ताज़ा खबर
 

बीच सफर में मर गया दोस्त, ड्राइवर ने लाश समेत रास्ते में उतारा, किराया वापस मांगने पर मारा तंज

यह घटना यहां तमिलनाडु में होसुर के पास सूलागिरी की बताई जा रही है।
बस के उतारे जाने के बाद राधाकृष्ण अपने दोस्त की लाश के साथ सड़क किनारे यूं मदद की राह में तीन घंटे इंतजार करते रहे थे। (फोटोः यूट्यूब)

तमिलनाडु में एक शख्स की मौत बस में सफर के बीच हो गई। मृतक के साथ इस दौरान उसका दोस्त भी था। ड्राइवर-कंडक्टर को यह जैसे ही पता लगा, उन्होंने उस यात्री को लाश के साथ बीच में ही उतार दिया। टिकट के पैसे वापस मांगे गए तो उल्टा तंज मारा। कहा, जो शख्स इस दुनिया में बचा ही नहीं, उसका किस बात का टिकट लगेगा। रास्ते में उतारे जाने के बाद शख्स को मदद पाने में तकरीबन तीन घंटे लग गए। घटना से जुड़ा एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें शख्स किसी से मदद की गुहार लगाते दिख रहा है। यह घटना यहां होसुर के पास सूलागिरी की बताई जा रही है। तमिलनाडु निवासी राधाकृष्ण (43) दिहाड़ी मजदूर है। वह अपने दोस्त वीरन (54) के साथ सरकारी बस में बैठा था, जो बेंगलुरू से तिरुवन्नामलाई के बीच चलती है।

घटना से जुड़े वीडियो में राधाकृष्ण फोन पर किसी और से इस दौरान मदद की मांग करते दिख रहे हैं। दोस्त की लाश उनके पास सड़क किनारे रखी थी। रिपोर्ट्स के अनुसार, वीरन की तबीयत ठीक नहीं थी। वह पिछली सीट पर लेटा था। भीड़ होने पर राधाकृष्ण उसे उठाने गए, तो वहां उसने उन्होंने लेटा देखा। वीरन की मौत हो चुकी थी, जिसके बाद राधाकृष्ण ने टिकट के पैसे लौटाने के लिए कहा। आरोप है कि कंडक्टर इस पर हंसा और बोला, “वह शख्स तो गुजर गया, अब टिकट की क्या जरूरत है?” हालांकि, काफी बहस के बाद उसने टिकट के किराए के तौर पर लिए गए 150 रुपए वापस लौटाए।

राधाकृष्ण बस से उतारे जाने के बाद वहां बीच रास्ते में तीन घंटे तक मदद का इंतजार करते रहे। थोड़ी देर बाद एक स्थानीय पत्रकार ने इस बारे में पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद एंबुलेंस का इंतजाम किया गया। जबकि, कुछ रिपोर्ट्स का दावा है कि पुलिस उस शख्स की मदद करने मौके पर खुद पहुंची थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.