ताज़ा खबर
 

Hathras rape case: हाथरस गैंगरेप मामले में योगी सरकार की बड़ी कार्रवाई, SP, DSP समेत कई अधिकारी सस्पेंड

Hathras rape case: ग्रेस नेता प्रियंका गांधी दिल्ली में पंचकुइन्या रोड स्थित वाल्मीकि मंदिर में हाथरस की बेटी के लिए हुई प्रार्थना सभा में शामिल हुईं। इस दौरान प्रियंका गांधी ने कहा कि हम अन्याय के खिलाफ लड़ते रहेंगे। जबतक इंसाफ नहीं मिलता तबतक शांत नहीं बैठेंगे।

UP CMयूपी के सीएम योगी आदित्य नाथ। ( फाइल फोटो:पीटीआई)

Hathras rape case: हाथरस गैंगरेप मामले में योगी सरकार ने आला अधिकारियों समेत कई लोगों पर डंडा चलाया है। राज्य सरकार ने बड़ी कार्रवाई करते हुए, एसपी, डीएसपी, इंस्पेक्टर समेत कई अन्य संबंधित लोगों को सस्पेंड कर दिया है। मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से इस बात की जानकारी दी गई।

उधर, हाथरस गैंगरेप मामला राजनीतिक तूल पकड़ता जा रहा है। दिल्ली के जनपथ पर तमाम विपक्षी पार्टियों ने योगी सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद, सीताराम येचुरी, कन्हैया कुमार समेत आम आदमी पार्टी के कई नेता मौजूद रहे। इन लोगों ने सीएम योगी के इस्तीफे की मांग की। वहीं, इस दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अलग मांग रखी। उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवार पर कोई बंदिश नहीं होनी चाहिए, वह जिससे चाहें उनसे मिलने की उन्हें इजाजत होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि दिल्ली में जब निर्भया का मामला सामने आया था तब लोगों ने तत्कालीन मुख्यमंत्री शीला दीक्षित से भी इस्तीफे की मांग की थी।

उन्होंने कहा कि रेप की घटना किसी भी राज्य में हो दोषियों को सजा मिलनी चाहिए। वहीं, आप नेता आतिशी ने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि, उस बच्ची का बलात्कार उत्तर प्रदेश प्रशासन ने बार-बार किया है। एहतियात के तौर पर जनपथ मेट्रो स्टेशन बंद कर दिया गया है। मेट्रो स्टेशन की एंट्री और एग्जिट द्वार बंद कर दिए गए हैं इसके अलावा मेट्रो इस स्टेशन पर रुक भी नहीं रही है।

उधर, कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल के बाद शुक्रवार को राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन समेत टीएमसी के कार्यकर्ताओं को हाथरस बॉर्डर पर रोका गया। यह प्रतिनिधिमंडल हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिवार से मिलने जा रहा था, पर रास्ते में पुलिस ने धक्का-मुक्की की। इस दौरान ओ ब्रायन जमीन पर गिर पड़े। पुलिस ने उन लोगों को काबू करने के लिए पीछे किया। टीएमसी की कुछ महिला कार्यकर्ताओं ने इसी को लेकर आरोप लगाया कि पुलिस ने उस वक्त उन लोगों पर लाठीचार्ज किया। साथ ही उनके ब्लाउज भी खींचे।

इससे पहले घटना पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हिन्दू धर्म में रात को कभी अग्नि(शव को) नहीं दी जाती लेकिन उसे (पीड़िता) रात को ही जला दिया गया, उसके परिवार को अंतिम दर्शन तक नहीं करने दिए गए। जिस तरह से सत्ता पक्ष ने पीड़ित परिवार के साथ व्यवहार किया वो अच्छी बात नहीं है।

Live Blog

Highlights

    06:32 (IST)03 Oct 2020
    हाथरस घटना में पुलिस की कार्रवाई से छवि खराब हुई, मीडिया और नेताओं को परिवार से मिलने दिया जाए: उमा

    भाजपा की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने शुक्रवार को कहा कि हाथरस की घटना में उत्तर प्रदेश पुलिस की "संदिग्ध" कार्रवाई के कारण भाजपा, राज्य सरकार और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की छवि को नुकसान पहुंचा है। उन्होंने योगी से अनुरोध किया कि मीडियार्किमयों तथा नेताओं को पीड़िता के परिवार से मिलने दिया जाए।

    06:04 (IST)03 Oct 2020
    नेताओं, मीडिया को एसआईटी जांच पूरी होने तक हाथरस के गांव में प्रवेश की अनुमति नहीं: अधिकारी

