ताज़ा खबर
 

TRS की मेगा रैली में KCR बने ‘भगवान राम’, कांग्रेस का आरोप 300 करोड़ खर्च कर रही है सरकार

टीआरएस द्वारा आयोजित प्रगति निवेदन सभा रैली को लेकर विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने गंभीर आरोप लगाए हैं। कहा कि रैली के लिए 300 करोड़ रुपये से अधिक खर्च किए जा रहे है, जो कालाधन है।

Author September 2, 2018 3:45 PM
टीअारएस की रैली में केसीआर को एक पोस्टर में ‘भगवान श्रीराम’ की तरह दिखाया गया है। (Photo: ANI)

तेलंगाना में सत्तारूढ़ पार्टी तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) ने 2 सितंबर को एक रैली प्रगति निवेदन सभा का आयोजन किया। इस रैली से पहले जगह-जगह पार्टी कार्यकर्ताओं और समर्थकों द्वारा पोस्टर लगाए गए। इनमें रंगारेड्डी जिले में एक पोस्टर में तेलंगाना के मुख्यमंत्री कल्वाकुंतला चंद्रशेखर राव को भगवान राम के रूप में दिखाया गया है। वहीं, इस रैली को लेकर विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने टीआरएस प्रमुख और सीएम केसी राव पर गंभीर आरोप लगाए हैं। कांग्रेस का आरोप है कि सरकार इसके लिए 300 करोड़ रुपये खर्च कर रही है। इंडिया टुडे के अनुसार, हैदराबाद से करीब 25 किलोमीटर दूर रंगारेड्डी जिला इलाके के इब्राहिमपटनम में आयोजित इस रैली में 25 लाख लोगों के जुटने की संभावना है। सभी विधानसभा क्षेत्रों से 25 हजार लोगों के आने की बात कही जा रही है। केसीआर का यह प्रयास आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए किया जा रहा है।

तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने केसीआर से इस रैली के आयोजन के खर्च के विवरण और उसके स्त्रोत की जानकारी मांगी है। कांग्रेस राज्य ईकाई के अध्यक्ष उत्तम कुमार रेडी ने आरोप लगाया है कि टीआरएस प्रगति निवेदन सभा के लिए 300 करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च कर रही है। यह पूरा पैसा पिछले चार सालों में केसीआर परिवार द्वारा अलग-अलग प्रोजेक्ट के लिए अवैध रूप से मिले कमीशन से जमा किया गया है।

कांग्रेस ने आयकर विभाग और अन्य एजेंसियों से भी रैली के लिए खर्च हो रहे पैसे के स्त्रोत की जांच करने की मांग की है। उत्तम रेड्डी ने कहा कि, “टीआरएस के द्वारा खर्च किया जा रहा यह पूरा पैसा कालाधन है। आई-टी अधिकारियों को जगह, परिवहन, भोजन और अन्य मदों के लिए टीआरएस द्वारा खर्च किए जाने वाले पैसे का एक विस्तृत विवरण तैयार करना चाहिए। खर्च का वास्तविक आंकड़ा काफी ज्यादा होगा।”

कांग्रेस ने टीआरएस के उपर सरकारी मशीनरी का गलत उपयोग का भी आरोप लगाया। कहा कि रैली में लोगों को लाने के लिए सरकार द्वारा राज्य परिवहन विभाग की बसें बुक की गई है। रेड्डी ने कहा कि, “सभी सड़क परिवहन विभाग की बसों को बंद कर दिया गया है। इससे आम जनता को काफी परेशानी होगी। यहां तक की तेलंगाना राज्य पब्लिक सर्विस कमीशन परीक्षा स्थगित कर दिया गया है। केसीआर पिछले चार सालों से झूठ के पुलिंदा के सहारे बच रहे है। अब वह नए झूठों के सहारे अगले चुनाव में जाने की तैयारी कर रहे है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App