ताज़ा खबर
 

कैंसर मरीजों की मौत को सड़क दुर्घटना बताकर लेते थे बीमा क्लेम, STF ने किया 3 को गिरफ्तार

हरियाणा में एसटीएफ ने एक ऐसे गैंग को पकड़ा है जो कैंसर की आखिरी स्टेज के मरीजों की मौत को सड़क हादसे में दिखाकर बीमा कंपनियों से क्लेम वसूल कर लाखों का चूना लगाता था।

प्रतीकात्मक तस्वीर।

हरियाणा के सोनीपत में स्पेशल टॉस्क फोर्स (एसटीएफ) ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है, जिन पर कैंसर मरीजों की मौत को सड़क हादसे में हुई मौत दिखाकर बीमा का क्लेम लेने का आरोप है। एसटीएफ ने इस गिरोह के सरगना समेत तीन और लोगों को सोनीपत-रोहतक मार्ग से गिरफ्तार किया है। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो बीमा कंपनियों से इस तरीके से पैसे ऐंठने वाले गिरोह के लोगों की मदद में डॉक्टरों से लेकर पुलिसवाले तक शामिल थे।

National Hindi News, 20 April 2019 LIVE Updates: दिनभर की अहम खबरों के लिए क्लिक करें

बीमा कंपनियों को लगाते थे चूना: मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एक बीमा कंपनी ने डीजीपी क्राइम से शिकायत की थी कि बीते चार-पांच महीने में उसके पास ऐसे आठ मामले सामने आए हैं, जिनमें क्लेम लेने वाले सभी लोग कैंसर के लास्ट स्टेज के मरीज को किसी हादसे में मौत का शिकार दिखाया। इसके बाद कंपनी से 30 लाख रुपए प्रति मरीज क्लेम की मांग की जाती थी। जब एसटीएफ ने मामले की जांच की तो पता चला कि दो और बीमा कंपनियां हैं जिन्हें इसी तरीके से चूना लगाया था।

ऐसे करते थे ठगी: बताया जा रहा है कि गिरोह के लोग पहले किसी बड़े अस्पताल से कैंसर के लास्ट स्टेज के मरीजों का डाटा निकलवाते थे और फिर मरीजों के घर की तलाश कर वहां पहुंचकर परिजनों को बीमा क्लेम की बड़ी रकम दिलाने का लालच देते थे। जब परिजन इनकी बातों में आ जाते तो ये लोग कैंसर के मरीज की बीमारी को छुपाकर उसका किसी बीमा कंपनी में बीमा करवाते थे। इसके बाद जब बाद मरीज की मौत हो जाती थी तो उसके शव को ले जाकर सड़क दुर्घटना में हुई मौत दर्शाते थे। बताया जा रहा है कि इस काम में गिरोह के साथ पुलिस, डॉक्टर, वकील आदि के भी कुछ लोग शामिल थे। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो गिरोह अब तक करीब 100 क्लेम ले चुका है और ये खेल साल 2016 से चल रहा था।

एसटीएफ ने किया गिरोह का पर्दाफाश: जब इस गिरोह की शिकायत क्राइम ब्रांच से की गई तो एसटीएफ ने धरपकड़ के प्रयास तेज किए। बताया जा रहा है कि एसटीएफ के डीएसपी राहुल देव ने इस गिरोह के सरगना पवन भौरिया समेत तीन लोगों को गुरुवार देर रात सोनीपत-रोहतक मार्ग से गिरफ्तार किया। भौरिया पेशे से वकील बताया जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App