ताज़ा खबर
 

अमिताभ, अक्षय को नाना पटोले ने बता दिया ‘कागज के शेर’, ‘फर्जी हीरो’; कहा- उन्हें, उनकी फिल्मों को दिखाएंगे काले झंडे

नाना पटोले ने कहा, "मैंने अक्षय कुमार और अमिताभ बच्चन के खिलाफ नहीं बोला, बल्कि उनके काम के खिलाफ बोला है। वो रियल हीरो नहीं हैं। अगर वो होते तो वो मुसीबत की घड़ी में आम लोगों के साथ खड़े होते। अगर वो कागज़ के शेर बने रहना चाहते हैं, तो हमें कोई दिक्कत नहीं है।"

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: February 20, 2021 8:34 PM
Congress, Nana patole, akshay kumar, amitabh bachchanनाना पटोले ने अभिनेता अक्षय कुमार और अमिताभ बच्चन पर निशाना साधा है।

महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष नाना पटोले ने अभिनेता अक्षय कुमार और अमिताभ बच्चन पर निशाना साधा है। पेट्रोल, डीजल, महंगाई और मोदी सरकार पर चुप्पी पर पटोले ने दोनों अभिनेता को ‘कागज के शेर’ बताया है। कांग्रेस नेता ने कहा कि गार वे सच्चे हीरो होते तो आज मुसीबत की घड़ी में आम लोगों के साथ खड़े होते।

नाना पटोले ने कहा, “मैंने अक्षय कुमार और अमिताभ बच्चन के खिलाफ नहीं बोला, बल्कि उनके काम के खिलाफ बोला है। वो रियल हीरो नहीं हैं। अगर वो होते तो वो मुसीबत की घड़ी में आम लोगों के साथ खड़े होते। अगर वो कागज़ के शेर बने रहना चाहते हैं, तो हमें कोई दिक्कत नहीं है।”

महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष ने कहा, “हम कदम पीछे नहीं हटा रहे। जब भी उनकी फिल्में रिलीज़ होंगी या वो दिखाई देंगे, हम उन्हें काले झंडे दिखाएंगे। हम लोकतांत्रिक रास्ते पर चलेंगे। हम ‘गोडसे वाले’ नहीं बल्कि ‘गांधी वाले’ हैं।”

पिछले सप्ताह ही महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस की कमान संभालने वाले नाना पटोले ने ट्वीट कर कहा है कि संप्रग सरकार के दौरान जब ईंधन की कीमत 70 रुपये थी तो सबने सवाल खड़े किए थे। अब अमिताभ बच्चन और अक्षय कुमार कहां हैं? आज पेट्रोल की कीमत 100 रुपये है। ऐसा होने के बाद भी वे चुप क्यों हैं? आम लोगों को लूटने वाली मोदी सरकार के खिलाफ चुप रहने वाली ऐसी हस्तियों की फिल्मों की शूटिंग महाराष्ट्र में नहीं होने दी जाएगी।

कांग्रेस नेता ने एक और ट्वीट किया था। एक अन्य ट्वीट में उन्होने लिखा था “संप्रग सरकार एक लोकतांत्रिक सरकार थी इसलिए वे उसकी आलोचना कर सकते थे। सभी की तरह अभिनेताओं को भी पेट्रोल 70 रुपये प्रति लीटर मिलता था। तब अमिताभ व अक्षय सहित अन्य लोगों ने भी ट्वीट कर नाराजगी व्यक्त की थी। अब जब पेट्रोल 100 रुपये पहुंच गया है तो क्या मोदी सरकार की तानाशाही के खिलाफ बोलने की हिम्मत नहीं है?”

नाना पटोले के इस बयान पर प्रदेश भाजपा के वरिष्ठ नेता सुधीर मुनगंटीवार ने जवाब दिया है। मुनगंटीवार ने कहा “नाना पटोले की भावना और भाषा से कांग्रेस का असली चेहरा सामने आ गया है। कांग्रेस का वर्णन करना हो तो उसका चेहरा लोकतंत्र का, आत्मा तानाशाही और कार्यकलाप परिवार सेवा के दिखाई देते हैं।”

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने नाना के बयान को प्रचार पाने के लिए दिया गया बयान करार दिया। उन्होंने कहा कि कोई किसी को शूटिंग करने से नहीं रोक सकता।

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई
Next Stories
1 ABP-C Voter Survey: BJP जीत सकती है चुनाव- 43% का अनुमान, 35% बोले- बेरोजगारी सबसे प्रमुख मुद्दा
2 ड्रग्स केस में धरी गईं BJP नेत्री तो टि्वटर पर ‘कोकीनजीवी’ ट्रेंड, जानिए- कौन हैं पमेला गोस्वामी?
3 पश्चिम बंगालः TMC ने जारी किया चुनावी स्लोगन, CM ममता को बताया सूबे की बेटी
आज का राशिफल
X