ताज़ा खबर
 

Haryana Elections 2019: कैथल में गरजे अमित शाह, कहा- 2024 से पहले सभी घुसपैठियों को फेंक देंगे देश से बाहर, वो भी चुन-चुन के

Haryana Assembly Elections 2019: अमित शाह ने कहा, ‘‘70 साल से अवैध प्रवासी इस देश में घुसपैठ कर रहे हैं और देश की सुरक्षा को कमजोर कर रहे हैं। बीजेपी और मोदी जी एनआरसी की मदद से सभी अवैध प्रवासियों को देश से बाहर फेंक देंगे।’’

Author कैथल | Updated: October 14, 2019 12:46 PM
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह , फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

हरियाणा विधानसभा चुनाव के मद्देजर प्रचार का दौर शुरू हो चुका है। ऐसे में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बुधवार (9 अक्टूबर) को कैथल पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि अगले लोकसभा चुनाव यानी 2024 से पहले सभी घुसपैठियों को देश से बाहर कर दिया जाएगा। बता दें कि शाह ने चुनावी रैली को संबोधित करते हुए एनआरसी, आर्टिकल 370 और राफेल खरीद के मुद्दों का जिक्र किया।

2024 लोकसभा चुनाव पर भी की बात: बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा, ‘‘जब हम 2024 में आपसे वोट मांगने आएंगे, उससे पहले मैं यह बताना चाहता हूं कि तब तक हम देश से हर घुसपैठिए को बाहर निकाल चुके होंगे।’’ गौरतलब है कि अमित शाह ने बुधवार को हरियाणा में 3 रैलियों कीं। उन्होंने यह भाषण कैथल में आयोजित पहली रैली में दिया। बता दे कि हरियाणा में विधानसभा चुनाव के लिए 21 अक्टूबर को मतदान होगा।

National Hindi News, 10 October 2019 Top Headlines Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

शस्त्र पूजा को लेकर कांग्रेस पर निशाना: अमित शाह ने कांग्रेस नेताओं द्वारा ‘शस्त्र पूजा’ की आलोचना को लेकर पार्टी पर निशाना साधा। बता दें कि रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को फ्रांस द्वारा भारत को लड़ाकू विमान राफेल सौंपे जाने पर ‘शस्त्र पूजा’ की थी। अमित शाह ने लोगों से पूछा, ‘‘शस्त्र पूजा परंपरा का पालन होना चाहिए या नहीं? हमें इस परंपरा को जारी रखना चाहिए या नहीं?’’

एनआरसी को लेकर कही यह बात: असम में एनआरसी को लेकर हो रहे विवाद पर उन्होंने कहा, ‘‘70 वर्षों से घुसपैठियों ने देश की सुरक्षा को चुनौती दी है। एनआरसी के जरिए बीजेपी सरकार सभी घुसपैठियों को बाहर निकालने के लिए प्रतिबद्ध है।’’ अमित शाह ने कांग्रेस और उसके स्थानीय प्रत्याशी रणदीप सुरजेवाला पर एनआरसी पर अमल के विरोध का आरोप लगाते हुए लोगों से पूछा, ‘‘घुसपैठियों को बाहर निकाला जाना चाहिए या नहीं?’’

तीन तलाक व आर्टिकल 370 का भी जिक्र: अमित शाह ने कहा, ‘‘कांग्रेस से पूछा जाना चाहिए कि वह तीन तलाक, आर्टिकल 370 और 35ए हटाने के विरोध में क्यों थे। उन्होंने एनआरसी का विरोध क्यों किया? राजनाथ जी ने फ्रांस में शस्त्र पूजा की, लेकिन कांग्रेस के लोगों को बुरा क्यों लगा।’’

राहुल गांधी पर भी साधा निशाना: बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, ‘‘कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को निरस्त करने का विरोध किया। मैं राहुल से पूछना चाहता हूं कि वह अनुच्छेद 370 के पक्ष में हैं या विरोध में। पिछली किसी भी सरकार ने जम्मू कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा समाप्त करने का साहस नहीं किया, लेकिन नरेंद्र मोदी सरकार ने सत्ता में लौटते ही संसद के पहले सत्र में यह कर दिखाया। हमें आशा की थी कि इस पर सभी पार्टियों का साथ मिलेगा, क्योंकि यह देश की सुरक्षा से जुड़ा मामला था।, लेकिन कांग्रेस बीजेपी सरकार द्वारा लिए गए हर निर्णय का विरोध करती है।’’

सुरजेवाला को भी आड़े हाथों लिया: अमित शाह ने कैथल के वर्तमान विधायक रणदीप सिंह सुरजेवाला पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘मोदी जी कुछ भी करते हैं तो सुरजेवाला को पेट दर्द होने लगता है।’’ उन्होंने कांग्रेस के भूपेंद्र सिंह हुड्डा और आईएनएलडी के ओम प्रकाश चौटाला के नेतृत्व वाली राज्य की पिछली सरकारों पर जातिगत राजनीति करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि हुड्डा और चौटाला के शासन में ‘गुंडाराज’ और ‘भ्रष्टाचार’ बढ़ा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Haryana Elections 2019: चुनाव प्रचार में धारदार फरसा लेकर जा रहे AAP नेता नवीन जयहिंद, बोले- इसकी वजह CM खट्टर