ताज़ा खबर
 

अवैध संबंधों के चक्कर में 3 बेटों के सिर में गोली मारकर हत्या, फिर जंगल में फेंक दी लाश!

पुलिस ने मृतकों की पहचान समीर (11), सिमरन (8) और समर (4) के रूप में की है।

लेडी गैंगलीडर ने चाकुओं से गोदकर की हत्या। (प्रतीकात्मक फोटो)

बीते रविवार को हरियाणा के पंचकूला से लापता हुए तीनों नाबालिग बच्चों के शव पुलिस ने मंगलवार (21 नवंबर) को बरामद किए हैं। रिपोर्ट के अनुसार मोरनी हिल से मिले तीनों बच्चों के सिर में गोली मारी गई है। पुलिस ने मृतकों की पहचान समीर (11), सिमरन (8)  और समर (4) के रूप में की है। तीनों ही बच्चें कुरुक्षेत्र जिले के पेहवा में सरसा गांव के रहने वाले हैं। मामले में पुलिस ने बताया कि मृतकों के पिता सोनू मलिक से पूछताछ की गई, जिसमें पता चला की इन हत्याओं में बच्चों के अंकल का हाथ हो सकता है।

दूसरी तरफ पुलिस ने उस इलाके में छानबीन शुरू कर दी जहां बच्चों को ले जाकर उनकी हत्या कर दी गई। रिपोर्ट के अनुसार मंगलवार शाम तक मृतकों की मां सुमन को नहीं बताया गया कि उनकी तीनों बच्चों की हत्या कर दी गई है।

दूसरी तरफ पुलिस शुरुआती जांच में मानकर चल रही है कि इन हत्याकांड में बच्चों के पिता सोनू या उनके अंकल जगदीप मलिक का हाथ हो सकता है। गांव के ही एक निवासी का कहना है कि पूरा गांव सच्चाई जानता है लेकिन किसी ने सुमन को उनके बच्चों की मौत के बार में जानकारी नहीं दी है।

सूत्रों के अनुसार सोनू कटहल सिटी में फोटोग्राफर का काम करता हैं। इसी क्षेत्र में मलिक किसानी का काम करता है। वहीं एसपी अभिषेक गर्ग ने मामले में जानकारी देते हुए बताया सोनू के अवैध संबंध थे। इसलिए कथित तौर पर उसने जगदीप के साथ मिलकर अपने तीनों बच्चों की हत्या कर दी। गर्ग ने आगे बताया, ‘जांच पड़ताल में हमारी टीम ने संदिग्ध जगदीप की निशानदेही पर मोरनी से बच्चों के शव के बरामद किए। जबकि जगदीप ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। आरोपियों ने तीनों बच्चों को गोलीमार शव जंगल में फेंक दिए थे। जगदीप को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि सोनू हिरासत में है। मामले में छानबीन जारी है।’

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App