ताज़ा खबर
 

हरियाणा CM मनोहर लाल खट्टर को भी हुआ COVID-19, विधानसभा अध्यक्ष संग 2 MLA और 6 कर्मी हैं पहले से संक्रमित

सीएम खट्टर में संक्रमण की पुष्टि तब हुई है, जब हरियाणा विधानसभा का मॉनसून सत्र दो दिन बाद शुरू होना है।

Author Edited By अभिषेक गुप्ता गुरुग्राम | Updated: August 24, 2020 7:45 PM
COVID-19, COVID19, Coronavirus, Manohar Lal Khattar, Haryana Chief Ministerहरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः प्रेमनाथ पाण्डे)

हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर भी COVID-19 से संक्रमित हो गए हैं। सोमवार को उन्होंने इस बात की ट्वीट कर जानकारी दी। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि जो भी लोग हाल-फिलहाल में मेरे संपर्क में आए हों, वे भी अपना टेस्ट करा लें। साथ ही जो मेरे करीबी हैं, वे कड़ाई के साथ क्वारंटीन में चले जाएं।

सीएम खट्टर में संक्रमण की पुष्टि तब हुई है, जब हरियाणा विधानसभा का मॉनसून सत्र दो दिन बाद शुरू होना है। इससे पहले, विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता और भाजपा के दो विधायकों की जांच में सोमवार को कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई। राज्य के गृह और स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने यह जानकारी दी।

अधिकारियों ने कहा कि विधानसभा के छह कर्मचारियों में भी संक्रमण की पुष्टि हुई है। विज ने पीटीआई-भाषा से कहा, “विधानसभा अध्यक्ष (गुप्ता) तथा विधायक असीम गोयल और राम कुमार की जांच में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है।” गुप्ता पंचकूला विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं, गोयल अंबाला शहर से और कुमार इंदरी से विधायक हैं।

विधानसभा अध्यक्ष की अनुपस्थिति में उपाध्यक्ष रणबीर गंगवा सदन की अध्यक्षता करेंगे। इससे पहले दिन की शुरुआत में गुप्ता ने ट्वीट किया कि रविवार को उनकी कोरोना वायरस जांच हुई थी, जिसमें संक्रमण की पुष्टि हुई है। उन्होंने कहा कि वह ठीक महसूस कर रहे हैं और डॉक्टरों की सलाह पर वह घर में ही पृथक-वास में रह रहे हैं।

गुप्ता ने पिछले दिनों संपर्क में आए लोगों से अपनी जांच कराने और पृथक-वास में रहने को कहा है। स्वास्थ्य मंत्री के सुझाव पर गत सप्ताह विधानसभा अध्यक्ष ने हरियाणा विधानसभा परिसर में बुधवार से शुरू होने वाले मॉनसून सत्र के दौरान प्रवेश करने वाले किसी भी व्यक्ति के लिए “कोविड-19 निगेटिव” प्रमाण पत्र दिखाना अनिवार्य कर दिया था।

सत्र शुरू होने से पहले सभी विधायकों, अध्यक्ष, मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री, मंत्री, विधानसभा के कर्मचारी और अन्य अधिकारियों को अपनी कोविड-19 की जांच करवा कर रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य है। रिपोर्ट तीन दिन से अधिक पुरानी नहीं होनी चाहिए।

इससे पहले विज ने राज्य के सभी 22 जिलों के मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिया था कि जो भी विधायक जांच करवाना चाहते हैं, उनके नमूने ले लिए जाएं। चंडीगढ़ में इसके लिए एक विशेष शिविर लगाया गया है, जहां विधानसभा और राज्य सरकार के अधिकारी, मीडिया कर्मी और विधायक अपने नमूने दे सकते हैं। (भाषा इनपुट्स के साथ)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सुपर स्पेशियलिटी के कोविड-19 वार्ड में घुस गए सुअर, वीडियो वायरल
2 कांग्रेस में कलह! राहुल का बयान बता कर कपिल सिब्‍बल ने कर दिया ट्वीट, फिर किया डिलीट
3 राहुल गांधी बोले-चिट्ठी के पीछे बीजेपी की साजिश, गुलाम नबी आजाद ने कहा- मिलीभगत साबित हुई तो इस्तीफा दे दूंगा
ये पढ़ा क्या?
X