ताज़ा खबर
 

लगी पंचायत: सरपंच ने कहा कि कोई मेरे बाल काट कर दिखाए, सब अंधविश्वास

सरपंच का कहना है कि सब अंधविश्वास है। उन्होंने कहा अगर कोई अदृश्य शक्ति है तो वह मेरे बाल काट कर दिखाए।

Author गुरुग्राम | August 3, 2017 3:43 AM
प्रतीकात्मक चित्र।

फरुखनगर ग्रामीण इलाकों में महिलाओं की चोटी कटने की अफवाह थमने का नाम नहीं ले रही है। कहा जा रहा है कि फरुखनगर के गांव जोनियावास में भी तीन महिलाओं की चोटी कट गई। घटना से गांव के लोग दहशत में हैं। लोगों ने रात को पहरा शुरू कर दिया है। इस मामले को लेकर गांव में एक पंचायत भी हुई। जिसमें सभी ने कहा इस तरह की घटनाएं मानसिक रूप से परेशान लोगों के साथ ही हो रही हैं। संभव है कि बीमारी के चलते में महिलाएं खुद चोटी काट लेती हों। जिन महिलाओं की चोटी कटी है उनमें से एक के घर में सीसीटीवी भी लगा हुआ है। फुटेज में घर के अंदर घर के सदस्यों के अलावा किसी बाहरी के आने का दृश्य कैद नहीं है। सरपंच का कहना है कि सब अंधविश्वास है। उन्होंने कहा अगर कोई अदृश्य शक्ति है तो वह मेरे बाल काट कर दिखाए।

किसी ने एफआइआर नहीं कराई दर्ज
इधर शहर में भी चोटी काटने के मामले सामने आए हैं। तेरह साल की एक बच्ची, स्कूल में काम करने वाली महिला सहित तीन महिलाओं की चोटी काट गई। घटना के बाद तरह-तरह की अफवाह है। वहीं पुलिस अधिकारी मामले को अंधविश्वास से जोड़कर देख रहे हैं। जागरूक लोग घटना को किसी शरारती तत्त्व की हरकत बता रहे हैं। उनका कहना है कि अधिकतर मामले झुग्गी बस्ती के इलाकों में ही सामने आ रहे हैं। इसके अलावा विश्वकर्मा कॉलोनी और फिरोजगांधी कॉलोनी में दो महिलाओं की चोटी कटने की बात सामने आई लेकिन किसी ने पुलिस को इससकी शिकायत नहीं दी। पुलिस आयुक्त ने कहा जांच होगी तो सब कुछ सामने आ जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App