया और मुंह खोलने पर जान से मारने की धमकी दी थी। इसके साथ ही पीड़िता ने बताया कि पुलिस ने भी उसको थाने के कई चक्कर लगवाए और उसके बाद मामला दर्ज किया। हालांकि आरोपी मामला दर्ज होने के बाद भी खुलेआम घूमते रहे लेकिन पुलिस ने उन्हें नहीं पकड़ा।

कहां का है पूरा मामला: पूरा मामला जनपद कानपुर देहात के रसूलाबाद कोतवाली क्षेत्र स्थित सुंदरपुर गजेन गांव का है। जहां एक महिला, पति और तीन साल के बच्चे के साथ रहती है। महिला का पति मजदूरी करके परिवार का पालन पोषण करता है। महिला की आर्थिक स्थिति ठीक नही होने के कारण वो बीते 20 दिनों से अपने मायके पर रह रही थी । जहां ग्राम प्रधान अरुण अवस्थी ने महिला को सूचना भेजी थी कि आवास लिस्ट में उसका नाम आया है।

National Hindi News, 09 May 2019 LIVE Updates: दिनभर की हर खबर सिर्फ एक क्लिक में पढ़े

ग्राम विकास अधिकारी के पास लेकर गया ग्राम प्रधान: महिला ने बताया- ‘हमारी आर्थिक स्थिति ठीक नही है परिवार का भरण पोषण बड़ी मुश्किल से हो पाता है। पुराना घर पूरी तरह से जर्जर है। जिसके चलते मैंने कॉलोनी के लिए फार्म भरा था। बीते 20 दिनों से मायके में थी गांव के प्रधान अरुण अवस्थी ने मेरे पास सूचना भेजी थी आवास में तुम्हारा नाम आया है और गांव आकर मुझसे मिलो। प्रधान की इस सूचना पर जब मै प्रधान से मिली तो वो मुझे ग्राम विकास अधिकारी (सचिव) विकास बाबू के पास ले गया। प्रधान ने मुझे सचिव के कमरे के अंदर छोड़ दिया और बाहर निकल कर गेट को बंद कर दिया। इसके बाद सचिव ने मेरे साथ जबरन रेप किया। इसके बाद उसने मुझे धमकी दी कि ये बात किसी से नहीं बताना वरना जान से मरवा दूंगा। किसी तरह से वहां से निकल कर घर पहुंची और परिजनों को आप बीती बताई। इस घटना की शिकायत लेकर थाने पहुंची तो पहले तो पुलिस ने वहां से भगा दिया। इसके बाद कई दिनों तक थाने के चक्कर लगाने के बाद एफआईआर दर्ज हुई। लेकिन जो आरोपी है वो खुले आम घूम रहे है और परिवार को जान से मारने की धमकी दे रहे है।’

 

 

पुलिस का क्या है कहना: वहीं इस पूरे मामले पर एएसपी अनूप कुमार के मुताबिक महिला की शिकायत पर अभियोग पंजीकृत कर लिया गया था। महिला के 164 के बयांन भी दर्ज हो चुके है। इसके साथ ही इस घटना की विवेचना की जा रही है। जांच के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App