ताज़ा खबर
 

नृशंस हत्या: अवैध संबंध के शक में आरी से काट दी पत्नी के पूर्व पति की गर्दन, पकड़े गए सभी आरोपी

मंगोलपुरी पुलिस चौकी इंचार्ज सब इंस्पेक्टर कमलेश, हवलदार लक्ष्मण, हवलदार नवरंग आदि की टीम ने मुख्य आरोपी मुकेश के साथ उसके दूसरे साथी विजय उर्फ गोलू व दो अन्य को अरेस्ट कर लिया।

Author नई दिल्ली | September 8, 2016 11:35 am
राजधानी दिल्ली में हुए नृशंस हत्याकांड में एक शख्स ने अपनी पत्नी के पूर्व पति का सिर आरी से काटकर शरीर से अलग कर दिया और धड़े को जला दिया।

राजधानी दिल्ली में एक नृशंस हत्याकांड का मामला प्रकाश में आया है, जहां एक शख्स ने अपनी पत्नी के पूर्व पति का सिर आरी से काटकर शरीर से अलग कर दिया और धड़े को जला दिया। इस मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है और दो नाबालिगों को हिरासत में लिया है। पुलिस के मुताबिक पति और पत्नी के बीच रिश्ते में आई कड़वाहट और शक ने इस घटना को अंजाम दिया।

मामला दिल्ली के मंगोलपुरी का है। पुलिस के मुताबिक रोहित शर्मा नाम के व्यक्ति की 2013 में लव मैरिज हुई थी और बाद में उसका तलाक हो गया था। बाद में रोहित की तलाकशुदा पत्नी की शादी मंगोलपुरी के रहने वाले मुकेश से हो गई। मुकेश को अपनी पत्नी पर उसके पूर्व पति रोहित के साथ अवैध संबंध होने का शक था। मामले की जांच कर रहे दिल्ली पुलिस के अधिकारी विक्रमजीत सिंह ने बताया कि मंगोलपुरी में रहने वाला 25 वर्षीय रोहित शर्मा 18 अगस्त से लापता था।

रोहित के परिजनों ने उसके गायब होने की सूचना पुलिस को दी हुई थी। रोहित के घर वालों ने पुलिस को उसकी तलाकशुदा पत्नी और मुकेश के बारे में बताया। पुलिस ने इस आधार पर जब मामले की छानबीन शुरू की तो पता चला कि मुकेश ने साजिश के तहत 18 अगस्त को रोहित को मिलने के लिए बुलाया था। उस रात रोहित के साथ मुकेश और उसके साले समेत चार लोगों ने जमकर शराब पी, फिर मुकेश और उसके दोस्त रोहित शर्मा को गुड़गांव मानेसर हाईवे पर ले गए। मुकेश पेशे से ड्राइवर है और सभी लोग उसकी इनोवा गाड़ी में थे।

Read Also: BJP को 2019 में कई सीटों पर हार का अनुमान, 7 राज्यों की 115 नई सीटों पर नजर

गुड़गांव रोड पर सुनसान जगह देखकर उन्होंने रोहित शर्मा की गर्दन को आरी से काटकर अलग कर दिया और धड़ जला दिया। आरोपियों ने रोहित के कटे सिर को दिल्ली के द्वारका एरिया में जमीन में गाड़ दिया। जांच में पुलिस ने रोहित के शरीर के हिस्से बरामद कर लिए। इस वारदात में कुल चार लोग शामिल थे जिसमें से दो नाबालिग भी हैं।

Read Also: बढ़ती मांग के साथ रेल किराए में होगी बढ़ोतरी, राजधानी, दुरंतो पर लागू होगी नई किराया प्रणाली

मंगोलपुरी पुलिस चौकी इंचार्ज सब इंस्पेक्टर कमलेश, हवलदार लक्ष्मण, हवलदार नवरंग आदि की टीम ने मुख्य आरोपी मुकेश के साथ उसके दूसरे साथी विजय उर्फ गोलू व दो अन्य को अरेस्ट कर लिया। आरोपियों ने मृतक का सिर बरामद करवाने में पुलिस की मदद की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App