    किसी भी नेता और मीडिया को हाथरस के उस गांव में तब तक प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी जब तक कथित सामूहिक बलात्कार मामले की जांच के लिए गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) की तफ्तीश पूरी नहीं हो जाती।

    05:25 (IST)03 Oct 2020
    मोहरों के निलंबन से क्या होगा, योगी आदित्यनाथ इस्तीफा दें: प्रियंका

    कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने हाथरस के कथित सामूहिक बलात्कार के मामले में कुछ पुलिस अधिकारियों के निलंबन के बाद शुक्रवार को कहा कि ‘मोहरों’ के निलंबन से क्या होगा, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इस्तीफा देना चाहिए।

    03:05 (IST)03 Oct 2020
    बीजेपी को बारां जाकर हकीकत देखनी चाहिए: गहलौत

    राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बारां में दो नाबालिग बहनों से कथित दुष्कर्म को लेकर मुख्य विपक्ष दल पर निशाना साधा और कहा कि वे खुद वहां जाकर हकीकत से रूबरू क्यों नहीं होते। गहलोत ने कहा,' भाजपा नेताओं को बारां का दौरा नहीं करने के लिए राहुल व प्रियंका गांधी पर सवाल उठाने के बजाय, खुद वहां जाकर हकीकत जाननी चाहिए।' उल्लेखनीय है कि राज्य के बारां शहर की दो नाबालिग बहनें 19 सितंबर को घर से गायब हो गयीं थी, जिन्हें 22 सितंबर को कोटा से बरामद किया गया। बयान आदि दर्ज करने के बाद इन बालिकाओं को उनके परिजनों को सौंप दिया गया। पुलिस के अनुसार दोनों लड़कियों ने अपने 164 के बयानों में किया स्पष्ट कि उनसे कोई दुष्कर्म नहीं हुआ। इन दोनों के चिकित्सकीय परीक्षण में भी दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई। मुख्य विपक्ष दल भाजपा इस घटना को लेकर राज्य सरकार पर निशाना साध रहा और सवाल उठा रहा है कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी व प्रियंका गांधी कांग्रेस शासित राजस्थान के बारां क्यों नहीं आते?

    00:44 (IST)03 Oct 2020
    राहुल और प्रियंका के साथ जो हुआ, वह संकेत है कि सरकार कुछ छिपा रही: सुप्रिया

    NCP नेता सुप्रिया सुले ने कहा- मुझे लगता है कि यूपी सरकार कुछ छिपाना चाहती है। राहुल, प्रियंका और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ जो हुआ, डीएम और अन्य लोगों के बयानों से साबित होता है कि यूपी सरकार कुछ छिपाना चाहती है।

    22:05 (IST)02 Oct 2020
    हाथरस गैंगरेप: योगी सरकार का चला डंडा
    20:46 (IST)02 Oct 2020
    हाथरस घटना: जंतर मंतर पर वाम दलों के नेताओं ने उप्र सरकार को बर्खास्त करने की मांग की

    वाम दलों के नेताओं ने शुक्रवार को यहां जंतर मंतर पर एकत्र होकर प्रदर्शन में हिस्सा लिया और कथित सामूहिक बलात्कार के बाद चोटों के चलते जिंदगी की जंग हारने वाली 19 वर्षीय दलित लड़की के लिये न्याय की मांग की। माकपा महासचिव सीताराम येचुरी, पोलित ब्यूरो सदस्य बृंदा करात और भाकपा नेता डी राजा सहित वाम दलों के अन्य नेता प्रदर्शन स्थल पर मौजूद थे। उन्होंने इस मुद्दे पर केंद्र सरकार की चुप्पी पर सवाल उठाया। येचुरी ने कहा, ‘‘इस तरह के एक जघन्य अपराध पर केंद्र सरकार और भाजपा नेतृत्व की चुप्पी तथा उसके बाद उत्तर प्रदेश सरकार की प्रतिक्रिया सत्तारूढ़ दल(भाजपा) के तानाशाह और अलोकतांत्रिक चेहरे, चाल, चरित्र तथा चिंतन के बारे में काफी कुछ कहती है। ’’ उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार को सत्ता में बने रहे का कोई अधिकार नहीं है। प्रदर्शन स्थल पर मौजूद हजारों लोगों ने पीड़िता के लिये न्याय की मांग की, जिसकी मंगलवार सुबह यहां सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई।

    20:37 (IST)02 Oct 2020
    दिग्विजय सिंह का भाजपा पर निशाना

    राहुल गांधी को हाथरस जाने से रोकने पर दिग्विजय सिंह ने कहा है- राहुल गांधी और प्रियंका जी अकेले जाकर पीड़िता के परिवार से मिलना चाहते थे, उनको क्यों रोका गया? धारा 144 और 188 लागू करने की जवाबदेही प्रशासन की है, जब भाजपा के कार्यक्रम होते हैं तब ये ही प्रशासन कार्रवाई क्यों नहीं करता?

