वीडियो: राम रहीम के एसएमजी रिसॉर्ट में ताजमहल से लेकर एफिल टावर तक सबकुछ मौजूद - Watch dera's Ram Rahim’s SMG resort, it resembles a palace with 69 rooms, He has brought Disney in to Dera - Jansatta
ताज़ा खबर
 

वीडियो: राम रहीम के एसएमजी रिसॉर्ट में ताजमहल से लेकर एफिल टावर तक सबकुछ मौजूद

वीडियो में वह जगह भी दिखाई गई है जहां बाबा भक्तों को माफी देता था।

इसके अंदर पड़े सौफे ऐसे डिजाइन किए गए हैं जैसे कि कोई रथ हो।

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख बाबा राम रहीम के रिसॉर्ट एसएमजी में 69 कमरे हैं। बाबा राम रहीम ने डिजनी लैंड को ही डेरा में लाकर रख दिया। यहां बनाया गया बाबा का रिसॉर्ट इतना शानदार है कि सोचा भी नहीं होगा। टाइम्स नाउ के वीडियो के मुताबिक एसएमजी के अंदर का नजारा एक महल के जैसा है। इसके अंदर की सजावट, इसमें लगाया गया फर्नीचर देखने में काफी खूबसूरत लग रहा है। इसके अंदर पड़े सौफे ऐसे डिजाइन किए गए हैं जैसे कि कोई रथ हो। वीडियो में दिखाई गई डायनिंग टेबल किसी 7 स्टार होटल की डियनिंग टेबल से कम नहीं लग रही है। इस रिसॉर्ट में ताजमल, एफिल टावर से लेकर डिजनी लैंड तक सब यहां मौजूद है।

यहां मौजूद सुविधाएं किसी 7 स्टार होटल से कम नहीं हैं। वीडियो में वह जगह भी दिखाई गई है जहां बाबा भक्तों को माफी देता था। इस जगह पर सभी नहीं जा सकते थे। यहां तक सिर्फ वही पहुंच सकता था जिसकी बाबा इजाजत देता था। यह सब सुविधाएं भक्तों द्वारा राम रहीम को दिए जाने वाले चंदे से उपलब्ध कराई जा रही थीं। इसमें मौजूद बाथरूम किसी 7 स्टार होटल के कमरे से बड़ा है। उसमें मौजूद बाथ टब से लेकर सावर तक सभी सुविधाएं हैं। टाइम्स नाउ के मुताबिक बड़े नेता भी बाबा की गुफा में आए हैं, और यहां मौजूद सभी सुविधाओं का फायदा उठाया है।

 

गौरतलब है कि साल 2002 में राम रहीम के खिलाफ एक गुमनाम पत्र लिखा गया था। जिसपर पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट ने संज्ञान लिया था। 15 साल तक चले इस बलात्कार केस में 25 अगस्त, 2017 को सीबीआई कोर्ट ने राम रहीम को दोषी करार दिया था और 28 अगस्त, 2017 को राम रहीम को दो अलग-अलग रेप केस में बीस साल की सजा सुनाई गई थी। कोर्ट ने जब राम रहीम को दोषी करार दिया था तो पंचकुला समेत हरियाणा के अन्य जिलों में राम रहीम के समर्थकों ने हिंसा कर दी थी। इस हिंसा में 38 लोगों की मौत हो गई थी जबकि 250 से ज्यादा घायल हो गए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App