ताज़ा खबर
 

आइएफएस अधिकारी पांच दिनों से लापता

पुलिस मुख्य वन संरक्षक को तलाशने के लिए छापेमारी कर रही है। रामनगर थाने के एसओ ने बताया कि रामनगर के वन्य जीव प्रभाग में तैनात मुख्य वन संरक्षक केवी रेड्डी 2 अगस्त को एक गेस्ट हाउस से टहलने निकले थे लेकिन वह लौटे नहीं।

Author वाराणसी | August 8, 2019 12:48 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर

रामनगर के वन्य जीव प्रभाग में तैनात मुख्य वन संरक्षक केवी रेड्डी सुब्बाराव के पिछले पांच दिनों से लापता होने से प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। सुब्बाराव के बेटे ने मंगलवार को थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस मुख्य वन संरक्षक को तलाशने के लिए छापेमारी कर रही है। रामनगर थाने के एसओ ने बताया कि रेड्डी 2 अगस्त को एक गेस्ट हाउस से टहलने निकले थे लेकिन वह लौटे नहीं। इसके बाद उनका पता नहीं चला। आइएफएस अधिकारी केवी रेड्डी का तीन साल पहले ही लखनऊ स्थानांतरण हुआ था। हालांकि उन्होंने पदभार ग्रहण नहीं किया था।

उनके बेटे विशाल ने पुलिस को बताया कि चार साल पहले उनकी मां की मौत हो गई थी। इसके बाद से ही पिता तनाव में थे। लखनऊ स्थानांतरण होने के बाद भी उन्होंने ज्वाईन नहीं किया था और वन विभाग से वेतन भी नहीं लिया था। वन विभाग से कई बार वेतन लेने के लिए उनको पत्र भी मिला लेकिन उन्होंने यह कहते हुए वेतन नहीं लिया कि काम नहीं कर रहा हूं तो वेतन क्यों लूं। तंत्रमंत्र के चक्कर में 3.33 लाख गंवाए तो बेटे ने दी जान : तंत्रमंत्र और ज्योतिष के चक्कर में फंसकर एक रिटायर्ड आइजी के बेटे ने आत्महत्या कर लिया। भेलूपुर क्षेत्र के सीओ अनिल कुमार ने बताया कि पटना निवासी सेवानिवृत्त आइजी अशोक कुमार सिंह ने 28 जून, 2019 को थाने में मुकदमा दर्ज कराया था।

पिता के अनुसार उनके बेटे अमिताभ सौरभ उर्फ गगन कुछ परेशानियों से निजात पाने के लिए ज्योतिषि नीतू पाण्डया से सम्पर्क किया था। नीतू पाण्डया ने पूजा-पाठ और तंत्रमंत्र के नाम पर दो लाख तेरह हजार रूपए और नीलम रत्न देने के लिए एक लाख बीस हजार रूपए पूर्व डीआइजी से ले लिया।
बेटे की परेशानी कम नहीं हुईं तो उसने ज्योतिषि नीतू पाण्डया को दो लाख तेरह हजार और एक लाख बीस हजार नीलम रत्न की वापसी करने को कहा। इस पर ज्योतिषि ने काला जादू कर अमिताभ और पूरे परिवार को खत्म करने की धमकी दी। यह सुनकर सेवानिवृत्त अफसर का बेटा अमिताभ सुनकर घबड़ा गया और 20 अप्रैल 2019 को आत्महत्या कर लिया। दर्ज मुकदमों के आधार पर आरोपी महिला को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App