ताज़ा खबर
 

बलात्कारी राम रहीम के बीमार, सेक्‍स एडिक्‍ट होने की खबरों पर डीजीपी का बड़ा खुलासा

बाबा राम रहीम को लेकर खबरें आई थीं कि वह जेल में बीमार हो गया है और डॉक्टरों का एक दल उसकी जांच करने पहुंचा है।

ram rahim, baba ram rahim, baba ram rahim in jail, ram rahim health, haryana DGP, Dera Sacha Sauda, Dera Sacha Sauda search operation, Dera search operation, haryana police, baba ram rahim Dera, baba ram rahim rape, baba ram rahim rape video, jansattaबलात्कारी बाबा राम रहीम सिंह। (File Photo)

बलात्कारी बाबा गुरमीत राम रहीम सिंह दो साध्वियों के साथ रेप करने पर रोहतक की सुनेरिया जेल में 20 साल की सजा काट रहा है। हालही में खबरें आई थी कि जेल में बंद बाबा बीमार पड़ गया है। इसके साथ ही रिपोर्ट्स आई थीं कि जेल में उनकी जांच करने वाले डॉक्टरों ने बताया है कि बाबा राम रहीम सिंह सेक्स एडिक्ट है, जिसकी वजह से वह बीमार पड़ गया है। लेकिन हरियाणा के डीजीपी बीएस संधू ने इन खबरों को लेकर बड़ा खुलासा किया है। डीजीपी ने कहा कि इन खबरों में कोई सच्चाई नहीं है। बाबा राम रहीम जेल में बिल्कुल स्वस्थ है। वह जेल में आने के बाद अभी तक कभी बीमार नहीं पड़ा। हालांकि, एक-दो बार उसे सिरदर्द जरूर हुआ था। सेक्स एडिक्ट की खबरों पर भी उन्होंने कहा कि इन खबरों में कोई सच्चाई नहीं है।

डीजीपी ने बताया कि ये एक मॉकड्रिल का हिस्सा था, जो कि हरियाणा पुलिस ने गुप्त रणनीति के तहत किया था। उन्होंने बताया कि पुलिस ने एक मॉकड्रिल के तहत इसका जायजा लिया था कि अगर बाबा बीमार हो जाता है तो उसे आसानी से कैसे पीजीआई ले जाया जाए। इसके लिए हरियाणा पुलिस ने चंडीगढ़ को भी अलर्ट किया था, लेकिन चंडीगढ़ ने साफ कर दिया कि वो बाबा को यहां लाने की इजाजत बिल्कुल नहीं देंगे। ऐसे में हरियाणा पुलिस के पास एक ही विकल्प बचा है रोहतक पीजीआई। इसलिए प्रशासन ने रोहतक पीजीआई के डॉक्टरों का एक दल तैयार किया गया है, जो कि बाबा के बीमार होने पर तुरंत जेल जाकर उसकी जांच करेगा। इसके साथ ही मॉकड्रिल के तहत वह रूटमैप भी तैयार किया गया है, जिसके जरिए डॉक्टरों को जेल में लाया जाएगा।

सीबीआई की विशेष कोर्ट ने बाबा राम रहीम सिंह को दो साध्वियों के साथ रेप करने पर 20 साल की सजा सुनाई थी। 16 सितंबर को सीबीआई कोर्ट बाबा राम रहीम के खिलाफ हत्या मामले की भी सुनवाई करेगा। बाबा राम रहीम सिंह पर सिरसा के स्थानीय पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या का आरोप है। रामचंद्र छत्रपति ने अपने अखबार में उस खत को छापा था, जो एक साध्वी ने साल 2002 में तत्कालीन प्रधानमंत्री और कोर्ट को भेजा था। छत्रपति सिरसा से अपना एक अखबार निकालते थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 डेरा सच्चा सौदा: IT हेड ने उगले राज, सबूत म‍िटाने के ल‍िए राम रहीम की लैंडक्रूजर जलाने वाला भी अरेस्ट
2 छेड़खानी केस में BJP अध्यक्ष के बेटे की जमानत याचिका खारिज, पीड़ित IAS पिता का तबादला
3 शर्मनाक: पांचवीं कक्षा की छात्रा को लड़कों के शौचालय में खड़ा कर दिया
IPL 2020 LIVE
X