ताज़ा खबर
 

हार्दिक पटेल की शिकायत पर सूरत जेल को नोटिस

हार्दिक पटेल ने अदालत से शिकायत की कि अधिकारी उनके पत्रों को जेल से बाहर नहीं जाने दे रहे हैं जिसके बाद प्रधान सत्र न्यायाधीश गीता गोपी ने जेल अधिकारियों को नोटिस जारी किया।

Author सूरत | March 14, 2016 11:43 PM
पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल। (पीटीआई फाइल फोटो)

सत्र अदालत ने लाजपोर जेल अधिकारियों को नोटिस देकर उनसे पूछा कि देशद्रोह के आरोप में जेल में बंद आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल की चिट्ठियों को बाहर भेजने की अनुमति क्यों नहीं दी गई। हार्दिक को नियमित प्रक्रिया के तहत अदालत में पेश किया गया। उन्होंने अदालत से शिकायत की कि अधिकारी उनके पत्रों को जेल से बाहर नहीं जाने दे रहे हैं जिसके बाद प्रधान सत्र न्यायाधीश गीता गोपी ने जेल अधिकारियों को नोटिस जारी किया।

हार्दिक के वकील यशवंतसिंह वाला ने कहा कि न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी ने उन्हें करीब साढ़े तीन महीने पहले पत्र भेजने की अनुमति दी थी। वाला ने कहा कि हार्दिक की शिकायत है कि जेल अधिकारी उन्हें चप्पल नहीं पहनने दे रहे हैं। आज उन्हें नंगे पैर अदालत लाया गया। पांच दिन पहले पुलिस ने उनसे एक पत्र, मोबाइल चार्जर और बैटरी बरामद की थी जब उन्हें जेल से एक अन्य मामले में वासनगर अदालत ले जाया जा रहा था। पुलिस ने ‘प्रतिबंधित सामान’ हासिल करने, लाने या हटाने के लिए जेल अधिनियम की धारा 43, 44 और 45 (12) के तहत हार्दिक के खिलाफ दो प्राथमिकी दर्ज की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App