ताज़ा खबर
 

उद्धव के MLA ने कॉन्ट्रैक्टर को गंदगी में जबरन बैठा सिर पर डलवाया कूड़ा-कचरा, लगाया- काम न करने का आरोप, VIDEO वायरल

इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद शिवसेना विधायक ने सफाई में कहा कि वे कॉन्ट्रैक्टर को सड़क साफ करवाने के लिए पिछले 15 दिनों से फोन कर रहे थे। लेकिन उसने कभी सड़क साफ नहीं की।

उद्धव सरकार के विधायक दिलीप लांडे ने सफाईकर्मियों से कॉन्ट्रैक्टर पर ही डलवा दिया कूड़ा। (फोटो- वीडियो स्क्रीनग्रैब)

महाराष्ट्र के मुंबई स्थित चांडीवली के एक विधायक की कॉन्ट्रैक्टर से बदसलूकी का मामला सामने आया है। कोरोनावायरस महामारी के दौर में उद्धव ठाकरे के एमएलए ने मर्यादा की सारी हदें पार करते हुए ठेकेदार को नाले के बगल में पानी से भरी सड़क पर बिठा दिया। इतना ही नहीं सड़क साफ कर रहे कर्मचारी से ठेकेदार पर मैला भी डलवाया। इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

वायरल वीडियो में क्या?: न्यूज एजेंसी एएनआई की तरफ से जो वीडियो जारी किया गया है, उसमें विधायक को गुंडागर्दी करते हुए कॉन्ट्रैक्टर को बैठने के लिए कहते सुना जा सकता है। इस दौरान एक व्यक्ति उसको धक्का देकर गिरा देता है। विधायक इसी दौरान सफाईकर्मियों को ठेकेदार पर कचरा डालने के निर्देश देते हैं और कहते हैं डाल इसके सिर पे। तुम्हारे बाप का राज है क्या। इस दौरान ठेकेदार लगातार विधायक को समझाता है, लेकिन वे इसे अनसुना करते हुए कर्मचारियों से उस पर कूड़ा डलवाते रहते हैं।

विधायक देने लगे सफाई: इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद विधायक ने कहा कि ठेकेदार ने अपना काम ठीक से नहीं किया था। उन्होंने सफाई में कहा कि वे कॉन्ट्रैक्टर को सड़क साफ करवाने के लिए पिछले 15 दिनों से फोन कर रहे थे। लेकिन उसने कभी सड़क साफ नहीं की। इसके चलते शिवसेना के लोगों को यह काम करना पड़ा। लांडे ने बताया कि जब ठेकेदार को यह बात पता चली तो वो खुद वहां पहुंचा, तब मैंने उसे बताया कि यह काम उसकी जिम्मेदारी है और उसे ही करना चाहिए।

हर बार मानसून में खुलती है BMC की पोल: गौरतलब है कि मुंबई में मानसून के आगमन के बाद से ही लगातार बारिश हो रही है। ऐसे में सड़कों पर पानी भरने की घटना आम रही है। बीएमसी की तैयारियों पर भी हर साल सवाल उठते रहे हैं। इसके बावजूद वॉटर ड्रेनेज सिस्टम की मरम्मत का काम कभी समय पर पूरा नहीं होता। इस बीच विधायक की इस शर्मसार करने वाली घटना ने उद्धव सरकार के काम करने के तरीके पर ही सवाल खड़े कर दिए हैं।

Next Stories
1 राजस्थान में सियासी खटपट के बीच पायलट समर्थक का दावा- गहलोत सरकार करा रही हमारे कई MLAs के फोन टैप; जानें- कब हो सकती है टैपिंग?
2 मांगा तो पीने को दिया गंदा पानी, हाथों को भी बुरी तरह कुचला- सब्जी वाले का पुलिस कर्मचारियों पर बदसलूकी का आरोप
3 कुंभ मेले में दी गईं कोरोना की झूठी टेस्ट रिपोर्ट? जानें कैसे एक गलत मैसेज की शिकायत ने खोल दी सिस्टम की पोल
ये पढ़ा क्या?
X