scorecardresearch

बद्रीनाथ में हेलिकॉप्टर क्रैश, ब्लेड से गर्दन कटने से इंजीनियर की मौत

बद्रीनाथ में निजी हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया। इस हादसे में एक इंजीनियर की मौत हो गई।

ग्राफिक्‍स का इस्‍तेमाल केवल प्रस्‍तुतिकरण के लिए किया गया है।

उत्तराखंड में श्रद्धालुओं को ले जा रहा एक हेलीकॉप्टर शनिवार (10 जून) को बद्रीनाथ से उड़ान भरने के कुछ देर बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिसमें चालक दल में शामिल एक इंजीनियर की मौत हो गई और दो पायलट घायल हो गए। हेलीकॉप्टर में सवार सभी पांच यात्री सुरक्षित हैं। दिल्ली में नगर विमानन महानिदेशालय :डीजीसीए: के एक अधिकारी ने बताया कि चालक दल में शामिल एक इंजीनियर की इस हादसे में मौत हो गई और दो पायलट घायल हो गए।

चमोली की पुलिस अधीक्षक तृप्ति भट्ट ने पीटीआई-भाषा से फोन पर कहा कि इंजीनियर विक्रम लांबा हेलीकॉप्टर की पंखुड़ी की चपेट में आ गए। वह असम के रहने वाले थे। पुलिस अधिकारी ने कहा कि हवा का दबाव पर्याप्त नहीं होने की वजह से उड़ान भरने के साथ ही हेलीकॉप्टर का नियंत्रण बिगड़ गया और यह गिर गया। यह हादसा सुबह में 7:45 बजे हुआ।

हेलीकॉप्टर के पायलट संजय वासी ने पीठ में दर्द की शिकायत की, जबकि सह-पायलट अल्का शुक्ला को मामूली चोट आई है। वह कानपुर की रहने वाली हैं। पुलिस अधिकारी ने बताया कि हेलीकॉप्टर में सवार सभी श्रद्धालु गुजरात के वड़ोदरा के रहने वाले हैं और वे अपने गंतव्य स्थलों के लिए रवाना हुए थे।

दुर्घटनाग्रस्त हुआ अगस्ता-119 हेलीकॉप्टर मुंबई की निजी विमानन सेवा इकाई ‘क्रिस्टर एविएशन’ का था। यह हेलीकॉप्टर बद्रीनाथ से हरिद्वार जा रहा था। डीजीसीए और विमान दुर्घटना जांच ब्यूरो :एएआईबी: के दल मौके पर पहुंच गए हैं। डीजीसीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि एएआईबी दुर्घटना की जांच करेगी।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट