ताज़ा खबर
 

जिस आंचल ने जीता है पहला मेडल, उनके पिता से पैराग्‍लाइडिंग सीख चुके हैं पीएम नरेंद्र मोदी

रोशन ठाकुर ने कहा-शायद मोदी भी नहीं जानते होंगे, जिस आंचल को बधाई दे रहे हैं, वह उन्हें पैराग्लाइडिंग सिखाने वाले शख्स की बेटी है

Author नई दिल्ली | January 11, 2018 8:41 PM
मेडल के साथ आंचल ठाकुर। मोदी को पैराग्लाइडिंग सिखाते उनके पिता रोशन लाल ठाकुर

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्कीइंग में देश के लिए पहला मेडल जीतने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आंचल ठाकुर को बधाई दी। ट्विटर के जरिए उन्होंने 21 वर्षीय आंचल ठाकुर का उत्साह बढ़ाया। जिसके बाद हिमाचल प्रदेश का ठाकुर परिवार गदगद है। पिता ने कुछ तस्वीरें दिखाकर बताया है कि 90 के दशक में वे मोदी को भी पैराग्लाइडिंग सिखा चुके हैं।  उनका परिवार हिमाचल प्रदेश के मनाली में रहता है। आंचल ठाकुर इंटरनैशनल स्कीइंग कॉम्पिटिशन में पदक जीतने वाली देश की पहली खिलाड़ी हैं, जिन्होंने एल्पाइन एज्डेर 3200 कप में कांस्य पदक हासिल किया। स्की इंटरनेशनल फेडरेशन (FIS) की ओर से आयोजित एल्पाइन एज्डेर 3200 कप की रेस कटेगरी में उन्होंने मेडल जीता।

दो महीने पहले हिमाचल प्रदेश में चुनाव के दौरान एक रैली में मोदी ने कहा था कि-यहां के एक ठाकुर उन्हें पैराग्लाइडिंग सिखाया करते थे। रोशन लाल ठाकुर ने कहा-उस रैली में मैं भी शामिल था, मैने मोदी की तरफ हाथ हिलाना चाहता था, मगर मंच बहुत दूर था, उनसे मिल नहीं पाया।
पिता के मुताबिक- ‘‘मोदी भी नहीं जानते होंगे, जिस आंचल को वह बधाई दे रहे हैं, वह उस शख्स की बेटी है, जिसने उन्हें सोलांग घाटी में पैराग्लाइडिंग सिखाई थी। रोशन लाल का कहना है कि उनके लिए यह गर्व की बात है कि आज भी मोदी को पैराग्लाइडिंग की बात याद है। ”

रौशन लाल ठाकुर बताते हैं कि- ‘‘एक राजनीतिक दौरे के दौरान मोदी 1997 में उनके पैराग्लाइडिंग इंस्टीट्यूट पहुंचे थे। बाद में वह भाजपा के हिमाचल प्रदेश प्रभारी बने। एक स्थानीय भाजपा नेता के मार्फत मोदी पहुंचे थे। मोदी को खतरे उठाना पसंद है। क्योंकि जब वह आए थे तो ग्राउंड बारिश के कारण नम था। वह ट्राई करना चाहते थे तो मैने मना कर दिया, क्योंकि सूखा मैदान चाहिए। फिर भी उन्होंने पैराग्लाइडिंग की।”

ब्रांज मेडल जीतने वाली आंचल ठाकुर कहतीं हैं- ‘‘मैं कभी मोदी से नहीं मिली मगर पिता से मोदी के कनेक्शन के बारे में जानती हूं। मुझे उम्मीद नहीं थी कि प्रधानमंत्री मोदी ट्वीट कर मुझे बधाई देंगे। मुझे आशा है कि विंटर ओलंपिक्स के लिए अब मुझे और पहचान मिलेगी। मैं अपनी सफलता पिता को समर्पित करती हूं। ”

रौशन लाल ठाकुर गर्मियों में पैराग्लाइडिंग इंस्टीट्यूट चलाते थे। उनके बेटे हिमांशु 2014 के विंटर ओलंपिक्स में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। जयराम ठाकुर के मुताबिक मोदी के गुजरात का मुख्यमंत्री बनने तक उनके बराबर संपर्क में रहे। 2012 में मोदी ने उन्हें गुजरात के सपुतरा में एडवेंचर स्पोर्ट्स इंस्टीट्यूट की स्थापना के लिए आमंत्रित किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App