ताज़ा खबर
 

गुरुग्राम: चलती कार में अगवा कर सामूहिक बलात्कार, PCR वैन में सोते मिले पुलिसवाले

गत दिनों जेवर इलाके में तीन महिलाओं के साथ रात में हुई सामूहिक बलात्कार की वरदात का गौतमबुद्ध नगर पुलिस अभी तक खुलासा नहीं कर सकी है।

Author नोएडा | June 21, 2017 12:57 AM
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

गुरुग्राम से युवती को अगवा कर कार सवार तीन बदमाशों ने उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया। पूरी रात चलती कार में वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी मंगलवार सुबह युवती को ग्रेटर नोएडा के कासना थाना क्षेत्र में फेंककर फरार हो गए। मंगलवार तड़के लोगों ने बदहवास हालत में युवती को देखकर पुलिस को सूचना दी। कासना थाना पुलिस ने महिला को इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया है। मेडिकल जांच कराने के बाद पुलिस ने महिला के बयान भी दर्ज किए हैं। आरोपियों की पहचान और घटनास्थल की सही जानकारी के लिए ग्रेटर नोएडा पुलिस महिला को सोहना (गुरुग्राम) लेकर गई है।
पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक गुरुग्राम के सोहना इलाके से स्व्फ्टि कार में सवार तीन बदमाशों ने 35 वर्षीय युवती को सोमवार रात करीब 8.30 बजे जबरन अगवा किया था। आरोप है कि तीनों ने चलती कार में महिला के साथ सामूहिक बलात्कार किया। रात भर सड़कों पर घुमाने के बाद आरोपी महिला को मंगलवार सुबह एडब्लूएचओ सोसायटी के पास फेंककर फरार हो गए। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने महिला को निजी अस्पताल में भर्ती कराया। बताया गया है कि मूल रूप से राजस्थान के भरतपुर की रहने वाली युवती पिछले सप्ताह ही सोहना आई थी।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XZs G8232 64 GB (Ice Blue)
    ₹ 34999 MRP ₹ 51990 -33%
    ₹3500 Cashback
  • Honor 7X 64 GB Blue
    ₹ 16010 MRP ₹ 16999 -6%
    ₹0 Cashback

महिला ने बताया कि सोमवार रात वह सोहना में अपने घर के पास टहल रही थी, जब कुछ लोगों ने उसे कार में खींच लिया। वे लोग उसके साथ छेड़छाड़ करने लगे और फिर चलती कार में कम से कम चार से पांच घंटों तक उसके साथ बलात्कार किया गया। दिल्ली से वे लोग ग्रेटर नोएडा पहुंच गए जहां अंधेरी जगह देखकर उन लोगों ने महिला को कार से बाहर फेंक दिया और खुद फरार हो गए। उन्होंने महिला को धमकाया कि अगर वह पुलिस के पास गई तो उसे गंभीर नतीजे भुगतने होंगे। महिला दस से पंद्रह दिन पहले ही गुरुग्राम आई थी और सोहना इलाके में अपने परिवार के साथ रह रही थी। बदमाशों ने युवती को जहां फेंका, वहां से बीयर की कुछ बोतलें भी मिली हैं। इस जगह से कुछ दूर अल्फा कर्मशील इलाके में खड़ी एक पीसीआर में सोते हुए दो पुलिसकर्मियों का वीडियो बनाकर किसी ने डाल दिया। वीडियो के वायरल होने के बाद पुलिस की खासी किरकिरी हुई है। बताया गया है कि पीसीआर में सो रहे दोनों पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।

गुरुग्राम पुलिस आयुक्त संदीप खिरवार ने कहा, हमने गौतमबुद्ध नगर के एसएसपी लव कुमार से सारी जानकारी ले ली है। गौतमबुद्ध नगर पुलिस का एक दल गुरुग्राम आ रहा है जो अपराध की कड़ियों को जोड़ेगा। हम पता करेंगे कि इस मामले में उन्होंने जीरो प्राथमिकी दर्ज की है या नहीं। हम नोएडा पुलिस की मदद कर रहे हैं और मामले की जांच कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि सुराग पाने के लिए पुलिस दल एनसीआर क्षेत्र की प्रमुख सड़कों के सीसीटीवी फुटेज की जांच कर रहे हैं। अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है। गौरतलब है कि गत दिनों जेवर इलाके में तीन महिलाओं के साथ रात में हुई सामूहिक बलात्कार की वरदात का गौतमबुद्ध नगर पुलिस अभी तक खुलासा नहीं कर सकी है। रात भर गुड़गांव, फरीदाबाद, दिल्ली और ग्रेटर नोएडा में कार में हुई सामूहिक बलात्कार की वारदातों ने एनसीआर में पुलिस व्यवस्था पर प्रश्न चिन्ह लगा दिया है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App