ताज़ा खबर
 

‘मेरी न तो कोई फैक्ट्री है, न व्यापम जैसा कारोबार, न रेत का व्यापार’

मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में वोटों का बटवारा न हो, इसके लिए बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और समाजवादी पार्टी (सपा) से बातचीत जारी है।

Author छतरपुर | August 2, 2018 12:50 PM
कांग्रेस सांसद व मध्‍य प्रदेश के वरिष्‍ठ नेता कमलनाथ। (Photo: Express Archive)

मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में वोटों का बटवारा न हो, इसके लिए बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और समाजवादी पार्टी (सपा) से बातचीत जारी है। कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई का अध्यक्ष बनने के बाद कमलनाथ ने बुधवार को पहली बार बुंदेलखंड का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने संवाददाताओं से कहा, “चुनाव में मतों का बटवारा हो जाने से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को लाभ होता है, लिहाजा इस चुनाव में ऐसा न हो इसके लिए बसपा-सपा से बातचीत चल रही है। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव इस बात का गवाह है कि भाजपा को 31 फीसदी वोट मिले और उसकी सरकार बन गई, यह सब वोट का बटवारा होने के चलते हुआ।”

अभी हाल में मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर आए नेशनल हेराल्ड के सर्वे पर उन्होंने कहा कि सर्वे पर वे ज्यादा भरोसा नहीं करते, सारे सर्वे अलग अलग होते हैं, वास्तव में तो इन सर्वे से लोगों का मनोरंजन ही होता है। वहीं दूसरी ओर कमलनाथ ने राज्य में उम्मीदवारों के लिए सर्वे कराने की बात कही। उन्होंने कहा कि राज्य की 230 विधानसभा सीटों पर उम्मीदवारी के लिए उनके पास ढाई हजार से ज्यादा आवेदन आए हैं। कांग्रेस इसके लिए सर्वे करा रही है जिसके आधार पर उम्मीदवार बनाया जाएगा।

बुंदेलखंड के प्रमुख नेता और समन्वय समिति के सदस्य सत्यव्रत चतुर्वेदी की सभा में अनुपस्थिति के सवाल पर कमलनाथ ने कहा कि उनकी पत्नी का स्वास्थ्य ठीक नहीं है इसलिए उनका आना संभव नहीं था। उनके अध्यक्ष बनने के बाद पार्टी में कार्पोरेट कल्चर विकसित होने और नेताओं व कार्यकर्ताओं से मुलाकात आसानी से नहीं होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि एक व्यवस्था है और उसके मुताबिक ही वे कार्यकर्ताओं और नेताओं से मुलाकात करते है। वे एक दिन में 100 से 150 कार्यकर्ताओं से मिलते हैं। उन्होंने कहा, “अगर हर कोई मुझ से मिलना चाहे तो ऐसा भी संभव नहीं है।”

उन्होंने आगे कहा, “कांग्रेस में कार्पोरेट कल्चर का प्रचार भाजपा द्वारा किया जा रहा है, मेरी न तो कोई फैक्ट्री है, न व्यापम जैसा कारोबार, न रेत का व्यापार। उसके बावजूद भाजपा इस तरह के प्रचार करती है। कमलनाथ बुधवार की सुबह विमान से खजुराहो और फिर वहां से मैहर गए। मैहर में शारदा माता के दर्शन करने के बाद वे फिर खजुराहो आए। उसके बाद राजनगर में एक जनसभा संबोधित की। इस मौके पर कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव सुधांषु त्रिपाठी, नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह मौजूद रहे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App