ताज़ा खबर
 

जींद जेल में पुलिस वालों ने की डांस पार्टी, खूब लगाए ठुमके और खूब बरसाए नोट

हरियाणा में जींद के जिला कारागार में हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान महिला कलाकारों के साथ वर्दीधारी पुलिसकर्मी के डांस करने और उनपर नोट बरसाने का वीडियो वायरल होने के बाद विभाग ने अधिकारी को निलंबित कर दिया और मामले की उच्चस्तरीय जांच की जा रही है।

Author जींद (हरियाणा) | April 2, 2017 11:00 PM
जींद जेल में पुलिस वालों ने की डांस पार्टी

हरियाणा में जींद के जिला कारागार में हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान महिला कलाकारों के साथ वर्दीधारी पुलिसकर्मी के डांस करने और उनपर नोट बरसाने का वीडियो वायरल होने के बाद विभाग ने अधिकारी को निलंबित कर दिया और मामले की उच्चस्तरीय जांच की जा रही है। सरकार ने मामले की जांच जेल विभाग के महानिरीक्षक जगजीत सिंह को सौंपी जो आज सुबह जींद कारागार पहुंचे और कारागार अधीक्षक आत्माराम बिश्नोई, अन्य अधिकारियों, जेल में बंद कैदियों तथा अन्य कर्मचारियों से इस संबंध में पूछताछ की। वह सोमवार को अपनी रिपोर्ट विभाग के अतिरिक्त महानिदेशक सुधीर चौधरी को सौंपेंगे।

जींद के उपायुक्त विनय सिंह और अवर उपायुक्त आमना तस्मीन ने भी रविवार को जींद की जिला कारागार का दौरा कर अपने स्तर पर मामले की जांच की। गौरतलब है कि जिला कारागार में विभाग द्वारा आयोजित किए गए एक सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान हेडकांस्टेबल सत्यवान ने वहां महिला कलाकारों के साथ डांस किया था और उनपर नोट बरसाये थे। पूरे घटनाक्रम का वीडियो इंटरनेट पर वायरल होने के बाद विभाग ने कार्रवाई करते हुए सत्यवान को निलंबित कर दिया और इसकी जांच का आदेश दिया।

इस मामले में जिला प्रशासन के स्तर पर जांच कर रहे उपायुक्त सिंह का कहना है कि प्रशासन यह पता लगाने का प्रयास कर रहा है कि कार्यक्रम कब हुआ? इसकी अनुमति ली गयी थी या नहीं। वीडियो जिला कारागार का ही है, या किसी अन्य स्थान का। वहीं महानिरीक्षक जगजीत सिंह का कहना है कि जेल में ऐसा कार्यक्रम नहीं होना चाहिए था। यदि हुआ भी तो वहां किसी वरिष्ठ अधिकारी को उपस्थित रहना चाहिए था ताकि अनुशासन बना रहता। उन्होंने कहा कि प्रशासन मामले की सभी पहलुओं से जांच कर रहा है। वहीं पूछताछ के दौरान सत्यवान का नंबर आने के पहले ही वह बेहोश हो गया। उसे प्राथमिक चिकित्सा के बाद रोहतक पीजीआई रेफर किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App