हरियाणा: भाजपा मंत्री ने प्रचार के दौरान कहा- बंदूक चाहिए, पैसा चाहिए…देने को तैयार हूं

विपक्ष ने कैबिनेट मिनिस्टर के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया दी है। विपक्ष ने राज्य चुनाव आयोग से तुरंत मामले में दखल देकर ग्रोवर के चुनाव प्रचार पर रोक लगाने की भी मांग की है।

MLA from Rohtak Manish Grover
हरियाणा सरकार में कैबिनेट मिनिस्टर और रोहतक से विधायक मनीष ग्रोवर। (फोटो सोर्स इंडियन एक्सप्रेस)

हरियाणा सरकार में कैबिनेट मिनिस्टर और रोहतक से विधायक मनीष ग्रोवर कथित तौर पर जनता को बंदूक, पैसा और गनमैन की पेशकश कर विवादित में घिर गए हैं। ग्रोवर 16 दिसंबर को होने वाले नगर निगम चुनाव के लिए भाजपा उम्मीदवार के पक्ष में प्रचार करने के लिए पहुंचे थे। पहरावर गांव में भाजपा उम्मीदवार मोनू देवी के पक्ष में चुनाव प्रचार करने पहुंचे तो जनता ने ग्रोवर से शिकायत की कि वार्ड में विरोधी उम्मीदवार बंदूक लहराकर लोगों की बीच डर पैदा कर रहा था। इस दौरान जनता को विश्वास दिलाते हुए भाजपा की राज्य सरकार में मंत्री मनीष ग्रोवर ने कहा कि विरोधी उम्मीदवार के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। ग्रोवर ने इस दौरान कथित तौर पर जनता से कहा कि वह अपनी हिफाजत के लिए हथियार रखें।

सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ’16 तारीख की शाम तक आपको कोई कमी नहीं आने दूंगा। बंदूक चाहिए, गनमैन चाहिए, पैसा चाहिए… और कुछ चाहिए वो भी देने के तैयार हूं।’ इस दौरान लोगों ने उनके भाषण पर खूब तालियां पीटीं। हिंदुस्तान टाइम्स ने उनके इस बयान के लिए उनका पक्ष जानना चाहता तो उन्होंने कहा, ‘मेरे बयन का मतलब लोगों को गैर कानूनी हथियार सप्लाई करना नहीं था। बल्कि मैंने पुलिस सुरक्षा के लिए उन्हें आश्वासन दिया। अगर उन्हें किसी ने धमकी दी तो मैं उन्हें पुलिस सुरक्षा मुहैया कराऊंगा। मैंने निजी तौर पर बंदूकधारी या गैरकानूनी हथियार देने की बात नहीं कही।’ हालांकि जब उनसे जनता को पैसे देने वाले बयान पर सवाल किया तो उन्होंने कहा, ‘मैंने चुनाव की तैयारी के लिए पैसे के संबंध में बात की, ना की किसी तरह की रिश्वत की बात कही।’

दूसरी तरफ विपक्ष ने कैबिनेट मिनिस्टर के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया दी है। विपक्ष ने राज्य चुनाव आयोग से तुरंत मामले में दखल देकर ग्रोवर के चुनाव प्रचार पर रोक लगाने की भी मांग की है। कांग्रेस नेता और रोहतक से पूर्व विधायक भूषण बत्रा ने कहा कि इस तरह के भाषण देने का ग्रोवर का पिछला इतिहास रहा है। उन्होंने कहा, ‘जो उन्होंने कहा वो चुनाव आचार संहिता के खिलाफ है। उनके खिलाफ केस दर्ज होना चाहिए। हम राज्य चुनाव आयोग अपील करेंगे कि उनके खिलाफ एक्शन लिया जाए और किसी भी वार्ड में चुनाव प्रचार नहीं दिया जाए। उन्होंने सारी सीमाएं पार कर दीं।’

पढें हरियाणा समाचार (Haryana News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट