ताज़ा खबर
 

अब एटीएम से पानी बेचेगा फरीदाबाद नगर निगम

लोगों को बुनियादी सुविधाएं देने में नाकाम नगर निगम अब पानी बेचने का धंधा करेगा।

Author फरीदाबाद | April 9, 2017 2:23 AM
फरीदाबाद नगर निगम

लोगों को बुनियादी सुविधाएं देने में नाकाम नगर निगम अब पानी बेचने का धंधा करेगा। लोगों को साफ पानी पिलाने की अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ते हुए अब एटीएम के जरिए पानी बेचेगा। वाटर एटीएम से दो रुपए लीटर की दर से पानी बेचा जाना हैं। निगम क्षेत्र मे पहले 47 वाटर एटीएम लगाए जाने हैं। स्वच्छ भारत अभियान के तहत खुले में शौच, शौचालय बनवाने और जल, वायु व ध्वनि प्रदूषण रोकने में नाकाम नगर निगम अपनी जिम्मेदारी से मुंह मोड़ कर पानी बेचेगा। स्मार्ट सिटी बनाने की राह पर आगे बढ़ चुके शहर में रहने की कीमत तो लोगों को चुकानी होगी। गर्मी शुरू होने से पहले ही नगर निगम को लोगों को स्वच्छ जल की आपूर्ति तय करना चाहिए था। पिछले बीस साल से रेनीवैल ट्यूबवेल का मीठा पानी पिलाने के सपने दिखा रहा निगम अब शुद्धता के नाम पर वाटर एटीएम से पानी बेचेगा। नगर निगम क्षेत्र की बीस लाख लोगों की आबादी के लिए प्रतिदिन 270 मिलीयन लीटर पानी की दरकार है। जबकि निगम 230 से 240 मिलीयन लीटर पानी ही मुहैया करता है। जैसे-जैसे गर्मी बढ़ेगी पानी की मांग भी बढ़ने लगेगी। फिलहाल निगम करीब 1400 ट्यूबवेल से पानी की आपूर्ति कर रहा है।

नगर निगम के एसई अनिल मेहता का कहना है कि पानी की यह कमी रैनीवैल के ट्यूबवेलों से पूरी की जानी है। अब तक करीब सौ नलकूप लगाए जा चुके हंै। इनमें कुछ में बिजली कनेक्शन की औपचारिकता पूरी करना बाकी है। हालांकि, शुद्धता के नाम पर वाटर एटीएम से पानी बेचने के निगम इरादे की कांग्रेस के महासचिव राजराजकुमार तेवतिया ने आलोचना की है। उनका कहना है कि बुनियादी सुविधाएं मुहैया करवाना निगम का दायित्व है। निगम ये सुविधाएं देने के लिए नागरिकों से कई तरह के कर वसूल करता है।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता विकास चौधरी ने बताया कि अच्छे दिनों के सपने दिखा कर सत्ता में आई भाजपा अब पानी बेच कर लोगों की जेब ढीली कर रही है। चौधरी ने सरकार से मांग कि है कि लोगों को पीने का स्वच्छ पानी मुहैया करवाना सरकार की जिम्मेदारी है।

 

लखनऊ: योगी आदित्यनाथ के साथ गोशाला पहुंचे प्रतीक यादव और अपर्णा यादव

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App