ताज़ा खबर
 

स्टेडियम में ‘रामलीला’, ‘दशहरा मेला’ क्यों? हाईकोर्ट ने SAI से मांगा जवाब

अदालत दक्षिण दिल्ली धार्मिक रामलीला समिति की तरफ से दायर याचिका पर सुनवाई कर रही थी। याचिका में एसएआई और स्टेडियम के प्रशासक को निर्देश देने की मांग की गई है कि वह उसे स्टेडियम के गेट नंबर 2 के पार्किंग स्थल को रामलीला और दशहरा मेला आयोजन के लिये तीन हफ्तों में बुक करने की मंजूरी दे।

Author नई दिल्ली | July 12, 2019 11:58 PM
दिल्ली हाई कोर्ट फोटो सोर्स- जनसत्ता

दिल्ली उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को भारतीय खेल प्राधिकरण (एसएआई) और जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम के प्रशासक से एक समिति की उस याचिका पर जवाब मांगा है जिसमें उससे रामलीला और दशहरा मेला आयोजन के लिये स्टेडियम के बाहर के मैदान को बुक करने की इजाजत मांगी गई है। न्यायमूर्ति विभु बाखरू ने कहा कि स्टेडियम के प्रशासक व्यक्तिगत रूप से हलफनामा दायर करें और बुकिंग रिकॉर्ड्स की मूल फाइल भी अदालत के समक्ष मामले की सुनवाई की अगली तारीख 30 जुलाई को पेश की जाए।

अदालत दक्षिण दिल्ली धार्मिक रामलीला समिति की तरफ से दायर याचिका पर सुनवाई कर रही थी। याचिका में एसएआई और स्टेडियम के प्रशासक को निर्देश देने की मांग की गई है कि वह उसे स्टेडियम के गेट नंबर 2 के पार्किंग स्थल को रामलीला और दशहरा मेला आयोजन के लिये तीन हफ्तों में बुक करने की मंजूरी दे।

समिति का प्रतिनिधित्व कर रहे वरिष्ठ अधिवक्ता रवि गुप्ता और वकील गौरांग गुप्ता ने कहा कि अधिकारियों को आठ अप्रैल को रामलीला और दशहरा मेले के लिये स्थल की बुकिंग के लिये अनुरोध किया गया था और उन्होंने जवाब में कहा कि समिति उपलब्धता के मुताबिक उनके ऑनलाइन पोर्टल के जरिये स्थल की बुकिंग कर सकती है।

इसके बाद समिति ने स्थल को ऑनलाइन पोर्टल के जरिये बुक करने की कोशिश की लेकिन ऐसा नहीं कर सके क्योंकि यह स्थल चयन के लिये उपलब्ध नहीं था। याचिका में कहा गया कि समिति ने जब एक आरटीआई आवेदन किया, तो उसे पता चला कि अधिकारियों ने प्रशासनिक कारणों से जगह के लिये बुंिकग लेना बंद कर दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App