ताज़ा खबर
 

गुरुग्राम: 6 महीने से कर रहा था बलात्कार, बेटी को समझाया ये सब नॉर्मल है

आरोपी ने बड़ी ही चालाकी से 13 वर्षीय नाबालिग को समझाया की जो वो करता है उसमें कुछ बुरा नहीं है बल्कि ये सब तो नॉर्मल है। इसलिए इससे डरने की जरुरत नहीं है।

तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (photo source reuters)

गुरुग्राम के पटौदी गांव में एक शख्स को 6 महीने तक अपनी नाबालिग बेटी से बलात्कार के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार आरोपी गांव की ही एक फैक्ट्री में काम करता था। रिपोर्ट के मुताबिक आरोपी ने बड़ी ही चालाकी से 13 वर्षीय नाबालिग को समझाया की जो वो करता है उसमें कुछ बुरा नहीं है बल्कि ये सब तो नॉर्मल है। इसलिए इससे डरने की जरुरत नहीं है। शुरुआती जानकारी के मुताबिक आरोपी गांव में ही अपनी दूसरी पत्नी संग रहता है। पीड़िता सहित आरोपी के चार बच्चे हैं, जो उसकी पहली पत्नी से हैं।

मामले में जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि आरोपी को बीते शुक्रवार (18 मई, 2018) की रात करीब दस बजे गिरफ्तार किया गया है। उससे सख्ती से मामले में पूछताछ की जा रही है। उसके आचरण से लगता है कि इस घनौने अपराध को अंजाम देने के बाद भी उसे कोई पछतावा नहीं है। आरोपी ने अपने अपराध को जस्टिफाई करते हुए बताया कि इसमें आश्चर्य की क्या बात है। यौन उत्पीड़न तो हर घर में होता है। ये जानकारी मानेसर पुलिस स्टेशन की एसएचओ (महिला) पूनम सिंह के हवाले से मिली है। एसएचओ ने आगे बताया, ‘पूछताछ में आरोपी ने स्वीकार किया है कि वह पिछले छह महीने से अपनी बेटी का बलात्कार कर रहा था और नाबालिग को इस अपराध की जानकारी किसी को ना देने की धमकी दी थी।’

पुलिस ने आगे बताया कि पीड़िता ने इसकी शिकायत सबसे पहले अपनी मां से की थी। मगर मां ने बेटी की बात का भरोसा नहीं किया। हालांकि बाद में पीड़िता की मां मामले की सच्चाई जानने के लिए शाम को जल्दी घर लौटी तो देखकर चौंक गई कि उसका पति बेटी के साथ गंदी हरकत कर रहा है। इसपर एसएचओ सिंह ने बताया कि नाबालिग की सौतेली मां बहुत बहादुर थी जिसने आरोपी के खिलाफ शिकायत की वरना बहुत से लोग ऐसे मामलों में चुप्पी साध जाते हैं। गौरतलब है कि आरोपी मुख्य रूप से बिहार का निवासी है, जिसके खिलाफ महिला पुलिस स्टेशन में पोक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। उसे शनिवार को अदालत में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App