ताज़ा खबर
 

यूपी: मस्जिद के भीतर इमाम ने किया 8 साल के बच्‍चे से कुकर्म, कई को बनाया शिकार

आरोप है कि 11 सितंबर को इमाम ने इशा की नमाज के बाद सभी बच्चों को घर भेज दिया, लेकिन 8 वर्षीय बच्चे को रोक लिया। इसके बाद आरोपी ने मस्जिद के एक हिस्से में बने कमरे में ले जाकर उसके साथ कुकर्म किया

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद की घटना। (file pic) (प्रतीकात्मक तस्वीर)

मुरादाबाद में एक मस्जिद के भीतर 8 साल के बच्चे के साथ इमाम द्वारा कुकर्म करने का शर्मनाक मामला सामने आया है। फिलहाल पीड़ित बच्चे के पिता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी इमाम को गिरफ्तार कर लिया है। इमाम पर आरोप है कि उसने बीती 11 सितंबर को बच्चे को मस्जिद में ही रोक लिया था और फिर एक मस्जिद में ही बने एक कमरे में ले जाकर बच्चे के साथ कुकर्म किया। इतना ही नहीं आरोपी ने बच्चे के साथ कुकर्म करने के बाद उसे धमकाया भी था और किसी को इस घटना के बारे में बताने पर जान से मारने की धमकी दी थी। फिलहाल पुलिस आरोपी की गिरफ्तारी के बाद उससे पूछताछ कर रही है।

मामला मुरादाबाद के कटघर थाना क्षेत्र के एक गांव का है, जहां गांव का ही रहने वाला बच्चा अन्य बच्चों के साथ तिलावत (कुरान पढ़ने) करने जाता है। गांव की इस मस्जिद में रामपुर के स्वार थाना क्षेत्र स्थित गांव रामपुर का निवासी मोहम्मद तैय्यब इमाम के तौर पर नियुक्त था। आरोप है कि 11 सितंबर को इमाम ने इशा की नमाज के बाद सभी बच्चों को घर भेज दिया, लेकिन 8 वर्षीय बच्चे को रोक लिया। इसके बाद आरोपी ने मस्जिद के एक हिस्से में बने कमरे में ले जाकर उसके साथ कुकर्म किया और किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी देकर घर भेज दिया। बताया गया है कि घटना के बाद बच्चा मस्जिद जाने से घबराने लगा, जब पीड़ित बच्चे के पिता ने उससे इसका कारण पूछा तो उसने रोते हुए सारी आप-बीती अपने पिता को बता दी। बच्चे की बात सुनने के बाद उसका पिता थाने पहुंचा और आरोपी इमाम के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी।

शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी और पाक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। फिलहाल पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है। पीड़ित बच्चे का कहना है कि आरोपी उसे पहले भी परेशान करता था। बच्चे का ये भी आरोप है कि आरोपी ने कुछ अन्य बच्चों को भी अपनी हवस का शिकार बनाया है। फिलहाल पुलिस जांच में जुटी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App