ताज़ा खबर
 

हैदराबाद: पति ने पीटा, इलाज कराने अस्‍पताल गई तो वार्ड ब्‍वॉय ने किया रेप

महिला प्रतीक्षा हॉल में मेडीको-लीगल सर्टिफिकेट लेने के इंतजार में बैठी थी, तभी उसे अकेला पाकर वॉर्ड ब्वॉय उसके पास पहुंचा। महिला को उसके घिनौने इरादे के बारे में जरा भी अंदाजा नहीं था। वार्ड ब्यॉय ने खुद को एक डॉक्टर बताया और जांच की बात कहकर महिला को प्रथम तल पर ले गया।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फाइल फोटो)

हैदराबाद के एक सरकारी अस्पताल में एक वार्ड ब्‍वॉय ने कथित तौर पर घरेलू हिंसा का शिकार हुई एक महिला का रेप किया। पुलिस के मुताबिक वारदात गुरुवार (3 मई) की है, लेकिन शनिवार (5 मई) को उजागर हुई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पति के द्वारा पीटे जाने के बाद 35 वर्षीय महिला बंजारा हिल्स थाने में शिकायत लेकर पहुंची थी, जहां पुलिस ने उसे जख्मी हालत में देखकर अस्पताल जाने के लिए कहा। पुलिस के मुताबिक महिला ने पुलिस दल को साथ ले जाने का इंतजार नहीं किया और पुलिस के द्वारा दिया गया पत्र लेकर सरकारी उस्मानिया अस्पताल चली गई। वहां पर बाह्यरोगी के तौर पर इलाज के बाद महिला प्रतीक्षा हॉल में मेडीको-लीगल सर्टिफिकेट लेने के इंतजार में बैठी थी, तभी उसे अकेला पाकर वॉर्ड ब्वॉय उसके पास पहुंचा। महिला को उसके घिनौने इरादे के बारे में जरा भी अंदाजा नहीं था। वार्ड ब्यॉय ने खुद को एक डॉक्टर बताया और जांच की बात कहकर महिला को प्रथम तल पर ले गया। इसके बाद वार्ड व्बॉय ने कथित तौर पर महिला के साथ बलात्कार किया।

मामला सामने आने के बाद पुलिस ने बिना देर किए तेलंगाना के सबसे पुराने और सबसे बड़े सरकारी अस्पताल में वार्ड ब्यॉय के रूप में काम कर रहे 35 वर्षीय वी नागराजू को महिला से दुष्कर्म के आरोप में धर दबोचा। इस मामले में एक होमगार्ड कमर इलाही को भी हिरासत में लिया गया। गार्ड पर आरोप है कि उसे इस घिनौनी वारदात के बारे में जानकारी थी, लेकिन उसने इसकी सूचना सीनियर अधिकारियों को नहीं दी। टीओआई की खबर के मुताबिक जब प्रतीक्षा हॉल में पीड़िता बैठी थी तब नागराजू ने वहां पहुंच कर महिला पर एक अजनबी के साथ आपत्तिजनक हालत में बैठने का आरोप लगाया था। इसके बाद उसने बाह्यरोगी विभाग के प्रथम तल पर एकांत में महिला को ले जा कर उसके साथ कथित तौर पर दुष्कर्म किया।

शुक्रवार को महिला ने अजलगंज थाने में आरोपी की शिकायत दर्ज कराई। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि आरोपी ने एक कान में बाली पहन रखी थी, पुलिस ने जब अस्पताल की स्टाफ की तस्वीरें महिला को दिखाईं तो उसने फौरन आरोपी को पहचान लिया। पुलिस के मुताबिक पूछताछ किए जाने पर आरोपी ने अपना गुनाह कबूल किया है। आरोपी के खिलाफ रेप की संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App