ताज़ा खबर
 

हेयर ट्रांसप्लांट के बाद एलर्जी से सूज गया था गला-चेहरा, 50 घंटे के भीतर हो गई मौत

मुंबई के एक अस्पताल में बाल प्रतिरोपण कराने के करीब 50 घंटे के भीतर ही एलर्जी की वजह से 43 वर्षीय एक कारोबारी की मौत होने की खबर है।

Author March 13, 2019 6:01 PM
हेयर ट्रांसप्लांट (प्रतीकात्मक तस्वीर) फोटो सोर्स- फाइनेंसियल एक्सप्रेस

महाराष्ट्र के मुंबई से एक हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है। बताया जा रहा है कि यहां एक व्यापारी ने अपने बालों का प्रतिरोपण कराया था। लेकिन इसके कुछ ही घंटों के बाद उसकी मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक व्यापारी को बाल प्रतिरोपण के बाद सांस लेने में दिक्कत हो रही थी। बताया जा रहा है कि वे एक बार में 9000 बाल लगाना चाहते थे, जो कि चिकित्सीय परामर्श के हिसाब से सही नहीं था। फिलहाल व्यापारी की मौत के बाद क्लिनिक बंद बताया जा रहा है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बता दें कि मध्य मुंबई के एक अस्पताल में 12 घंटे तक बाल प्रतिरोपण कराने के तकरीबन 50 घंटे के भीतर ही एलर्जी की वजह से 43 वर्षीय एक कारोबारी की पिछले सप्ताह यहां मौत हो गई। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि कारोबारी की पहचान श्रवण कुमार चौधरी के रूप में हुई है। कारोबारी ने मध्य मुंबई के चिंचपोकली क्षेत्र के एक क्लीनिक में सात मार्च को बाल प्रतिरोपण कराया था। चौधरी को सांस लेने में दिक्कत और गले तथा चेहरे पर सूजन होने की वजह से एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्होंने बताया कि चौधरी की मौत नौ मार्च को एलर्जी की वजह से हो गई। व्यापारी मूल रूप से राजस्थान का रहने वाला बताया जा रहा है।

पुलिस के अनुसार कारोबारी में एनाफिलैक्सिस नाम की एलर्जी की पहचान की गई जो कि जीवन के लिए बेहद खतरनाक माना जाता है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने दुर्घटनावश मौत का मामला दर्ज किया है और आगे की जांच जारी है। इस मामले में संबंधित क्लीनिक के त्वचाविशेषज्ञ का बयान दर्ज किया गया है। बयान में उन्होंने कहा कि कारोबारी एक बार में 9000 बाल लगाना चाहते थे, जो कि चिकित्सीय परामर्श के हिसाब से सही नहीं है। इस मामले में बाल प्रतिरोपण 12 घंटे तक चला। अधिकारी ने बताया कि मौत के पीछे की वास्तविक वजह जानने के लिए पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App