    19:07 (IST)02 Oct 2020
    उप्र सरकार हाथरस पीड़िता को झूठा साबित करने की साजिश रच रही :सुरजेवाला

    हाथरस की दलित लड़की से बलात्कार नहीं होने का उत्तर प्रदेश के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के दावा करने के एक दिन बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि राज्य की भाजपा सरकार ‘‘पीड़िता को झूठा साबित करने की साजिश’’ रच रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि उप्र के अधिकारियों ने चीजों को ढंकने की कोशिश की और हिंदू धर्म के रस्मों के विरूद्ध रातोंरात पीड़िता का जबरन दाह-संस्कार कर दिया।’’ सुरजेवाला ने कहा, ‘‘यह अपने आप में एक दुखद घटना है। (उप्र की) योगी आदित्यनाथ सरकार का सिर शर्म से झुक जाना चाहिए। ’’ कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘आदित्यनाथ के एडीजी, कानून व्यवस्था, अब कह रहे हैं कि बलात्कार नहीं हुआ था। आदित्यनाथ जी, यदि आपकी भी बेटी होती तो आपको दर्द समझ में आता। यदि किसी के बेटी या बेटे के साथ कोई अप्रिय घटना होती है तो कितना दर्द होता है। ’’ हरियाणा के पूर्व मंत्री ने कहा कि पीड़िता ने मृत्यु पूर्व अपने बयान में सामूहिक बलात्कार की पुष्टि की थी।

    17:31 (IST)02 Oct 2020
    माताओं-बहनों के सम्‍मान को क्षति पहुंचाने वालों का समूल नाश सुनिश्चित : योगी

    महिलाओं के खिलाफ आपराधिक गतिविधियों में शामिल लोगों को मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शुक्रवार को कड़ा संदेश दिया और कहा कि ऐसे लोगों के खिलाफ अत्यंत कठोर कार्रवाई की जाएगी। योगी ने ट्विटर पर कहा ''उत्‍तर प्रदेश में माताओं-बहनों के सम्‍मान और स्‍वाभिमान को क्षति पहुंचाने का विचार मात्र रखने वालों का समूल नाश सुनिश्चित है। इन्‍हें ऐसा दंड मिलेगा जो भविष्‍य में उदाहरण प्रस्‍तुत करेगा।'' मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘आपकी उत्‍तर प्रदेश सरकार हर माता-बहन की सुरक्षा व विकास के लिए संकल्‍पबद्ध है। यह हमारा संकल्‍प ह‍ै-वचन है।'' योगी का यह बयान ऐसे समय आया है जब प्रदेश में महिलाओं के साथ दुष्‍कर्म और आपराधिक घटनाओं को लेकर विपक्ष ने व्यापक विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिए हैं।

    16:49 (IST)02 Oct 2020
    हाथरस की बेटी के लिए हो रही प्रार्थना सभा में शामिल होंगी प्रियंका गांधी

    प्रियंका गांधी दिल्ली में पंचकुइन्या रोड स्थित वाल्मीकि मंदिर में हाथरस की बेटी के लिए हो रही प्रार्थना सभा में पहुंच रही हैं। इस वाल्मीकि मंदिर में दो सौ दिन रुककर महात्मा गांधी जी ने स्वाधीनता की अलख जगाई थी।

    13:35 (IST)02 Oct 2020
    हाथरस गैंगरेप मामलाः यूपी सरकार कुछ छिपाना चाहती हैृ- बोलीं सुले

    NCP नेता सुप्रिया सुले ने कहा- मुझे लगता है कि यूपी सरकार कुछ छिपाना चाहती है। राहुल, प्रियंका और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ जो हुआ, डीएम और अन्य लोगों के बयानों से साबित होता है कि यूपी सरकार कुछ छिपाना चाहती है।

    13:15 (IST)02 Oct 2020
    विपक्ष की आवाज को दबाने की कोशिश कर रही है योगी सरकार : पायलट

    हाथरस जा रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी व प्रियंका गांधी के साथ पुलिस व प्रशासन के व्यवहार की भर्त्सना करते हुए कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने शुक्रवार को कहा उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार विपक्ष की आवाज को दबाने का प्रयास कर रही है। हाथरस प्रकरण में पीड़िता के परिवार से मिलने जा रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी व प्रियंका गांधी को पुलिस ने रास्ते में रोककर हिरासत में ले लिया। इस घटना की ओर इशारा करते हुए पायलट ने संवाददाताओं से कहा,' मुख्यमंत्री योगी व पूरे प्रशासन ने विपक्ष की आवाज दबाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। राहुल गांधी व प्रियंका गांधी के साथ कल जो बर्ताव किया गया वह अशोभनीय है निंदनीय है। संस्कार, मानवता संविधान व कानून सबकी धज्जियां उड़ाई गयीं।' पायलट ने कहा,' पूरे देश में आज आक्रोश इस बात को लेकर है कि इस घिनौने जुर्म को करने वालों को बचाने का प्रयास उत्तर प्रदेश सरकार कर रही है।'

    12:40 (IST)02 Oct 2020
    देखें, क्या हुआ TMC प्रतिनिधिमंडल के साथ?
    12:24 (IST)02 Oct 2020
    भाजपा नेता खुद बारां क्यों नहीं जाते : गहलोत

    राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बारां में दो नाबालिग बहनों से कथित दुष्कर्म को लेकर मुख्य विपक्ष दल पर निशाना साधा और कहा कि वे खुद वहां जाकर हकीकत से रूबरू क्यों नहीं होते। गहलोत ने कहा,' भाजपा नेताओं को बारां का दौरा नहीं करने के लिए राहुल व प्रियंका गांधी पर सवाल उठाने के बजाय, खुद वहां जाकर हकीकत जाननी चाहिए।' उल्लेखनीय है कि राज्य के बारां शहर की दो नाबालिग बहनें 19 सितंबर को घर से गायब हो गयीं थी, जिन्हें 22 सितंबर को कोटा से बरामद किया गया। बयान आदि दर्ज करने के बाद इन बालिकाओं को उनके परिजनों को सौंप दिया गया। पुलिस के अनुसार दोनों लड़कियों ने अपने 164 के बयानों में किया स्पष्ट कि उनसे कोई दुष्कर्म नहीं हुआ। इन दोनों के चिकित्सकीय परीक्षण में भी दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई। मुख्य विपक्ष दल भाजपा इस घटना को लेकर राज्य सरकार पर निशाना साध रहा और सवाल उठा रहा है कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी व प्रियंका गांधी कांग्रेस शासित राजस्थान के बारां क्यों नहीं आते?

    11:31 (IST)02 Oct 2020
    हाथरस मामले में उच्च न्यायालय का आदेश आशा की किरण: प्रियंका

    कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने हाथरस की घटना को लेकर इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ द्वारा शीर्ष अधिकारियों को समन जारी किए जाने को लेकर शुक्रवार को कहा कि इस मामले में यह एक आशा की एक किरण है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ इलाहाबाद उच्च न्यायालय का एक मजबूत और उत्साहजनक आदेश आया है। पूरा देश हाथरस की बलात्कार पीड़िता के लिए न्याय की मांग कर रहा है।’’ कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी ने कहा, ‘‘पीड़िता के परिवार के साथ उप्र सरकार की ओर से किए गए अंधकारमय, अमानवीय और अन्यायपूर्ण व्यवहार के बीच उच्च न्यायालय का आदेश आशा की एक किरण है।’’ गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में 19 वर्षीय दलित युवती के साथ कथित सामूहिक बलात्कार, हत्या और उसके जबरन अंतिम संस्कार की घटना से नाखुश इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ ने बृहस्पतिवार को समन जारी कर राज्य सरकार के शीर्ष अधिकारियों को अदालत में उपस्थित होने को कहा।

    10:48 (IST)02 Oct 2020
    राहुल के साथ धक्का-मुक्की, शिवसेना बोली- ये लोकतंत्र का रेप है
    10:00 (IST)02 Oct 2020
    हाथरस कांड : उच्च न्यायालय ने शीर्ष अधिकारियों को किया तलब, राहुल एवं प्रियंका हिरासत में लिये गये

    इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में 19 वर्षीय दलित युवती के साथ कथित सामूहिक बलात्कार और उसकी मौत के मामले में बृहस्पतिवार को राज्य सरकार के शीर्ष अधिकारियों को समन भेजा, वहीं कांग्रेस ने जबर्दस्त प्रदर्शन किया एवं उसके वरिष्ठ नेता राहुल गांधी एवं प्रियंक गांधी वाद्रा को उत्तर प्रदेश पुलिस ने हिरासत में ले लिया। दिल्ली के पास ग्रेटर नोएडा में पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा को उस समय हिरासत में ले लिया गया जब दोनों दलित बालिका के परिवार से मुलाकात के लिए हाथरस जाने पर अड़े हुए थे। आनन-फानन में इस युवती के शव का अंतिम संस्कार किये जाने की देशभर में जबर्दस्त निंदा की गयी। उत्तर प्रदेश पुलिस ने कहा कि राहुल, प्रियंका और अन्य 150 नेताओं को निषेधाज्ञा का उल्लंघन करने पर हिरासत में लिया गया लेकिन निजी मुचलका जमा करने पर उन्हें छोड़ दिया गया।

    08:31 (IST)02 Oct 2020
    योगी सरकार से सवाल क्यों नहीं कर रहा मीडिया?- राज ठाकरे

    महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के अध्यक्ष राज ठाकरे ने बृहस्पतिवार को कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने उनको क्यों रोका जो हाथरस बलात्कार पीड़िता के परिवार वालों से मिलना चाहते थे। उन्होंने आश्चर्य प्रकट करते हुए कहा कि मीडिया उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार से प्रश्न क्यों नहीं पूछ रहा है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाद्रा और लगभग 150 पार्टी कार्यकर्ताओं को हाथरस जाते हुए ग्रेटर नोएडा में हिरासत में ले लिया गया था। ठाकरे ने संवाददाताओं से पूछा, “कोई मृतका के परिजनों से मिलने जा रहा था तो उन्हें क्यों रोका गया और बदसलूकी क्यों की गई? सरकार को किसका डर है?”

    06:23 (IST)02 Oct 2020
    ममता ने हाथरस पीड़िता के अंतिम संस्कार की तुलना सीता की अग्नि परीक्षा से की

    पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बृहस्पतिवार को हाथरस कांड की पीड़िता के देर रात में अंतिम संस्कार की तुलना सीता की ‘अग्नि-परीक्षा’ से की, वहीं राज्य में कांग्रेस ने अनेक स्थानों पर उत्तर प्रदेश की घटना के विरोध में प्रदर्शन किया। भाजपा की प्रदेश इकाई ने बनर्जी पर ‘दोहरे मानदंड’ रखने का आरोप लगाते हुए कहा कि उनके राज्य में इसी तरह की घटनाओं पर वह चुप रहती हैं। जलपाईगुड़ी जिले में एक सरकारी कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बनर्जी ने इस मामले को संभालने को लेकर उत्तर पुलिस की भूमिका पर सवाल उठाए। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘एक बार देवी सीता को अग्नि- परीक्षा से गुजरना पड़ा था। अब उत्तर प्रदेश में दलित युवती के साथ दुष्कर्म किया गया और उसके शव को अग्नि के हवाले कर दिया गया।’’

    04:58 (IST)02 Oct 2020
    मध्यप्रदेश कांग्रेस ने योगी सरकार का फूंका पुतला

    उत्तर प्रदेश में हाथरस प्रकरण को लेकर पीड़िता के परिवार से मिलने जा रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी को हिरासत में लेने के विरोध में मध्यप्रदेश कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने बृहस्पतिवार को यहां लिली टॉकीज चौराहे के पास प्रदर्शन करके उत्तरप्रदेश की भाजपा नीत योगी आदित्यनाथ सरकार का पुतला फूंका। विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे कांग्रेस के स्थानीय विधायक आरिफ मसूद ने कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश में जंगलराज है। वहां पर एक दलित बेटी के साथ बलात्कार होता है और जब हमारे नेता राहुल गांधी जी और प्रियंका गांधी वाद्रा पीड़ित परिवार से मिलने जाते हैं तो उन्हें रोका जाता है।’’ मसूद ने आरोप लगाया कि इस दौरान राहुल गांधी को धक्का दिया गया। उन्होंने कहा कि ऐसा करके उत्तरप्रदेश सरकार ने हद पार कर दी है।

    03:11 (IST)02 Oct 2020
    राहुल, प्रियंका को हिरासत में लिए जाने से गुस्साए कांग्रेस नेता, कहा उत्तर प्रदेश में है ‘जंगल राज’

    कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव एवं उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाद्रा को हिरासत में लिए जाने से नाराज देश भर के कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार को बर्खास्त करने की मांग करते हुए राज्य में ‘जंगल राज’ व्याप्त होने का आरोप लगाया है। गौरतलब है कि राहुल और प्रियंका बृहस्पतिवार को पैदल हाथरस कांड की पीड़ित दलित युवती के परिवार से मिलने के लिए निकले थे। लेकिन दोनों नेताओं को ग्रेटर नोएडा में पुलिस ने हिरासत में ले लिया। केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने राहुल, प्रियंका के साथ कथित धक्का-मुक्की, उन्हें हिरासत में लिए जाने और हाथरस जाकर पीड़ित दलित परिवार से मिलने से रोकने को लेकर पुलिस और उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार की आलोचना की।

    01:28 (IST)02 Oct 2020
    राहुल, प्रियंका और अन्य 150 नेताओं को निषेधाज्ञा का उल्लंघन करने पर हिरासत में लिया गया

    दिल्ली के पास ग्रेटर नोएडा में पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा को उस समय हिरासत में ले लिया गया जब दोनों दलित बालिका के परिवार से मुलाकात के लिए हाथरस जाने पर अड़े हुए थे। आनन-फानन में इस युवती के शव का अंतिम संस्कार किये जाने की देशभर में जबर्दस्त निंदा की गयी। उत्तर प्रदेश पुलिस ने कहा कि राहुल, प्रियंका और अन्य 150 नेताओं को निषेधाज्ञा का उल्लंघन करने पर हिरासत में लिया गया लेकिन निजी मुचलका जमा करने पर उन्हें छोड़ दिया गया।

    23:55 (IST)01 Oct 2020
    हाथरस कांड : उच्च न्यायालय ने शीर्ष अधिकारियों को किया तलब

    इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में 19 वर्षीय दलित युवती के साथ कथित सामूहिक बलात्कार और उसकी मौत के मामले में बृहस्पतिवार को राज्य सरकार के शीर्ष अधिकारियों को समन भेजा, वहीं कांग्रेस ने जबर्दस्त प्रदर्शन किया एवं उसके वरिष्ठ नेता राहुल गांधी एवं प्रियंक गांधी वाद्रा को उत्तर प्रदेश पुलिस ने हिरासत में ले लिया

    22:02 (IST)01 Oct 2020
    राहुल गांधी को हिरासत में लिये जाने के विरोध में मध्यप्रदेश कांग्रेस ने योगी सरकार का फूंका पुतला

    उत्तर प्रदेश में हाथरस प्रकरण को लेकर पीड़िता के परिवार से मिलने जा रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी को हिरासत में लेने के विरोध में मध्यप्रदेश कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने बृहस्पतिवार को यहां लिली टॉकीज चौराहे के पास प्रदर्शन करके उत्तरप्रदेश की भाजपा नीत योगी आदित्यनाथ सरकार का पुतला फूंका। विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे कांग्रेस के स्थानीय विधायक आरिफ मसूद ने कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश में जंगलराज है। वहां पर एक दलित बेटी के साथ बलात्कार होता है और जब हमारे नेता राहुल गांधी जी और प्रियंका गांधी वाद्रा पीड़ित परिवार से मिलने जाते हैं तो उन्हें रोका जाता है।’’ मसूद ने आरोप लगाया कि इस दौरान राहुल गांधी को धक्का दिया गया। उन्होंने कहा कि ऐसा करके उत्तरप्रदेश सरकार ने हद पार कर दी है।

    20:36 (IST)01 Oct 2020
    योगी की जगह किसी 'काबिल' को बनाए मुख्यमंत्री या लगाएं राष्ट्रपति शासन: मायावती

    बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने बृहस्पतिवार को उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर कड़ा हमला करते हुए केंद्र सरकार से राज्य में नेतृत्व परिवर्तन करने या राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की। राज्य सरकार ने इस पर पलटवार करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के रूप में मायावती के कार्यकाल में उत्तर प्रदेश में एक हजार से ज्यादा दलितों की हत्या हुई थी और आज वह सरकार पर उंगली उठा रही हैं। मायावती ने संवाददाताओं से कहा कि प्रदेश में कानून-व्यवस्था और महिलाओं के प्रति अपराधों की बाढ़ के मद्देनजर जो हालात बन गए हैं, उनमें केंद्र सरकार को प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की जगह किसी 'काबिल' व्यक्ति को मुख्यमंत्री बनाना चाहिए और अगर ऐसा संभव ना हो तो राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू कर देना चाहिए।

    19:15 (IST)01 Oct 2020
    दलित युवती के बलात्कारियों को फांसी देने की बसपा की मांग

    बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने हाथरस में दलित युवती के कथित बलात्कारियों और हत्यारों को फांसी की सजा देने तथा उसके शव का आधी रात को दाह संस्कार करने के लिए जिम्मेदार पुलिसकर्मियों को बर्खास्त करने की बृहस्पतिवार को मांग की। बसपा की ऋषिकेश इकाई के वरिष्ठ उपाध्यक्ष पंकज जाटव की अगुवाई में पार्टी के एक प्रतिनिधिमंडल ने उपजिलाधिकारी वरूण चौधरी से मुलाकात की और उन्हें राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन सौंपा जिसमें 19 वर्षीय युवती के कथित बलात्कारियों और हत्यारों को फांसी देने की मांग की गयी है। जाटव ने बताया कि युवती का रात में दाह संस्कार करने के लिए जिम्मेदार पुलिसकर्मियों की बर्खास्तगी की भी मांग ज्ञापन में की गयी है।

    18:39 (IST)01 Oct 2020
    राहुल-प्रियंका की ‘गिरफ्तारी’ के खिलाफ प्रदर्शन करें सभी प्रदेश इकाइयां: कांग्रेस

    कांग्रेस ने बृहस्पतिवार को अपनी सभी प्रदेश कांग्रेस कमेटियों से कहा कि वे राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाद्रा को उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा ‘गिरफ्तार किए जाने’ के विरोध में प्रदर्शन करें। पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने ट्वीट कर दावा किया, ‘‘न्याय की मांगने और हाथरस की पीड़िता के परिवार से मिलने का प्रयास करने के लिए उत्तर प्रदेश की डरपोक सरकार ने राहुल गांधी जी और प्रियंका गांधी जी को गिरफ्तार किया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं सभी प्रदेश कांग्रेस कमेटियों और कार्यकर्ताओं से अपील करता हूं कि वे राहुल जी, प्रियंका जी और दूसरे नेताओं की गिरफ्तारी के खिलाफ प्रदर्शन करें।’’ गौरतलब है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा को पुलिस ने बृहस्पतिवार को सामूहिक बलात्कार की पीड़िता के परिवार से मुलाकात के लिए हाथरस जाने से रोक दिया और हिरासत में ले लिया। हालांकि, पार्टी ने दावा किया कि दोनों नेताओं को गिरफ्तार किया गया है।

    17:13 (IST)01 Oct 2020
    F-1 गेस्ट हाउस से निकले राहुल-प्रियंका

    राहुल और प्रियंका गांधी F-1 गेस्ट हाउस से निकल चुके हैं। इसका मतलब है कि यूपी पुलिस उन्हें समझाने में कामयाब हो गई। दोनों को दिल्ली ले जाया जा रहा है। वहीं  कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, लाला लाजपत राय ने कहा था मेरे तन पर पड़ा लाठी का एक एक वार अंग्रेजी राज के ताबूत में आखिरी कील साबित होगा। राहुल जी और प्रियंका जी के काफिले पर चल रहीं लाठियां भी योगी सरकार के ताबूत में आखिरी कील साबित होंगी।

    16:45 (IST)01 Oct 2020
    राष्ट्रीय महिला आयोग ने पुलिस से जवाब मांगा

    राष्ट्रीय महिला आयोग ने पीड़िता का 'परिवार की गैरमौजूदगी में' रात के समय अंतिम संस्कार किये जाने को लेकर प्रदेश की पुलिस से जवाब मांगा है। आयोग ने उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक हितेश अवस्थी को पत्र लिखकर कहा है कि पीड़िता का रात के समय अंतिम संस्कार किये जाने को लेकर स्पष्टीकरण दिया जाये।

    16:01 (IST)01 Oct 2020
    शव के अंतिम संस्कार में जो किया वह तो और भी बड़ा अपमान

    कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश में जंगलराज का आरोप लगाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इसकी जिम्मेदारी लेते हुए अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हाथरस सामूहिक बलात्कार बहुत अन्यायपूर्ण थी और उसके बाद सरकार ने शव के अंतिम संस्कार में जो किया वह तो और भी बड़ा अपमान था।

    15:31 (IST)01 Oct 2020
    महामारी अधिनियम का उल्लंघन किया जा रहा है, अनुमति नहीं देंगे - एडीसीपी रणविजय सिंह

