ताज़ा खबर
 

नवजोत कौर सिद्धू ने पहली बार किया AAP पर कटाक्ष, अब तक घोषित उम्‍मीदवारों पर भी उठाई अंगुली

नवजोत कौर सिद्धू ने कहा कि उन्हें किसी भी पार्टी से गुरेज नहीं है बस उसका नेतृत्व ईमानदार होना चाहिए।

Author अमृतसर | Updated: August 31, 2016 9:17 PM
Navjot Singh Sidhu, Navjot Kaur Sidhu, Rajya Sabha, Akali Dal, punjab election, rajya sabha seat, bjp punjab, punjab bjp, Bharatiya Janata Partyबीजेपी विधायक नवजोत कौर सिद्धू

पंजाब की बीजेपी विधायक नवजोत कौर सिद्धू ने आम आदमी पार्टी की दिल्ली से पंजाब  को चला रही है। कौर बीजेपी के पूर्व सांसद नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी हैं। जब सिद्धू ने राज्य सभा से इस्तीफा दिया था तो मीडिया में उनके आम आदमी पार्टी में जाने को लेकर अटकलें लगाई गई थीं। बुधवार को कौर ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि “पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह की विफलता के कारण एक तीसरा विकल्प आ गया है। लोगों ने नया आंदोलन शुरू कर दिया और इससे पंजाब में आम आदमी पार्टी को बढ़ावा मिला। लोगों को लगा कि ये पार्टी ईमानदार लोगों और ईमानदारी कार्य संस्कृति को बढ़ावा देगी। लेकिन कोई भी राज्य बाहर से नहीं चलाया जा सकता। दिल्ली में बैठ आप नेता पार्टी को वहीं से चलाना चाहते हैं।”

कौर ने आप के अब तक घोषित प्रत्याशियों पर भी सवाल उठाया है। कौर ने कहा, “पंजाब में बहुत से लोग आम की तरफ देख रहे हैं। पार्टी को ऐसे पंजाबियों की एक कमेटी बनानी चाहिए थी और कमेटी के पास फैसला लेने का अधिकार होना चाहिए था। अब हमें पता चल रहा है कि पार्टी की तरफ से घोषित 14 प्रत्याशियो के खिलाफ भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप हैं। तो आप जनता को क्या संदेश देना चाहते हैं। पार्टी के उम्मीदवारों का फैसला पंजाब में होना चाहिए? दिल्ली पंजाब के प्रत्याशियों के बारे में कैसे फैसला ले सकती है? आप में अब स्थिति नियंत्रण से बाहर हो चुकी है। लेकिन फिर भी पार्टी को पंजाब स्थित एक कमेटी बनानी चाहिए जो जनता के हित में फैसला ले सके।”

अपने पति के अरविंद केजरीवाल से बातचीत के मसले पर कौर ने कहा, “अब सब कुछ साफ हो रहा है। मैंने पहले ही कहा है कि सिद्धू परिवार ने पहले भी कोई शर्त नहीं रखी थी। हम केवल पंजाब के लिए काम करना चाहते हैं। हम चाहते हैं कि अच्छे नेता सामने आएं। वो अकाली दल, कांग्रेस, बीजपी या आप किसी भी नई पार्टी में हो सकते हैं लेकिन उसका नेतृत्व ईमानदार औ जनता के प्रति जिम्मेदार होना चाहिए। हमें ऐसा पार्टी चाहिए जो दिल से पंजाब के लिए काम करे। मैंने कभी नहीं कहा कि हम इस पार्टी में जा रहे हैं।” कौर ने ये भी साफ किया कि उन्हें पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष अमरिंदर सिंह से कोई दिक्कत नहीं है।

Next Stories
1 कभी भी, कहीं भी गन लहरा देता है वीके सिंह की पत्नी को ब्लैकमेल करने का आरोपी प्रदीप चौहान, 2014 में किया था सिंह के लिए प्रचार
2 दलितों को जीतते देख नहीं पाई यादवों की टीम, देसी कट्टा दिखाकर धमकाया, फिर ‘अखाड़ा’ बन गया फ्रेंडली कबड्डी मैच
3 स्कूल बस में केजी 1 की बच्ची से ज्यादती, नहीं था कोई टीचर
आज का राशिफल
X