ताज़ा खबर
 

बिहार सरकार के कार्यक्रम में जीतन राम मांझी! नीतीश बोले- किसी ने बताया नहीं, आप भी हैं

सीएम आमतौर पर अपने भाषण की शुरुआत में सभी प्रमुख लोगों का नाम लेते हैं। बताया जाता है कि जो लिस्ट नीतीश कुमार को दी गई उसमें हम प्रमुख मांझी का नाम नहीं था।

Mahagathbandhanबिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार। (एएनआई)

हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) प्रमुख और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी एक बार फिर सुर्खियों में हैं। पूर्व सीएम महागठबंधन से अलग होने के बाद बिहार सरकार के एक कार्यक्रम में नजर आए, जहां सीएम नीतीश कुमार ने उनकी वहां मौजूदगी पर धन्यवाद दिया। दरअसल शनिवार (23 अगस्त, 2020) को 4,855.37 करोड़ रुपए की विभिन्न बिजली परियोजनाओं का उद्घाटन करने और भाषण के दौरान नीतीश कुमार का ध्यान जीतन राम मांझी की तरफ गया।

जेडीयू प्रमुख ने तुरंत मांझी से कहा, ‘मांझी जी… आप यहीं पर हैं। मुझे किसी ने बताया नहीं कि आप यहां हैं। आप हमारे कार्यक्रम में आए इसके लिए आपको बहुत-बहुत धन्यवाद।’ नीतीश कुमार ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए हो रहा कार्यक्रम खत्म होने से ठीक पहले चौंकते हुए यह बात कही। वहां नॉर्थ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी के एमडी संदीप कुमार भी मौजूद थे, जिन्होंने भी मांझी की उपस्थिति के लिए धन्यबाद दिया।

सीएम आमतौर पर अपने भाषण की शुरुआत में सभी प्रमुख लोगों का नाम लेते हैं। बताया जाता है कि जो लिस्ट नीतीश कुमार को दी गई उसमें हम प्रमुख का नाम नहीं था। इस बीच राजनीतिक गलियारों में कयास लगाए जा रहे हैं कि बिहार विधानसभा चुनाव से ठीक पहले महागठबंधन से अलग होने वाले जीतन राम मांझी जल्द एनडीए खेमे शामिल हो सकते हैं।

इधर नीतीश कुमार ने कार्यक्रम में आरजेडी पर निशाना साधते हुए कहा कि एक समय था जब लोग घर में रोशनी करने के लिए लालटेन और दीयों का उपयोग करते थे लेकिन अब इनकी जरूरत नहीं है क्योंकि राज्य में निर्बाध बिजली आपूर्ति होती है। लालटेन मुख्य विपक्षी दल आरजेडी का चुनाव चिह्न है।

उल्लेखनीय है कि बिहार में अक्टूबर-नवंबर में विधानसभा चुनाव होने हैं और भाजपा चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के तीन-चौथाई सीटें जीतने का लक्ष्य निर्धारित किया है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव भूपेंद्र यादव एवं अन्य की उपस्थिति में इस लक्ष्य का जिक्र करते हुए प्रदेश पार्टी प्रमुख संजय जयसवाल ने राज्य में पंचायत स्तर तक के 76 लाख पार्टी कार्यर्ताओं से गठबंधन को इस आंकड़े (तीन-चौथाई सीटें) तक पहुंचाना सुनिश्चित करने की अपील की।

जयसवाल ने शनिवार को शुरू हुई राज्य कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक को संबोधित करते हुए कहा, ‘हमने बिहार में राजग के लिये तीन-चौथाई सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है। हम सुनिश्चित करेंगे कि गठबंधन इस उपलब्धि को हासिल करे।’ बिहार में राजग (एनडीए) के घटक दलों में भाजपा, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार नीत जद(यू), राम विलास पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) शामिल है। बिहार विधानसभा में 243 सीटें हैं। (एजेंसी इनपुट)

Next Stories
1 ‘भारत में तो राम-नाम से ही बैतरनी पार होगी, तिलक-तराजू वाले भी जपने लगे हैं’, विधानसभा में बोले योगी आदित्य नाथ
2 Bihar Assembly Elections 2020: RJD के 4 दलित चेहरों के जवाब में JDU ने उतारे 5 दिग्गज मंत्री, बोले- लालू राज के 40 करोड़ के मुकाबले नीतीश ने 17 अरब किया SC/ST बजट
3 हरियाणाः गुरुग्राम में गिरा निर्माणाधीन फ्लाईओवर का हिस्सा, दो लोग जख्मी
आज का राशिफल
X