ताज़ा खबर
 

हरियाणा: टीचर ने दो स्टूडेंट्स की जूते से की पिटाई, सामने आया डरा देने वाला विडियो

छात्र जब घर पहुंचे तो उन्होंने आपबीती अपने परिजनों को बताई, जिसके बाद दोनों छात्रों के परिजन गुस्से में स्कूल पहुंचे।

Author रेवाड़ी | October 13, 2017 8:36 AM
सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस विडियो में आप देख सकते हैं कि दो छात्र शिक्षक के पास बैठे हैं। (Photo Source: Video Grab)

देश के कोने-कोने से इन दिनों शिक्षकों द्वारा बच्चों को स्कूल में बेरहमी से पीटने के मामले सामने आ रहे हैं। ताजा मामला हरियाणा के रेवाड़ी का है जहां पर दो छात्रों के मामूली विवाद पर शिक्षक ने उनकी जूते से पिटाई कर दी। इस घटना का एक विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसे वहां मौजूद एक स्कूली छात्र ने बनाया है। एएनआई के अनुसार क्लास में शिक्षक के पढ़ाने के दौरान दो छात्रों की आपस में किसी बात को लेकर बहस हो गई। जैसे ही इसकी भनक शिक्षक को लगी उसने दोनों को अपने पास बुलाया।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस विडियो में आप देख सकते हैं कि दो छात्र शिक्षक के पास बैठे हैं। शिक्षक उनसे कुछ कहता है और फिर अपना जूता निकालकर एक छात्र को पीटना शुरु कर देता है। शिक्षक छात्र के मुंह पर जूता मारता है। इसके बाद वह खड़े होकर दूसरे छात्र को थप्पड़ मारता हुआ इस विडियो में दिखाई दे रहा है। खबरों के मुताबिक छात्र जब घर पहुंचे तो उन्होंने आपबीती अपने परिजनों को बताई, जिसके बाद दोनों छात्रों के परिजन गुस्से में स्कूल पहुंचे। स्कूल प्रशासन ने परिजनों से बातचीत कर मामले को तुरंत रफा-दफा कर दिया।

HOT DEALS
  • Jivi Energy E12 8 GB (White)
    ₹ 2799 MRP ₹ 4899 -43%
    ₹0 Cashback
  • Lenovo K8 Plus 32GB Venom Black
    ₹ 8925 MRP ₹ 11999 -26%
    ₹446 Cashback

वहीं इस बारे में जब स्कूल प्रशासन से बात की गई तो उन्होंने कहा कि शिक्षक ने अपनी गलती मान ली है, इसलिए छात्रों के परिजनों ने भी पुलिस में कोई केस दर्ज नहीं कराया। इससे पहले उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक शिक्षक द्वारा छात्र को डस्टर से बुरी तरह पीटने का मामला सामने आया था। इस घटना में 14 वर्षीय छात्र को हाथ में फ्रैक्चर आया था। इसी तरह का एक मामला मेरठ के एक स्कूल में देखने को मिला था जहां पर शिक्षक ने छात्र को इतनी बेदर्दी से पीटा कि उसकी आंखों की रोशनी चली गई। छात्रों के साथ स्कूल में घट रहीं इन घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए राज्य सरकारों को कोई ठूस कदम उठाने चाहिए ताकि स्कूल में बच्चे सुरक्षित रहें।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App