ताज़ा खबर
 

मायावती को बनाएंगे अगला प्रधानमंत्री, जेल से निकलते ही बोले 84 वर्षीय पूर्व सीएम

ओम प्रकाश चौटाला हरियाणा के गोहाना में वरिष्ठ नेता और उनके पिता देवी लाल की 105वीं जयंती के मौके पर आयोजित रैली में बोल रहे थे। उन्होंने कहा, ''हम विपक्ष को एकजुट करने के लिए काम करेंगे ताकि मायावती अगली प्रधानमंत्री बनें।''

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला ने जेल से परोल पर बाहर आते ही हुंकार भरी और कहा कि विपक्ष का एकजुट कर मायावती को अगला पीएम बनाएंगे। (Image Source: Facebook/United News of India-UNI and @OPChautalaOfficial)

इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) अध्यक्ष ओम प्रकाश चौटाला ने रविवार (7 अक्टूबर) को कहा कि 2019 लोकसभा चुनाव के बाद बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती को अगला प्रधानमंत्री बनाने के लिए उनकी पार्टी विपक्षी दलों को एकजुट करने के लिए काम करेगी। 84 वर्षीय चौटाला दो हफ्तों के लिए परोल पर जेल से बाहर आए हैं। वह शिक्षक भर्ती घोटाला मामले में 10 साल जेल की सजा काट रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ओम प्रकाश चौटाला हरियाणा के गोहाना में वरिष्ठ नेता और उनके पिता देवी लाल की 105वीं जयंती के मौके पर आयोजित रैली में बोल रहे थे। उन्होंने कहा, ”हम विपक्ष को एकजुट करने के लिए काम करेंगे ताकि मायावती अगली प्रधानमंत्री बनें।” इनेलो नेता ने कहा कि उनके पिता का एक सपना था कि देशवासियों को पर्याप्त खाना, घर, अच्छी शिक्षा और कम पैसों में स्वास्थ्य सेवाएं मिलें। उन्होंने कहा, ”आज वह हमारे बीच नहीं हैं लेकिन हमें उनके आदर्शों पर चलते हुए उनका सपना सच करने की दिशा में काम करना है।” इनेलो अध्यक्ष के बेटे और पार्टी के वरिष्ठ नेता अभय सिंह चौटाला ने भी रैली को संबोधित किया।

अभय सिंह चौटाला ने लोगों से आग्रह किया कि वे अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव में इनेलो और बसपा के गठबंधन को प्रचंड बहुमत से सत्ता में लाने के लिए मदद करें। उन्होंने कहा कि लोग एक बार फिर इनेलो-बसपा गठबंधन के हाथों को मजबूत करने के लिए 1987 (जब इनेलो ने विधानसभा चुनाव में विरोधियों का सूपड़ा साफ कर दिया था) को दोहराएं ताकि ओम प्रकाश चौटाला एकबार फिर मुख्यमंत्री बनें। उन्होंने वादा किया कि अगर हरियाणा में इनेलो-बसपा गठबंधन फिर से सत्ता में आता है तो किसानों और कमजोर वर्गों का ऋण माफ कर दिया जाएगा।

अभय सिंह चौटाला ने आरोप लगाया कि इनेलो सतलुज-यमुना लिंक के पानी के सही हिस्से के लिए लड़ती रही है लेकिन केंद्र और हरियाणा सरकार नहर के पूरा होने के बारे में गंभीर नहीं हैं। गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री शंकर सिंह वाघेला ने भी रैली को संबोधित किया। वाघेला ने देवी लाल और उनके परिवार के साथ चार पीढ़ियों से ज्यादा वक्त से चले आ रहे अपने घनिष्ठ संबंध के बारे में बताया और कहा कि इनेलो नेता किसानों और आम आदमियों का दर्द समझते हैं। वाघेला ने ईंधन की बढ़ती कीमतों पर केंद्र को घेरा और कहा कि ढाई रुपये लीटर दाम कम करना काफी नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App