ताज़ा खबर
 

थम नहीं रही दरिंदगी, अब रोहतक में नाले से मिली बच्ची की लाश

विचलित करने वाली यह घटना टिटौली माइनर गांव की है। सबसे पहले बच्ची की लाश गांव के पास स्थित हर्बल पार्क में तैनात एक सुरक्षा गार्ड व एक अन्य शख्स ने देखी थी। रामभगत नाम के शख्स ने बताया कि घटनास्थल पर कुत्ते बैग को नोचने-फाड़ने में जुटे थे। उनको उसने भगाया और बैग देखा तो अंदर बच्ची की लाश थी।

रोहतक स्थित टिटौली गांव में इसी नाले से मिला था वह बैग, जिसमें लाश थी। (फोटोः एएनआई)

गैंगरेप की दो बड़ी घटनाओं से देश इस वक्त सदमे में है। लोग कठुआ और उन्नाव कांड से उबर भी नहीं पाए हैं कि हरियाणा के रोहतक जिले में फिर एक मासूम से दरिंदगी का मामला सामने आया है। यहां के एक गांव में नाले से एक बच्ची की लाश बरामद की गई है। बच्ची की लाश एक बैग के भीतर थी, जिसकी साल नौ से 10 साल के बीच आंकी जा रही है। आपको बता दें कि इससे ठीक पहले गुजरात में भी एक नाबालिग बच्ची का लाश मिली थी। यह मामला सूरत का था, जहां नौ साल की मासूम की लाश पर चोट के करीब 100 जख्म पाए गए थे।

विचलित करने वाली यह घटना टिटौली माइनर गांव की है। सबसे पहले बच्ची की लाश गांव के पास स्थित हर्बल पार्क में तैनात एक सुरक्षा गार्ड व एक अन्य शख्स ने देखी थी। रामभगत नाम के शख्स ने बताया कि घटनास्थल पर कुत्ते बैग को नोचने-फाड़ने में जुटे थे। उनको उसने भगाया और बैग देखा, तो अंदर बच्ची की लाश थी। लाश के बुरी तरह से सड़ जाने के कारण उससे भीषण दुर्गंध आ रही थी। बैग भी लाश फूलने के कारण बड़ा-सा नजर आ रहा था।

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नाले में पानी कम होने के कारण यह बैग वहां फंस गया था। मृतका का हाथ बैग से बाहर निकला हुआ था, जबकि उसका पंजा गायब था। ऐसे में, माना जा रहा है कि बच्ची के साथ दुराचार किया गया। लाश की स्थिति देखने से लगता है कि यह घटना चार से पांच दिन पुरानी है।

फिलहाल, पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया है। जांच अधिकारी अधिकारी देवी सिंह ने इस बारे में कहा कि जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई थी, जिसके बाद जांच-पड़ताल की गई। बच्ची की मौत का कारण अभी पता नहीं लग सका है, जबकि लाश पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दी गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App