ताज़ा खबर
 

हाथरस: पूरे देश में राम राज्‍य यात्रा निकालेगी क्षत्रिय महासभा, कहा- निर्दोषों को बचाएंगे

हिंदू रक्षा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी प्रबुद्धनंद गिरि ने कहा कि भारत में सदियों से वर्ण व्यवस्था लागू है जिसको तोड़ने से समाज टूट जाएगा।

Edited By नितिन गौतम लखनऊ | Updated: October 10, 2020 7:23 PM
क्षत्रिय महासभा निकालेगी राम राज्य यात्रा। (फाइल फोटो)

हाथरस में दलित समुदाय की युवती के साथ कथित सामूहिक दुष्कर्म और उसकी मौत के बाद उत्तर प्रदेश में नित बदल रहे घटनाक्रम के बीच अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने शनिवार को राम राज्य यात्रा निकालने की घोषणा की। अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के वरिष्ठ राष्ट्रीय महामंत्री कुंवर राघवेंद्र सिंह राजू ने यहां अपने मुख्यालय में पत्रकारों को बताया कि विजयादशमी के बाद हिदू रक्षा सेना के सहयोग से क्षत्रिय महासभा पूरे देश में राम राज्य यात्रा का आयोजन करने जा रही है।

आगरा एवं अलीगढ़ मंडल के दौरे से लौटे सिंह ने कहा, ‘‘हाल में घटी घटनाओं को लेकर क्षत्रिय समाज में काफी आक्रोश व्याप्त है। संगठन चाहता है कि किसी भी निर्दोष बच्चों को फंसाया नहीं जाना चाहिए। हम हर निर्दोष को विधिक सहायता प्रदान करेंगे।’’ उन्होंने हाथरस घटना पर चिंता जतायी और विपक्षी दलों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा, ‘‘सत्ता स्वार्थ के लिए देश जलाने वालों सुधर जाओ, अब जनता सब समझ रही है।’’

वरिष्ठ महामंत्री ने कहा कि अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने मांग उठाई थी कि सीबीआई जांच हो और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सीबीआई के आदेश दे दिए है।

हिंदू रक्षा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी प्रबुद्धनंद गिरि ने कहा कि भारत में सदियों से वर्ण व्यवस्था लागू है जिसको तोड़ने से समाज टूट जाएगा। राम राज्य यात्रा निकालने की आवश्यकता पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि मौजूदा घटिया राजनीति और माहौल को देखते हुए पूरे देश को एक सूत्र में फिर से पिरोने की बेहद आवश्यकता है।

पूर्व केन्द्रीय मंत्री महेंद्र सिंह तंवर और दिल्ली बलात्कार केस के दोषियों के वकील एपी सिंह भी आज हाथरस पहुंचे। वहीं हाथरस की घटना के विरोध में पंजाब के जालंधर और लुधियाना में दलित समाज ने आज बंद बुलाया। पीड़िता के घर पर पुलिस का कड़ा पहरा है। बता दें कि हाथरस में जातीय हिंसा भड़काने की कथित साजिश का खुलासा हुआ है, जिसके बाद पीड़ित परिवार से मिलने आने वाले लोगों की पूरी जानकारी रखी जा रही है।

Next Stories
1 जो बाप नहीं, वो औलाद का और जो किसान नहीं, वो खेती का दर्द क्या जाने- कांग्रेसी विजेंद्र सिंह का ट्वीट, यूं मजे लेने लगे लोग
2 हाथ से बाहर हो रहे हालात? COVID-19 के ‘केसलोड’ में महाराष्ट्र, कर्नाटक के बाद केरल, मंत्री का दावा- ये संक्रमण का चरम नहीं
3 बंगाल BJP के मार्च में बवालः गर्माया सिख की पगड़ी खींचने का मुद्दा; विजयवर्गीय समेत 24 पर केस, 100 से अधिक कार्यकर्ता अरेस्ट
ये पढ़ा क्या?
X