ताज़ा खबर
 

स्कूल जा रही छात्रा को रोका, सिंदूर लगाया और फिर धक्का देकर भाग निकला

हरियाणा के गुरुग्राम के फर्रुनगर में एक 14 साल की छात्रा को स्कूल जाते वक्त जबरन सिंदूर लगाने और उसे धक्का देकर गिराने का मामला सामने आया है। छात्रा कक्षा 8 में पढ़ती है। इस घटना में आरोपी भी नाबालिग बताया जा रहा है।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

हरियाणा के गुरुग्राम के फर्रुनगर में एक 14 साल की छात्रा को स्कूल जाते वक्त जबरन सिंदूर लगाने और उसे धक्का देकर गिराने का मामला सामने आया है। छात्रा कक्षा 8 में पढ़ती है। इस घटना में आरोपी भी नाबालिग बताया जा रहा है। कह जा रहा है कि आरोपी भी पहले उसी स्कूल में पढ़ता था जिसमें छात्रा पढ़ती है। पुलिस के मुताबिक मंगलवार (20) जनवरी को आरोपी को दबोच लिया लिया गया, जिसे बुधवार (21 फरवरी) की शाम जूवेनाइल जस्टिस बोर्ड के समक्ष पेश किया जाएगा। एनबीटी की खबर के मुताबिक घटना सोमवार (19 फरवरी) की है। पुलिस में दर्ज शिकायत के मुताबिक लड़की फर्रुखनगर के गांव महचाना की रहने वाली है। जब वह गांव के ही स्कूल में पढ़ने के लिए जा रही थी तो उसी के गांव के एक नाबालिग लड़के ने उसका रास्ता रोक लिया और उसके माथे पर सिंदूर से तिलक लगा दिया। लड़की ने जब लड़के का विरोध किया तो वह उसे धक्का देकर भाग गया।

पुलिस में दर्ज शिकायत के मुताबिक लड़के के धक्का देने से लड़की गिर गई, जिससे उसे चोटें भी आईं। इसके बाद लड़की ने घर जाकर घटना की जानकारी घरवालों को दी। घरवालों ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस अधिकारी ने इस बारे में बताया कि शिकायत के आधार पर नाबालिग आरोपी के खिलाफ पॉक्सो एक्ट की धारा 12 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि शिकायत मिलने के बाद मंगलवार को लड़के को गिरफ्तार कर लिया गया। जांच में यह बात सामने आई है कि आरोपी पहले गांव के उसी स्कूल में कक्षा 9 में पढ़ता था जिसमें लड़की पढ़ती है। आरोपी ने इस बार स्कूल छोड़ दिया था। पुलिस के मुताबिक वह मामले की जांच अब भी कर रही है और यह पता लगाने की कोशिश कर रही हैं कि लड़के ने स्कूल किन कारणों के चलते छोड़ा था और क्या उसने पूर्व में भी इसी तरह के घटनाओं को अंजाम दिया है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि अगर लड़के के खिलाफ लगे आरोप सही साबित होते हैं तो उसे तीन साल के लिए अंदर जाना पड़ेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App