    नोएडा के एडीसीपी रणविजय सिंह ने कहा है कि हमने उन्हें (प्रियंका गांधी वाड्रा और काफिले को) यहां रोका है। महामारी अधिनियम का उल्लंघन किया जा रहा है. हम उन्हें आगे बढ़ने की अनुमति नहीं देंगे. वहीं, प्रियंका गांधी ने कहा है कि, ''मुख्यमंत्री को जिम्मेदारी लेनी चाहिए और अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। उत्तर प्रदेश में बहनों को न्याय नहीं मिलता. यह कोई पहली बार नहीं है। आपको याद होगा कि पिछले साल भी इसी वक्त हम उन्नाव की बेटी की लड़ाई लड़ रहे थे।''

    14:55 (IST)01 Oct 2020
    न बेटी बच पा रही है, न पढ़ पा रही है, कांग्रेस का तंज़

    मध्यप्रदेश कांग्रेस नेता पीसी शर्मा ने कहा, 'न बेटी बच पा रही है, न पढ़ पा रही है। खरगोन में भी हाथरस जैसी घटना हुई। अभियुक्त को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है। मामले को फास्ट-ट्रैक कोर्ट में भेजा जाना चाहिए और उन्हें फांसी दी जानी चाहिए। संबंधित अधिकारियों को निलंबित किया जाना चाहिए।'

    14:29 (IST)01 Oct 2020
    राहुल गांधी और प्रियंका गांधी पर बीजेपी सांसद रवि किशन ने निशाना साधा

    राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के हाथरस जाने पर बीजेपी सांसद रवि किशन ने निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि राहुल और प्रियंका राजस्थान क्यों नहीं जा रहे हैं। वहां उनकी सरकार में भी बलात्कार हो रहे हैं. उन्होंने कांग्रेस पर ओछी राजनीति करने का आरोप लगाया है।

    13:29 (IST)01 Oct 2020
    राजस्थान का दौरा क्यों नहीं करते कांग्रेस नेता??

    राहुल और प्रियंका के हाथरस दौरे से पहला बीजेपी ने उन पर निशाना साधा है। यूपी के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने पूछा कि वे (कांग्रेस नेता) राजस्थान का दौरा क्यों नहीं कर रहे हैं? क्या सोनिया, राहुल और प्रियंका गांधी राजस्थान में हो रही घटनाओं पर जवाब नहीं देंगे? वे जिले का दौरा कर इस मुद्दे पर राजनीति करना चाहते हैं (हाथरस बलात्कार की घटना)।

    13:12 (IST)01 Oct 2020
    हाथरस के लिए रवाना हुए राहुल और प्रियंका

    कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा सामूहिक बलात्कार की पीड़िता के परिवार से मिलने के लिए हाथरस के लिए रवाना हुए। कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, दोनों नेता एक वाहन में सवार हैं। उनके साथ उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और कई अन्य नेता भी हाथरस के लिए रवाना हुए हैं। इस बीच, उत्तर प्रदेश-दिल्ली सीमा के निकट डीएनडी पर कांग्रेस के कई नेता और कार्यकर्ता जमा हुए और उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश सरकार राहुल गांधी और प्रियंका को रोकने के प्रयास में है। उन्होंने सवाल किया, ‘‘अपराधियों को रोकने के बजाय राहुल जी और प्रियंका जी को रोकने की कोशिश क्यों रही है?’’

    12:48 (IST)01 Oct 2020
    समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया

    समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को गांव में घुसने की अनुमति नहीं दी गई है। जिसके बाद कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है। भारी मात्र में सपा कार्यकर्ता लाल टोपी लगाकर गाँव के मुख्यद्वार पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

    12:26 (IST)01 Oct 2020
    राहुल गांधी और प्रियंका गांधी पीड़िता के परिवार से मिलने आज हाथरस जाएंगे

    कांग्रेस नेता राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी पीड़िता के परिवार से मिलने हाथरस जा रहे हैं। लेकिन इससे पहले ही वहां धारा 144 लागू कर दी गई है। प्रशासन का कहना है कि ऐसा कोरोना वायरस के चलते किया गया है। जिले में 1 सितंबर से 31 अक्टूबर के बीच धारा 144 लागू की गई है।

    Next Stories
    1 यूपी में रेप का विरोध करने पर पुलिस ने किया नजरबंद- भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर रावण ने किया ट्वीट
    2 Bihar Election: लालू के ‘घर’ में ही अब तक एक बार भी नहीं जीत सका है राजद, 35 साल से जीत के इंतजार में कांग्रेस
    3 UP में मनचलों को पकड़ने वाले नहीं सुरक्षित? एंटी रोमियो स्कवॉड की प्रभारी ने सीनियर अफसर पर लगाया शोषण का आरोप
    IPL 2020
    X