गुड़गांव: बीच सड़क कार से युवती को खींचकर गैंगरेप, बंदूक की नोक पर पति-देवर को बनाया रखा बंधक - Woman Pulled Out Of Car gang Raped Husband Held At Gunpoint - Jansatta
ताज़ा खबर
 

गुड़गांव: बीच सड़क कार से युवती को खींचकर गैंगरेप, बंदूक की नोक पर पति-देवर को बनाया रखा बंधक

शख्स ने बताया कि मेरी पत्नी चिल्लाती रही लेकिन अपराधी बस के पीछे उसके साथ बलात्कार करते रहे। चिल्लाने पर अपराधी धमकी दे रहे थे कि वह हमें मार देंगे।

इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है। (फाइल फोटो)

हरियाणा के गुरुग्राम में एक बार फिर इंसानियत को शर्मसार करने का मामला सामने आया है। यहां विवाह समारोह से लौट रही एक युवती से चार अपराधियों ने बुरी तरह मारपीट की और गैंगरेप किया है। पुलिस ने चारों अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले में पीड़ित युवती ने बताया, ‘रविवार (21 जनवरी, 2017) रात करीब नौ बजे मैं अपने पति और देवर संग घर लौट रही थी। सेक्टर 56 में बिजनेस पार्क के समीप पति ने पेशान करने के लिए गाड़ी रोकी। इस दौरान दो कार हमारे बराबर में आगे रुकीं और इनमें से चार लोग बाहर आए। उन्होंने हमसे गाड़ी खड़ी रखने की वजह पूछी। हालांकि हम कुछ बोल पाते उन्होंने मारपीट शुरू कर दी।’

वहीं पीड़िता के पति ने बताया, ‘एक अपराधी ने पीछे की सीट पत्नी को देखा तो उसे जबरन गाड़ी से बाहर निकाला और बारी-बारी से रेप किया। इस दौरान अन्य अपराधियों ने हमें बंदूक की नोक पर बंधक बना लिया। हमने उनसे कई बार छोड़ देने की विनती की लेकिन वह और ज्यादा हिंसक हो गए। शख्स ने बताया कि मेरी पत्नी चिल्लाती रही लेकिन अपराधी बस के पीछे उसके साथ बलात्कार करते रहे। चिल्लाने पर अपराधी धमकी दे रहे थे कि वह हमें मार देंगे।

दूसरी तरफ गुरुग्राम पुलिस के पीआरओ मनीष सहगल ने बताया, ‘घटना के दौरान पीड़िता के पति ने आरोपियों की गाड़ी का नंबर नोट कर लिया था, जिसकी मदद से हमने जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों की पहचान देशवीर, धर्मेंद्र, पवन और संगीत के रूप में की गई है।’

बता दें कि हरियाणा में रेप की बढ़ती वारदातों की वजह से सूबे की सरकार विपक्ष के निशाने पर आ गई है। पिछले दिनों ही चार दिन में छह रेप की घटनाएं सामने आई थीं। चौंकाने वाली बात यह कि जिन छह महिलाओं के साथ दुष्कर्म हुआ उनमें चार नाबालिग थीं। 16 जनवरी को अपराधियों ने साढ़े तीन साल की मासूम बच्ची को अपनी हवस का शिकार बनाया था। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार तब दिनभर लापता रही बच्ची रात को दर्द से कराहते हुए वापस लौटी। उसके कपड़े खून में सने हुए थे। उपचार के लिए जब बच्ची को हॉस्पिटल ले जाया गया तो डॉक्टरों ने रेप की पुष्टि की।

वहीं एक अन्य मामले में 14 जनवरी को कक्षा-9 की छात्रा के साथ रेप की वारदात सामने आई। घटना सोनीपत सदर पुलिस स्टेशन के आसपास की बताई गई। हाल के दिनों में फतेहाबाद में अपराधियों ने बीस वर्षीय महिला को हवस का शिकार बनाया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App