ताज़ा खबर
 

उप्र में मानव तस्कर गिरोह का भंडाफोड़, तीन गिरफ्तार

एक अच्छी नौकरी देने का वादा कर लड़की का कथित तौर पर अपहरण कर लिया गया था और फिर उसे संदीप नाम के एक ग्रामीण को कथित तौर पर बेच दिया गया था..

Author मुजफ्फरनगर | December 9, 2015 8:57 PM
चित्र का इस्तेमाल सिर्फ़ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

जिले में शाहपुर पुलिस थाने के अंतर्गत गोयला गांव में दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने स्थानीय पुलिस की मदद से लड़कियों की तस्करी करने में कथित तौर पर शामिल एक गिरोह का भंडाफोड़ किया और इस सिलसिले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार, उपायुक्त राजीव शर्मा के नेतृत्व में दिल्ली पुलिस की एक टीम ने कल एक घर पर छापा मारा और झारखंड की रहने वाली एक लड़की को मुक्त कराया जो कि 21 नवंबर से दिल्ली से लापता थी।

एक अच्छी नौकरी देने का वादा कर लड़की का कथित तौर पर अपहरण कर लिया गया था और फिर उसे संदीप नाम के एक ग्रामीण को कथित तौर पर बेच दिया गया था। पुलिस ने 19 वर्ष की एक और लड़की को मुक्त कराया जिसे अरविंद नाम के एक व्यक्ति ने नरेंद्र नाम के एक ग्रामीण को 40,000 रुपए में कथित तौर पर बेच दिया था।

पुलिस ने बताया कि तीनों आरोपियों- संदीप, अरविंद और नरेंद्र को गिरफ्तार कर लिया गया है। पूछताछ के दौरान पता चला कि अरविंद और उसकी पत्नी अंजलि अच्छी नौकरी दिलाने के बहाने लापता लड़कियों की कथित तौर पर आपूर्ति करने में सक्रिय थे। अंजलि फरार है। उन्होंने बताया कि ऐसी सात लापता लड़कियों की पहचान की गई हैं जिन्हें अलग-अलग लोगों को कथित तौर पर बेच दिया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App