ताज़ा खबर
 

टीचरों को पुजारियों की ट्रेनिंग देना चाहती है हरियाणा सरकार, विरोध करने वालों को थमाया नोटिस!

सरकार चाहती है कि यमुनानगर जिले में स्थित कपाल मोचन मंदिर में लगने वाले मेले के दौरान शिक्षक पुजारियों की तरह भगवान की पूजा करें और प्रसाद भी बाटें।

हरियाणा सीएम मनोहर लाल खट्टर। (File Photo)

हरियाणा सरकार ने शिक्षकों के लिए एक बेहद ही अनोखा आदेश दिया है। हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार ने शिक्षकों को पुजारियों की ट्रेनिंग लेने का आदेश दिया है। सरकार चाहती है कि यमुनानगर जिले में स्थित कपाल मोचन मंदिर में लगने वाले मेले के दौरान शिक्षक पुजारियों की तरह भगवान की पूजा करें और प्रसाद भी बाटें। टाइम्स नाउ के मुताबिक सरकार की ओर से दिए गए इस अनोखे आदेश को कई टीचर्स ने मानने से इनकार किया है। जिन शिक्षकों ने सरकार के आदेश का पालन करने से मना किया है उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हुए सरकार ने कारण बताओ नोटिस भेजा है।

पुजारियों की ट्रेनिंग लेने आदेश की आलोचना करने वाले शिक्षकों का कहना है कि सरकार के मुताबिक छात्रों को पढ़ाई से ज्यादा जरूरी पुजारी की ट्रेनिंग लेना है, राज्य में शिक्षा का स्तर और भी गिरता जा रहा है। हरियाणा में शिक्षकों का एक हिस्सा सरकार के इस आदेश से खासा नाजार है और इसका लगातार विरोध भी किया जा रहा है।

HOT DEALS
  • Honor 9 Lite 64GB Glacier Grey
    ₹ 16999 MRP ₹ 17999 -6%
    ₹2000 Cashback
  • Lenovo Phab 2 Plus 32GB Champagne Gold
    ₹ 17999 MRP ₹ 17999 -0%
    ₹900 Cashback

बता दें कि हरियाणा का कपाल मोचन भारत के पवित्र स्थानों में से एक है। यमुनानगर जिले में स्थित इस मंदिर में हर साल कार्तिक पूर्णिमा के दिन मेला लगता है, जिसमें लाखों लोग पाप से मुक्त होने के लिए आते हैं और यहां स्थित सोम सरोवर में स्नान भी करते हैं। इसी मेले के लिए सरकार चाहती है कि शिक्षकों को पुजारियों की ट्रेनिंग दी जाए ताकि इस दिन सभी शिक्षक पुजारियों की तरह मंदिर में पूजा करें और भक्तों को प्रसाद भी बाटें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App